Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

उत्तराखंड त्रासदी से दिल्ली की बढ़ी मुसीबतें! राघव चड्ढा ने जल संकट को लेकर दी ये महत्वपूर्ण जानकारी

उत्तराखंड के चमोली (Uttarakhand Tragedy) में आई आपदा के कारण दिल्ली में जल संकट (Delhi Water Supply) खड़ा हो गया है। क्योंकि इस आपदा के कारण गंगा का पानी (Ganga Water) दिल्ली पहुंच रहा। जिसके कारण गंगा के पानी से दिल्ली के भागीरथी वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट (Bhagirathi Water Treatment Plant) में लाखों लीटर पानी प्रदूषित (Polluted) हो गया है।

उत्तराखंड त्रासदी से दिल्ली की बढ़ी मुसीबतें! राघव चड्ढा ने जल संकट को लेकर दी ये महत्वपूर्ण जानकारी
X

उत्तराखंड त्रासदी से दिल्ली की बढ़ी मुसीबतें! 

उत्तराखंड के चमोली (Uttarakhand Tragedy) में आई आपदा के कारण दिल्ली में जल संकट (Delhi Water Supply) खड़ा हो गया है। क्योंकि इस आपदा के कारण गंगा का पानी (Ganga Water) दिल्ली पहुंच रहा। जिसके कारण गंगा के पानी से दिल्ली के भागीरथी वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट (Bhagirathi Water Treatment Plant) में लाखों लीटर पानी प्रदूषित (Polluted) हो गया है। इसी बीच, दिल्ली जल बोर्ड के उपाध्यक्ष राघव चड्डा (Raghav Chadha) ने सोमवार को भागीरथी वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट का निरीक्षण किया।

उन्होंने बताया कि उत्तराखंड में त्रासदी के बाद से दिल्ली में गंगा का पानी आ रहा है उसमें गंदगी पाई गई। इस वजह से 2 वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट अपनी पूरी क्षमता के साथ काम नहीं कर पा रहे थे। उन्होंने बताया कि प्लांट में गंगा के पानी का साफ किया जा रहा है। ताकि दिल्ली के लोगों को कोई समस्या न आए। ये भी सुनिश्चित किया जा रहा है कि दिल्ली में पानी की आपूर्ति ठप्प न की जाए। इससे पहले, उत्‍तराखंड में आई आपदा का असर गाजियाबाद और नोएडा पर भी देखने को मिला है।

ग्‍लेशियर टूटने से गंगनहर में सिल्‍ट और कचरा आ गया है, इस वजह से गंगाजल प्‍लांट को आज से बंद कर दिया गया है। जिसके कारण गाजियाबाद और नोएडा के कुछ इलाकों में पानी की सप्‍लाई रोक लगा दी गई है। इस समस्या के कारण दिल्ली-एनसीआर में रहने वाले करोड़ों लोगों पर असर पड़ेगा। हालांकि प्रशासन लोगों को ज्यादा दिक्कत न हो इसके लिए इन इलाकों में नलकूपों और ट्यूबवेलों से पानी की सप्‍लाई की जा रही है, जो एक समय ही मिल रहा है।

प्रताप विहार स्थित गंगाजल के दोनों प्‍लांटों से 100 क्‍यूसेक और 50 क्‍यूसेक सप्‍लाई पूरी तरह रोक दी गई है। इससे वसुंधरा की 9 कॉलोनी, इंदिरापुरम और नोएडा की कालोनियों में पानी की सप्‍लाई ठप्प हो गई। आपको बता दें कि तपोवन टनल से आज 3 शव बरामद किए गए, अब तक कुल 54 शव बरामद हो चुके हैं। जोशीमठ थाने में अब तक कुल 179 लोगों की गुमशुदगी दर्ज की जा चुकी है।

और पढ़ें
Next Story