Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

परीक्षा से एक दिन पहले महिला परीक्षार्थी के वाट‍्सएप पर भेजी थी आंसर की, एक पुलिसकर्मी भी शामिल

जवान मेवात में तैनात बताया जा रहा है। जिसकी धर पकड़ के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है। आंसर की के साथ पकड़ी गई परीक्षार्थी को पुलिस ने अदालत में पेश किया।

परीक्षा से एक दिन पहले महिला परीक्षार्थी के वाट‍्सएप पर भेजी थी आंसर की, एक पुलिसकर्मी भी शामिल
X

हरिभूमि न्यूज. जींद। बाल आश्रम स्कूल में ग्राम सचिव परीक्षा के दौरान आंसर की के साथ पकड़ी गई परीक्षार्थी के मामले में एक पुलिस जवान का नाम भी सामने आया है। जिसके व्हाटसअप से आंसर की भेजी गई थी।

जवान मेवात में तैनात बताया जा रहा है। जिसकी धर पकड़ के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है। आंसर की के साथ पकड़ी गई परीक्षार्थी को पुलिस ने अदालत में पेश किया। जहां से अदालत ने परीक्षार्थी को एक दिन के रिमांड पर पुलिस को सौंप दिया। रिमांड के दौरान परीक्षार्थी से आंसर की से संबंधित तथ्यों व जुड़े तारों के बारे में पूछताछ की जाएगी।

अजमेर बस्ती स्थित बाल आश्रम हाई स्कूल में रविवार को सायं कालीन स्तर में हरियाणा स्टाफ सलैक्शन कमीशन द्वार आयोजित ग्राम सचिव परीक्षा में गांव हाट निवासी सीमा को उड़न दस्ते ने आंसर की पर्ची के साथ पकड़ा था। शहर थाना पुलिस ने परीक्षा केंद्र अधीक्षक सोहनलाल की शिकायत पर सीमा तथा विनय के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया था। पुलिस छानबीन के दौरान सामने आया कि आंसर की विनय ने व्हाटसअप के माध्यम से सीमा के पास भेजा था।

विनय हरियाणा पुलिस का जवान बताया जा रहा है जो मेवात में डयूटीरत है। सीमा ने लगभग 30 प्रश्नों के उत्तर ओएमआर सीट पर भरे थे। जिसमे से कुछ प्रश्नों के उत्तर भी ठीक हैं। हालांकि अब तक यह खुलासा नहीं हो पाया है कि जो आंसर की सीमा के पास से बरामद हुई है वह आंसर की सही है या नहीं है। शुरु में सीमा हरियाणा स्टाफ सलैक्शन कमीशन के कर्मियों के साथ-साथ पुलिस को भी आंसर की के बारे में गुमराह करती रही।

कभी वह खुद ही अपनी मर्जी से पर्ची पर की लिखने की बात करती रही तो कभी पारिवारिक हालातों का हवाला दे अधिकारियों को पिंगलाने की कोशिश की। पुलिस पूछताछ में सीमा ने बताया कि उसे आंसर की शनिवार को मिली थी, जबकि उसकी परीक्षा रविवार को सायं कालीन सत्र में थी।

पुलिस ने जब सीमा के मोबाइल को कब्जे में लिया तो सामने आया कि विनय नाम के व्यक्ति ने व्हाटसअप से की को भेजा था। अब सवाल यह उठता है कि अगर सीमा को पहले दिन आंसर की मिली है तो उसे याद करने की बजाए पर्ची लेकर परीक्षा केंद्र में जाने का रिस्क क्यों लिया। विनय ने सीमा के पास की भेजी है तो वह कहां तक सही है। पुलिस ने विनय की धर पकड़ के लिए दो पुलिस टीमों का गठन किया है। जो धर पकड़ के लिए छापेमारी कर रही है।

डीएसपी जितेंद्र खटकड ने बताया कि आरोपित परीक्षार्थी को एक दिन के रिमांड पर लिया गया है। जिस व्यक्ति ने व्हाटसअप से की भेजी उसकी धर पकड़ के लिए दो पुलिस टीमें छापेमारी कर रही है। आंसर की सही है या नहीं इसका अभी तक खुलासा नहीं हो पाया है। फिर भी विभिन्न एंगलों को ध्यान में रखकर मामले की जांच की जा रही है।



Next Story