Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

तिहाड़ जेल में बंद आतंकी ने किया खुलासा, कैदियों ने 'जय श्रीराम' का नारा न लगाने पर मारा पीटा, कोर्ट से लगाई गुहार

आत्मघाती हमलों और सीरियल बम ब्लास्ट की साजिश रचने के आरोप में गिरफ्तार आईएसआईएस (ISIS) के एक संदिग्ध सदस्य ने यह कहकर हड़कंप मचा दिया कि तिहाड़ जेल में कैदियों ने उसकी पिटाई की और उसे 'जय श्री राम' (Jai Sri Ram) का नारा लगाने को मजबूर किया गया।

तिहाड़ जेल में बंद आतंकी ने किया खुलासा, कैदियों ने
X

तिहाड़ जेल में बंद आतंकी ने किया खुलासा

एशिया के सबसे बड़े तिहाड़ जेल (Tihar Jail) से चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां एक आतंकी को 'जय श्रीराम' का नारा (Jai Sri Ram) न लगाने पर मारा पीटा गया है। उसने आरोप लगाया है कि कैदियों ने उसकी पिटाई की और जय श्रीराम का नारा लगाने पर मजबूर किया। इस मामले को लेकर आतंकी ने दिल्ली की अदालत से गुहार लगाई है। जानकारी के मुताबिक, आत्मघाती हमलों और सीरियल बम ब्लास्ट की साजिश रचने के आरोप में गिरफ्तार आईएसआईएस (ISIS) के एक संदिग्ध सदस्य ने यह कहकर हड़कंप मचा दिया कि तिहाड़ जेल में कैदियों ने उसकी पिटाई की और उसे 'जय श्री राम' का नारा लगाने को मजबूर किया गया।

बुधवार को आईएसआईएस के संदिग्ध आतंकी राशिद जफर ने दिल्ली की एक अदालत का दरवाजा खटखटाया और यह दावा किया। आरोपी राशिद जफर को वर्ष 2018 में आईएसआईएस से संबद्ध समूह का सदस्य होने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था, जो आत्मघाती हमलों और सिलसिलेवार विस्फोटों की साजिश रच रहे थे, जिसमें राजनेताओं के साथ-साथ दिल्ली और उत्तर भारत के अन्य हिस्सों में सरकारी प्रतिष्ठानों को भी निशाना बनाए जाने की साजिश थी।

वकील एम.एस खान ने याचिका में दावा किया कि आरोपी ने तिहाड़ जेल से फोन पर अपने पिता को घटना के बारे में बताया। इस मामले की गुरुवार को सुनवाई हो सकती है। याचिका में कहा गया है कि आरोपी को अन्य कैदियों ने पीटा और धार्मिक नारा 'जय श्री राम' लगाने के लिए मजबूर किया गया। वकील कौसर खान द्वारा दायर याचिका में अनुरोध किया गया है कि इस मामले की जांच करने के लिए जेल अधीक्षक को उचित निर्देश दिए जाएं।

Next Story