Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Haryana में कोरोना के 3440 नए केस, टीका उत्सव में 1,13917 लोगों को वैक्सीन खुराक दी गई

स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव अरोड़ा ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग ने रविवार को 1,13,917 कोविड -19 वैक्सीन की खुराक दी हैं, जिससे टीके की खुराक की संख्या बढक़र 24,69,233 हो गई है।

कोरोना खतरनाक स्तर पर, ल
X

कोरोना खतरनाक स्तर पर, 

Haribhoomi : हरियाणा में कोविड-19 वायरस की दूसरी लहर ने रफ्तार पकड़नी शुरू कर दी, जिससे स्वास्थ्य विभाग के में माथे पर चिंता की लकीरें भी दिखाई देने लगी हैं। रविवार को प्रदेशभर में रिकॉर्ड केस तीन हजार से अधिक मिले है। संख्या की बात करें तो स्वास्थ्य विभाग ने रविवार को 3440 मामलों की पुष्टि की है। वहीं 1896 मरीजों ने रिकवरी की है। जबकि 16 लोग कोरोना संक्रमण का शिकार बनें हैं। एक बार फिर गुरुग्राम जिले में रिकॉर्ड 1084 पॉजिटव केस मिले हैं। फरीदाबाद में भी 445 केस मिले। वहीं सोनीपत जिले में आज तक का रिकॉर्ड तोड़ते हुए 230 नए मामलों की पुष्टि की गई है। इससे पहले जिले में 11 सितंबर को 213 केस मिले थे। रविवार को प्रदेश में 34856 लोगों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए। कोविड की पॉजिटिविटी दर 4.82% रही। जबकि िरकवरी दर 92.35% रही। प्रदेश में टीका उत्सव के तहत चले अभियान में 1627 केंद्रों पर 113917 लाभार्थियों को वैक्सीन की खुराक दी गई है, जिससे टीके की खुराक की संख्या बढक़र 24,69,233 हो गई है।

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) की अपील पर 11 अप्रैल से 14 अप्रैल, 2021 तक ''टीका उत्सव'' के तहत टीकाकरण के अभियान को आगे बढ़ाते हुए हरियाणा स्वास्थ्य विभाग (Haryana Health Department) ने 1627 कोविड-19 टीकाकरण केंद्र स्थापित किए, जिनमें आज राज्य के लाभार्थियों को 1,13917 वैक्सीन खुराक दी गई।

इस संबंध में जानकारी देते हुए स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव अरोड़ा ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग ने आज 1,13,917 कोविड -19 वैक्सीन की खुराक दी हैं, जिससे टीके की खुराक की संख्या बढक़र 24,69,233 हो गई है।

कोविड-19 वैक्सीन रोल आउट के बारे में अरोड़ा ने कहा कि, यह सुनिश्चित करने के उद्देश्य से कि यह टीका अधिकतम लोगों को दिया जाए , विभाग ने राज्य भर में अधिक टीकाकरण केंद्र स्थापित किए हैं। उन्होंने विस्तार से बताया कि इन केंद्रों को रणनीतिक रूप से राज्य भर के अत्यधिक आबादी वाले क्षेत्रों में स्थापित किया गया है। इसके अलावा, यहां तक कि ग्रामीण क्षेत्रों में भी टीका की अधिकतम पहुंच सुनिश्चित करने के लिए इन केंद्रों को स्थापित किया गया है ताकि अत्यधिक संक्रामक कोविड-19 वायरस के प्रसार को रोका जा सके। उन्होंने बताया कि अधिकांश लाभार्थियों की आयु 45 वर्ष से अधिक थी।

स्वास्थ्य देखभाल श्रमिकों (एच सी डब्ल्यू), फ्रंटलाइन वर्कर्स (एफ एल डब्ल्यू) और अन्य के टीकाकरण के बारे में अरोड़ा ने कहा कि 191251 हेल्थ केयर वर्कर्स (एच सी डब्ल्यू) को कोविड-19 वैक्सीन की पहली खुराक दी गई है और लगभग 117123 हेल्थ केयर वर्कर्स (एच सी डब्ल्यू) को दूसरी खुराक दी गई है। फ्रंटलाइन वर्कर्स (एफएलडब्ल्यू) के विवरण को साझा करते हुए उन्होंने कहा कि 122226 एफएलडब्ल्यू को वैक्सीन की पहली खुराक और 47446 एफएलडब्ल्यू को दूसरी खुराक दी गई है। इसके अलावा, लगभग 19,90,399 लाख वैक्सीन की खुराक 45 साल से ऊपर के लाभार्थियों को आज तक दी गई है।

Next Story