Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Sonipat : खाकी के एक हत्यारे को किया जा चुका है ढेर, एक की हो चुकी गिरफ्तारी

सोनीपत के पुलिस अधीक्षक ने प्रेस वार्ता के दौरान मामले में खुलासा करते हुए कहा वारदात में छह वारदात में थे 6 बदमाश शामिल थे। पुलिस की टीमें आरोपितों को पकड़ने के लिए दबिश दे रही है।

SP Jashnadeepपुलिस अधीक्षक जश्नदीप

हरिभूमि न्यूज : सोनीपत

सोनीपत के गांव बुटाना में स्थित पुलिस चौकी से सोमवार रात बाइक लेकर गश्त पर निकले सिपाही और एसपीओ की हमलावरों ने तेजधार हथियार से गोदकर हत्या (killing) करने के मामले में पुलिस ने मुठभेड़ के बाद एक आरोपित का इनकाउंटर व एक आरोपित की पुलिस (police) गिरफ्तार कर चुकी है। बदमाशों को गिरफ्तार करने के दौरान कई पुलिस कर्मचारी भी घायल हो गए थे। जिनका रोहतक पीजीआई (Rohtak PGI) में उपचार करवाया गया। बुधवार को पुलिस अधीक्षक ने प्रेस वार्ता के दौरान मामले खुलासा करते हुए कहा वारदात को छह आरोपितों ने अंजाम दिया है। पुलिस की टीमें आरोपितों को पकड़ने के लिए दबिश दे रही है।

एसपी जश्नदीप ने बताया कि खाकी के जवानों की निर्मम हत्या करने की वारदात को अंजाम देने के वारदात में शामिल आरोपित अमित पुलिस की मुठभेड़ में मारा जा चुका है। वही पुलिस ने एक आरोपित संदीप को काबू किया है। वारदात में 4 आरोपित अभी फरार है।

मुठभेड़ में कई पुलिस कर्मचारी घायल

पुलिस अधीक्षक जश्नदीप ने बताया कि पुलिस कर्मियों की हत्या के बाद साइबर सेल व सीआईए की टीमो ने आरोपितों की पहचान कर ली थी। जिसके बाद उन्हें काबू करने के लिए टीमें पहुंची। जहाँ हमलावरों ने पुलिस की टीमों पर हमला कर दिया। मुठभेड़ में कई पुलिस कर्मचारी घायल हो गए। जबकि एक हत्यारोपित मुठभेड़ में मारा गया

अन्य आरोपितों को पकड़ने के लिए टीमें दबिश दे रही है

एसपी जश्नदीप सिंह ने कहा बुटाना चौकी क्षेत्र में रात को गश्त पर निकले दो बहादुर जवानों ने जनसुरक्षा में अपने प्राणों की आहुति दी है। वारदात को अंजाम देने में 6 हमलावर शामिल थे। जिसमें एक मुठभेड़ में मारा गया है। वही एक को गिरफ्तार कर लिया है। अन्य आरोपितों को पकड़ने के लिए पुलिस की टीमें दबिश दे रही है। जल्द आरोपित पुलिस गिरफ्त में होंगे।

शराब पीने से रोका तो कर दी थी हत्या

प्रेस वार्ता में एसपी ने बताया कि गश्त के दौरान पुलिस कर्मियो ने शराब पीते हुए युवको को देखा। उसी दौरान गश्त कर रहे पुलिस कर्मियों ने वहाँ से जाने के लिए कहा। युवक तेश में आ गए जिसके बाद पुलिस कर्मियों के ऊपर चाकू से हमला कर बेरहमी से मौत के घाट उतार दिया।

यह है मामला

बता दे कि गोहाना-जींद मार्ग पर स्थित बुटाना चौकी में तैनात सिपाही जींद के बुढ़ा खेड़ा का रवींद्र (30) और एसपीओ जींद के ही कलावती गांव का कप्तान सिंह (42) सोमवार रात को करीब 12 बजे चौकी से बाइक लेकर गश्त के लिए निकले थे। उसके बाद वह वापस नहीं लौटे। मंगलवार तड़के करीब पांच बजे लोगों ने दोनों के शव चौकी से करीब 500 मीटर दूर बंद हरियाली सेंटर के निकट खून से लथपथ हालत में पड़े देखे। रविंद्र का शव सड़क पर बाइक के पास पड़ा था तो कप्तान का शव उसे आगे सड़क किनारे कच्चे में पड़ा था। लोगों ने मामले से बुटाना चौकी पुलिस को अवगत कराया। जिस पर बुटाना चौकी प्रभारी संजय टीम के साथ मौके पर पहुंचे और जांच की। दो पुलिस जवानों की निर्मम हत्या की सूचना के बाद विभाग में भी हड़कंप मच गया। जिसके बाद एएसपी उदय सिंह मीणा, डीएसपी सीआईडी अजीत सिंह व राहुल देव तथा बरोदा थाना प्रभारी बदन सिंह ने भी घटनास्थल का निरीक्षण किया। एसपी जश्नदीप सिंह रंधावा व एडीजीपी व आईजी रोहतक रेंज संदीप खिरवार ने घटनास्थल पर जाकर जांच की। डीजीपी मनोज यादव भी घटनास्थल पर पहुंचे थे। पुलिस ने डॉग स्वायड और एफएसएल की टीम को मौके पर बुलाकर सबूत जुटाए। पुलिस को सड़क पर बिखरे खून में चार पहिया वाहन के टायर के निशान मिले थे। जिससे शक जताया जा रहा है कि हमलावर चार पहिया वाहन में सवार थे। साथ ही घटनास्थल के पास पुलिस ने शराब की बोतल, पानी व अन्य सामान भी पड़ा मिला है। जवानों के सिर, पीठ व छाती पर तेजधार हथियार के कई निशान मिले है। जिस तरह वारदात को अंजाम दिया गया है उससे लगता है कि हमलावर 6 से ज्यादा होने का शक जाहिर किया था।उसके बाद शवों को पोस्टमार्टम के लिए सोनीपत सामान्य अस्पताल में भिजवाया गया। जहां पोस्टमार्टम कराया गया। पोस्टमार्टम में तेजधार हथियार से वारदात को अंजाम देने की पुष्टि हुई है।




Next Story
Top