Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कनाडा में बैठे बदमाश के कहने पर यूथ कांग्रेस के नेता की हत्या, 3 गिरफ्तार

पंजाब के फरीदकोट में यूथ कांग्रेस के नेता गुरलाल भलवान की हत्या मामले में स्पेशल सेल ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपियों के नाम गुरविंद्र पाल उर्फ गोरा सुखविंदर उर्फ सन्नी डिलोन और सौरभ वर्मा है। तीनों आरोपी फरीदकोट के रहने वाले हैं।

नाबालिग की हत्या के मामले में तीन गिरफ्तार, बहन से छेड़छाड़ होने पर किया था विरोध
X

नाबालिग की हत्या के मामले में तीन गिरफ्तार

पंजाब के फरीदकोट में यूथ कांग्रेस के नेता गुरलाल भलवान की हत्या मामले में स्पेशल सेल ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपियों के नाम गुरविंद्र पाल उर्फ गोरा (32), सुखविंदर उर्फ सन्नी डिलोन (23) और सौरभ वर्मा (21) है। तीनों आरोपी फरीदकोट के रहने वाले हैं।

आरोपियों ने गत 18 फरवरी को कांग्रेस नेता को गोलियों से भून दिया था। वारदात के बाद पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अरमिंदर सिंह ने ट्वीट कर दुख व्यक्त किया था और पुलिस को निर्देश दिया था कि आरोपियों को जल्द गिरफ्तार किया जाए। पुलिस की माने तो गुरलाल भलवान की हत्या की साजिश कनाडा में रची गई थी। पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर मामले की जांच कर रही है।

स्पेशल सेल (डीसीपी) मनीषी चंद्रा ने बताया कि स्पेशल सेल की टीम को सूचना मिली कि यूथ कांग्रेस के नेता गुरलाल भलवान की हत्या के तीन आरोपी सराय काले खां में आने वाले है। सूचना मिलते ही टीम ने मौके पर पहुंचकर अपना जाल बिछा लिया और आरोपियों को मौके पर आते ही दबोच लिया। जांच में पुलिस को पता चला कि आरोपी यहां से यूपी में भागने की फिराक में थे।

पूछताछ के दौरान आरोपियों ने पुलिस को बताया कि उन्होंने कनाडा से निर्देश मिलने के बाद दो शार्प शूटर के साथ मिलकर वारदात को अंजाम दिया था। वारदात को अंजाम देने के बाद सभी आरोपी मौके से फरार हो गए। आरोपी हरियाणा में साथ-साथ थे लेकिन दिल्ली आने से पहले अलग हो गए थे।

बदमाश गोल्डी बरार के कहने पर की हत्या

जांच के दौरान आरोपियों ने पुलिस को बताया कि उन्होंने कनाडा में बैठे बदमाश गोल्डी बरार ने निर्देश और पंजाब के गैंगेस्टर लॉरेंस विश्नोई की मदद से हत्या की। उन्होंने रैकी कर वारदात को अंजाम दिया था। फिलहाल लॉरेंस विश्नोई अजमेर जेल में बंद है।

जुबली चौक पर दिया था वारदात को अंजाम

बता दे कि गत 18 फरवरी को यूथ कांग्रेस के नेता गुरलाल भलवान अपने दोस्त से मिलने के लिए उनकी दुकान पर जुबली चौक, फरीदकोट गए थे। दुकान से बाहर निकलने के बाद वह कार के पास पहुंचे। इसी दौरान दोनों बदमाशों ने उन पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दी और वह मौके से फरार हो गए। घटना सीसीटीवी में भी कैंद हुई है।

सिंघु बॉर्डर व जंतर-मंतर पर करना चाहते थे हत्या

पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि वे किसान आंदोलन के दौरान सिंघु बॉर्डर और जंतर-मंतर पर नेता गुरलाल भलवान की उस वक्त हत्या करना चाहते थे। जब वह युवा नेता पार्टी का हिस्सा बनने के लिए दिल्ली आए थे। लेकिन कड़ी सुरक्षा व्यवस्था होने की वजह से वह वारदात को अंजाम नहीं दे पाए।

भाई का बदला लेने के लिए कराई हत्या

जांच में पुलिस को पता चला है कि पिछले वर्ष गोल्डी बरार के चचेरे भाई गुरलाल बरार की हत्या गैंगवार में हुई थी। इस हत्या का बदला लेने के लिए गोल्डी बरार गुरलाल भलवान की हत्या करना चाहता था। आरोपी गुरविंदर पाल गोल्डी और गुरलाल बरार के बहनोई हैं। युवा नेता कांग्रेस के संसद घेराव के वक्त जब दिल्ली आए थे तब भी ये आरोपी उनका पीछा कर रहे थे।

शॉर्प शूटरों की हुई पहचान

पूछताछ के बाद पुलिस ने वारदात में शामिल दोनों शार्प-शूटरों की पहचान कर ली है। शूटरों को संदीप उर्फ काला ने भेजा था। संदीप पर सात लाख रूपए का इनाम घोषित है। वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी झुंझुनू सालासर और झज्जर पहुंचे जहां से पांच दो गुटों में बंट गए। उसके बाद दिल्ली के सराय कालें खा पहुंचे जहां से टीम ने इन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

Next Story