Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Video: यति नरसिंहानंद महाराज उतरे नूपुर शर्मा के समर्थन में, जामा मस्जिद जाकर मिलेंगे मौलवियों से...दिखाएंगे किताबें

पैगंबर मोहम्मद पर टिप्पणी के मामले में बीजेपी सस्पेंड नूपुर शर्मा(BJP Suspend Nupur Sharma) के समर्थन में साध्वी प्राची(Sandhvi Prachi) के बाद स्वामी यति नरसिंहानंद गिरि महाराज भी आ गए है। ये गाजियाबाद के डासना देवी मंदिर के महंत एवं श्रीपंचदशनाम जूना अखाड़ा के महामंडलेश्वर हैं। उन्होंने नूपुर शर्मा का समर्थन करते हुए दिल्ली की जामा मस्जिद जाने का ऐलान कर दिया है।

Video: यति नरसिंहानंद महाराज उतरे नूपुर शर्मा के समर्थन में, जामा मस्जिद जाकर मिलेंगे मौलवियों से...दिखाएंगे किताबें
X

पैगंबर मोहम्मद पर टिप्पणी के मामले में बीजेपी सस्पेंड नूपुर शर्मा(BJP Suspend Nupur Sharma) के समर्थन में साध्वी प्राची(Sandhvi Prachi) के बाद स्वामी यति नरसिंहानंद गिरि महाराज भी आ गए है। ये गाजियाबाद के डासना देवी मंदिर के महंत एवं श्रीपंचदशनाम जूना अखाड़ा के महामंडलेश्वर हैं। उन्होंने नूपुर शर्मा का समर्थन करते हुए दिल्ली की जामा मस्जिद जाने का ऐलान कर दिया है। स्वामी यति नरसिंहानंद सरस्वती महाराज ने कहा कि मुसलमानों की किताबों को लेकर जाऊंगा।

श्रीपंचदशनाम जूना अखाड़ा के महामंडलेश्वर यति नरसिंहानंद सरस्वती ने कहा कि 'अगले शुकव्रार 17 जून 2022 को मुस्लिमों की तरफ से लिखी गई इस्लामिक किताबों को लेकर दिल्ली के जामा मस्जिद जाऊंगा। उस दिन वहां बड़े—बड़े मौलाना और लाखों लोग नमाज के लिए लोग इक्ट्ठा होते है। मैं वहां उन लोगों दिखाना चाहता हूं कि जिन बातों के लिए तन सिर से जुदा का फतवा देते है, वो सारी बातें इस्लामिक किताबों में लिखी हुई है, भारत के कायर नेताओं की वजह से आज यह हमारी दुर्दाशा हो रही है।' उन्होंने समर्थन करते हुए कहा कि 'नूपुर शर्मा ने जो भी कहा वह गलत नहीं कहा। क्योंकि कुरान और इस्लाम की पुस्तकों में यह सब लिखा है। इसलिए नूपुर शर्मा ने सही कहा है।:




साध्वी प्राची ने किया था समर्थन

साध्वी प्राची ने भी सोमवार को नूपुर शर्मा का समर्थन किया था। उन्होंने कहा कि सनातन समाज नूपुर शर्मा के साथ है और मैं भी। वहीं, उन्होंने नवीन जिंदल के समर्थन में भी खड़े होने की बात कही हैं। उन्होंने कहा कि ओवैसी(Asaduddin Owaisi) को गिरफ्तार करके दिखाओ। वह फूल नहीं बरसा रहा है। बरेली के तौकीर रजा ने खुलेआम धमकी दी है। 100 करोड़ को खुलेआम धमकी दी है।

नूपुर ने दिया दिया था बयान

कानपुर हिंसा मामले में नूपुर शर्मा के एक बयान को माना जा रहा है। जिसके बाद एक्शन में आई बीजेपी ने उनकी छह साल पुरानी सदस्यता को सस्पेंड कर दिया था। नूपुर शर्मा ने एक टीवी डिबेट के दौरान पैगंबर मोहम्मद पर एक विवादित टिप्पणी की थी। आरोप है कि उनके बयान के बाद कानपुर में हिंसा भड़क गई थी। विरोध इस कदर हुआ कि यह हिंसा में बदल गया। नूपुर शर्मा के खिलाफ धार्मिक भावनाओं को आहत करने, दूसरे धर्म के खिलाफ टिप्पणी करने के आरोप में मुकदमा दर्ज हुआ है।

और पढ़ें
Next Story