Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

गजियाबाद में महिला ने अपने दो बच्चों के साथ की आत्महत्या, साथ ही पढ़ें नोएडा की टॉप न्यूज

मृतिका का नाम प्रिया बताया जा रहा है। जिसके चार साल की बेटी और 40 दिन का बेटा था। जानकारी के मुताबिक, प्रिया अपने दो बच्चों और पति अमित के साथ घर में रहती थी। घटना के बाद जब अमित घर पहुंचे तो उन्होंने कमरे में पत्नी और बच्चों को मृत अवस्था में पाया।

गजियाबाद में महिला ने अपने दो बच्चों के साथ की आत्महत्या, साथ ही पढ़ें नोएडा की टॉप न्यूज
X

Ghaziabad suicide गाजियाबाद में तीन लोगों आत्महत्या से इलाके में सनसनी फैल गई है। उत्तरांचल विहार कॉलोनी में एक महिला (Woman Commits Suicide) ने बेटे और बेटी के साथ फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। सूचना मिलते ही पुलिस (Ghaziabad Police) मौके पर पहुंच गई है, जिसके बाद पुलिस ने तीनों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। वहीं मामले में रिपोर्ट दर्ज कार्रवाई में जुट गई है। लेकिन घटना के कारणों का अभी पता नहीं चल पाया है। मृतिका का नाम प्रिया बताया जा रहा है। जिसके चार साल की बेटी और 40 दिन का बेटा था। जानकारी के मुताबिक, प्रिया अपने दो बच्चों और पति अमित के साथ घर में रहती थी। घटना के बाद जब अमित घर पहुंचे तो उन्होंने कमरे में पत्नी और बच्चों को मृत अवस्था में पाया। उन्होंने तुरंत ऑटो से ले जाकर तीनों को जीटीबी अस्पताल में भर्ती कराया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

फर्जी टेलीफोन एक्सचेंज का पर्दाफाश, दो संचालक गिरफ्तार

ग्रेटर नोएडा में फर्जी टेलीफोन एक्सचेंज का पर्दाफाश किया गया है। यहां पुलिस टीम ने इस चलाने वाले दो संचालकों को गिरफ्तार किया है। इनके पास से लैपटॉप, मोबाइल, राउटर, डी लिंक स्विच आदि उपकरण बरामद हुए हैं। पुलिस ने आरोपियों को रविवार को न्यायालय में पेश किया। जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया। आरोपी अंतरराष्ट्रीय वीओआईपी कॉल्स को सामान्य वॉयस कॉल में बदलकर देश को नुकसान पहुंचा रहे थे। पुलिस के आतंकवाद निरोधक दस्ते की टीम को पिछले काफी दिनों से सूचना मिल रही थी कि नोएडा में फर्जी टेलीफोन एक्सचेंज बनाकर भारतीय अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचाया जा रहा है। इस सूचना के आधार पर एटीएस टीम, टेलीकॉम विभाग और नोएडा पुलिस ने शनिवार देर रात ग्रेटर नोएडा के एनपीएक्स मॉल की छठी मंजिल पर ऑल सोल्यूशन सर्विस के नाम से चल रहे अवैध टेलीफोन एक्सचेंज का खुलासा किया।

सबसे बड़ी चोरी के मास्टरमाइंड खोलेगा राज, पुलिस ने कोर्ट में दी अर्जी

नोएडा में सबसे बड़ी चोरी के मास्टरमाइंड गोपाल को रिमांड पर लेने के लिए पुलिस ने कोर्ट में अर्जी दाखिल कर दी है जिस पर 22 जुलाई को दिल्ली की अदालत में सुनवाई होनी है। उम्मीद है कि उसी दिन गोपाल का रिमांड स्वीकृत हो जाएगा और पुलिस उससे पूछताछ करेगी। इस पूछताछ के दौरान सबसे बड़ी चोरी के अनेक राज खुलेंगे। ग्रेटर नोएडा के सिल्वर सिटी-2 सोसाइटी के फ्लैट नंबर-301 से अगस्त में चोरों ने 36 किलो सोना और छह करोड़ से अधिक की नकदी चोरी की थी। इस चोरी की साजिश गोपाल ने तैयार की थी। उसे फ्लैट में रखे माल की सूचना किशलय पांडे के कार चालक ने दी थी। इस चोरी का खुलासा 11 जून को पुलिस ने छह आरोपियों को पकड़कर किया था। चोरी के मामले में पुलिस अभी तक करीब 17 किलो सोने और 57 लाख रुपये की नकदी समेत करीब दस करोड़ कीमत के माल को बरामद कर चुकी है।

कोरोना से बचाने के लिए बच्चों का 100 बेड का वार्ड तैयार

ग्रेटर नोएडा में कोरोना की तीसरी लहर में बच्चों को सबसे ज्यादा खतरा है। इससे निपटने के लिए जिले में तैयारियां जोरों पर चल रही हैं। कासना स्थित जिम्स में भी इसके लिए बच्चों का 100 बेड का वार्ड तैयार कर हो गया है। प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा आलोक कुमार ने रविवार को इसका जायजा लिया। तीसरी लहर की आशंका के मद्देनजर आलोक कुमार ने जिम्स का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने निदेशक ब्रिगेडियर डॉक्टर राकेश गुप्ता (रिटायर्ड), सीएमएस डॉक्टर सौरभ श्रीवास्तव, डीन डॉक्टर रंभा पाठक, डॉक्टर शिखा सेठ, प्रशासनिक अधिकारी डॉक्टर अनुराग श्रीवास्तव आदि के साथ बैठक की और बच्चों के संक्रमित होने पर कैसे निपटा जाएगा, इसकी पूरी जानकारी ली।

वन विभाग ने फंसी बिल्ली को बचाया गया

गाजियाबाद के सिद्धार्थ विहार की गंगा यमुना हिंडन अपार्टमेंट में रविवार सुबह एक बिल्ली डीजी सेट के एक छेद में फंस गई। आरडब्ल्यूए पदाधिकारियों ने मौके से पुलिस, वन विभाग व एनडीआरएफ को भी सूचना दी। आरोप है कि एनडीआरएफ और वन विभाग से मदद नहीं मिली। पुलिस ने काफी मशक्कत की। मगर सफलता नहीं मिली। आरडब्ल्यूए ने कटर की मदद से छेद को काटकर बिल्ली को बाहर निकाला। अपार्टमेंट में आरडब्ल्यूए अध्यक्ष यतेंद्र नागर ने बताया कि सुबह करीब सात बजे एक बिल्लीदो हजार केवीए के डीजी सेट के छेद में फंस गई। गार्ड नाहर सिंह ने बिल्ली के रोने की आवाज सुनकर उन्हें सूचना दी।

Next Story