Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कर्ज उतारने को दोस्त के साथ मिल रची साजिश, BMW कार चोरी होने की झूठी कहानी बना पुलिस को दौड़ाया

गुरुग्राम के गांव नैनवाल निवासी कम्प्यूटर रिपेयर करने वाले देवेंद्र ने अपना कर्ज उतारने के लिए दोस्त के साथ साजिश रची तथा मॉउल टाउन से अपनी बीएमडब्ल्यू कार चोरी होने की झूठी कहानी बताकर पुलिस को दौड़ाया। गुरुग्राम के पास चोरी हुई कार के साथ मिले दोस्त ने पुलिस पूछताछ में देवेंद्र की कहानी से पर्दा उठा दिया।

कर्ज उतारने को दोस्त के साथ मिल रची साजिश, BMW कार चोरी होने की झूठी कहानी बना पुलिस को दौड़ाया
X

बीएमउब्ल्यू कार के साथ आरोपित।

हरिभूमि न्यूज, रेवाड़ी

गुरुग्राम के गांव नैनवाल निवासी कम्प्यूटर रिपेयर करने वाले देवेंद्र ने अपना कर्ज उतारने के लिए दोस्त के साथ साजिश रची तथा मॉउल टाउन से अपनी बीएमडब्ल्यू कार चोरी होने की झूठी कहानी बताकर पुलिस को दौड़ाया। गुरुग्राम के पास चोरी हुई कार के साथ मिले दोस्त ने पुलिस पूछताछ में देवेंद्र की कहानी से पर्दा उठा दिया। जिसके बाद पुलिस ने दोनों आरोपितों को गिरफ्तार कर राहत की सांस ली।

देवेंद्र ने पुलिस को बताया कि मंगलवार को अल्ट्रासाउंड करवाने के लिए रेवाड़ी के मॉडल टाउन आया। अल्ट्रासाउंड केंद्र के बाहर अपनी बीएमडब्ल्यू कार खड़ी कर वह अंदर चला गया तथा कुछ समय बाद जब पर्ची कटवाकर बाहर आया तो बीएमडल्ब्यू गायब मिली। बीएमडब्ल्यू चोरी की सूचना से पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया तथा कार की तलाश शुरू की। भीड़भाड़ वाले समय में बीएमडब्ल्यू चोरी की कहानी शुरू से ही पुलिस को हजम नहीं हो रही थी, परंतु गुरुग्राम के पास रवि को कार के साथ पकड़ लिया। पुलिस पूछताछ में रवि ने पुलिस के सामने पूरी कहानी बता दी। जिसके बाद पुलिस ने रवि के साथ उसके दोस्त व बीएमडब्यू चोरी की झूठी कहानी बताने वाले देवेंद्र को भी हिरासत में लेकर पूछताछ की तो पूरी कहानी से पर्दा उठ गया।

इंश्योरेंस क्लेम लेने के लिए रची साजिश

पुलिस पूछताछ में पत्ता चला कि देवेंद्र कर्ज से परेशान था। जिसके लिए उसने रवि के साथ मिलकर बीएमडब्यू चोरी की साजिश रची तथा रेवाड़ी पहुंचने के बाद खुद अपनी कार रवि को सौंपकर पुलिस को चोरी की झूठी सूचना दी दे। ताकि गाड़ी चोरी के बाद मिलने वाली इंश्योरेंस राशि से कर्ज उतारा जा सके।

ऐसे हुआ शक

बीएमडब्ल्यू चोरी की कहानी का समय और स्थान चुनने में देवेंद्र चूक गया। देंवेंद्र ने जो कहानी बताई वह बाजार में भीड़भाड़ के कारण पुलिस को पूरी तरह से हजम नहीं हो रही थी। पुलिस ने नाकेबंदी कर चोरी हुई कार को गुरुग्राम के खलीपुर गांव के पास से कार को रवि के साथ बरामद कर लिया। पुलिस पूछताछ में रवि ने पूरी कहानी बयां कर देवेंद्र द्वारा रची गई साजिश का पर्दाफाश कर कर दिया।


Next Story