Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

100 पीपा घी बरामद, नकली या मिलावटी, सैंपल जांच के लिए लेबोरेटरी भेजे

सूचना के आधार पर पुलिस ने मौके पर पहुंच कर छापेमारी की और गाड़ी को 00 पीपे राग वनस्पति घी सहित कब्जे में ले लिया।

100 पीपा घी बरामद, नकली या मिलावटी, सैंपल जांच के लिए लेबोरेटरी भेजे
X

गाड़ी में लाए गए घी के पीपे।

हरिभूमि न्यूज. जींद

शहर थाना पुलिस ने इंद्रा बाजार में शुक्रवार शाम को दबिश देकर एक गाड़ी से 100 पीपे घी के बरामद किए हैं। यह घी नकली है या मिलावटी है, इसे लेकर जांच की जा रही है। खाद्य सुरक्षा अधिकारी की टीम ने मौके पर पहुंच कर घी के सैंपल लेकर जांच के लिए लैबोरेटरी भेज दिए हैं। पुलिस ने इस मामले में कंपनी के अधिकारियों की शिकायत पर कॉपीराइट एक्ट, ट्रेड मार्क एक्ट, धोखाधड़ी सहित विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

शहर थाना पुलिस को सूचना मिली थी कि इंद्रा मार्केट में कुछ व्यापारी राग कंपनी के नाम से नकली वनस्पति घी बेच रहे हैं। शुक्रवार को एक गाड़ी टाटा एस आई है, जिसमें लगभग 100 पीपा वनस्पति घी राग के भरे हुए हैं। सूचना के आधार पर पुलिस ने मौके पर पहुंच कर छापेमारी की और गाड़ी को 100 पीपे राग वनस्पति घी सहित कब्जे में ले लिया। पुलिस द्वारा एफएसओ हर्ष कुमारी को मामले की सूचना दी और प्रत्येक पीपे से घी के सैंपल लेकर जांच के लिए लैबोरेटरी भेज दिए। जांच रिपोर्ट आने के बाद ही पता चलेगा कि इन पीपों में घी असली थी या नकली। उसी आधार पर आगामी कार्रवाई की जाएगी। वहीं इस मामले में नवरंगपुरा रेलवे क्रॉसिंग अहमदाबाद सिटी निवासी आशीष गुप्ता की शिकायत पर अज्ञात के खिलाफ कापीराइट एक्ट 1957 की धारा 51, 63, 65, ट्रेड मार्क एक्ट 1999 की धारा 103, 104, सहित धोखाधड़ी व अन्य धाराओं के तहत केस दर्ज किया है।

बरवाला से लाया गया था घी

जांच में सामने आया है कि 100 पीपे घी को बरवाला से जींद के इंद्रा बाजार स्थित बेबी करियाणा स्टोर पर उतारे जाने के लिए लाया गया था। इस बारे में पहले ही सूचना शहर थाना पुलिस को मिल गई और पुलिस ने घी को अपने कब्जे में ले लिया। वही जब पुलिस ने इस मामले में गाड़ी के चालक से घी का बिल मांगा तो वह नहीं दिखा सका। इसके बाद पुलिस गाड़ी व ड्राइवर को थाने में ले आई। फिलहाल सारा सामान थाने में ही रखा गया है। ड्राइवर से पूछताछ की जा रही है।

जांच के लिए भेजा : एफएसओ

एफएसओ डा. हर्ष कुमारी ने बताया कि करियाणा स्टोर पर घी उतरने से पहले ही पुलिस ने पकड़ लिया था। इसके बाद उनकी टीम ने शहर थाना में जाकर घी के सैंपल लिए और उन्हें जांच के लिए चंडीगढ़ लैब में भेज दिया गया है। रिपोर्ट आने के बाद यह पता चल पाएगा कि पीपों में घी असली है या नकी। जांच रिपोर्ट के बाद आगामी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

Next Story