Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सावधान! 15 अगस्त के पहले दिल्‍ली पर आतंकवादी ड्रोन से कर सकते है हमला, खुफिया विभाग ने जारी किया अलर्ट

दिल्ली में 15 अगस्त के पहले और मानसून सत्र के बीच सुरक्षा एजेंसियों ने सभी विभाग को जरूरी परामर्श जारी कर दिया है। इसे देखते हुए दिल्ली पुलिस और दूसरी फोर्स पुरी तरह से मुश्तैद हो गई है। वहीं पहली बार ड्रोन हमले के खतरे से निपटने के लिए दिल्ली पुलिस और दूसरी फोर्स को विशेष ट्रेनिंग दी गई है।

Delhi Terror Attack: दिल्ली के लक्ष्मी नगर से एक पाकिस्तानी आंतकी गिरफ्तार, दिवाली पर दहलाने की थी साजिश
X

दिल्ली के लक्ष्मी नगर से एक पाकिस्तानी आंतकी गिरफ्तार

दिल्ली में आतंकवादी हमले (Terrorist Attack) को लेकर खुफिया विभाग ने अलर्ट (Intelligence Department Alerts) जारी किया है। ये हमला ड्रोन (Drone Attack) से किया जा सकता है। इसके लिए दिल्ली में सुरक्षा की व्यवस्था बढ़ा दी गई है। दिल्ली में 15 अगस्त के पहले और मानसून सत्र के बीच सुरक्षा एजेंसियों ने सभी विभाग को जरूरी परामर्श जारी कर दिया है। इसे देखते हुए पुलिस (Delhi Police) और दूसरी फोर्स पुरी तरह से मुश्तैद हो गई है। वहीं पहली बार ड्रोन हमले के खतरे से निपटने के लिए दिल्ली पुलिस और दूसरी फोर्स को विशेष ट्रेनिंग दी गई है।

इस ट्रेनिंग में कहा गया है कि अगर कोई संदिग्ध ड्रोन दिल्ली या उसकी सीमा पर नजर आएगा तो उसे जाम करना है या फिर उसे उड़ा देना है। खुफिया विभाग के अलर्ट के मुताबिक, आतंकवादी 'ड्रोन जेहाद' के नाम दिल्ली में बड़ी वारदात को अंजाम दे सकते है। ये भी बताया गया कि दिल्ली को दहलाने की साजिश पाकिस्तान में रची गई है। जो कि 15 अगस्त से पहले ड्रोन से हमला कर सकते है। आतंकियों ने पाकिस्तान में ही इस हमले की ट्रेनिग ली है। आतंकी देश के बड़े सेलिब्रेटियों को निशाना बनाने की फिराक में है।

इस अलर्ट के बाद दिल्ली पुलिस की टीमों को सतर्क किया गया है। खासकर 15 अगस्त के मद्देनजर लाल किले की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर एजेंसियों और अधिकारियों के बीच बैठक भी हुई है। वहीं 5 अगस्त के दिन दिल्ली पर आतंकी खतरे की आशंका जताई गई है। क्योंकि आपको बता दें कि आतंकियों ने 5 अगस्त को ही हमले का दिन इसलिए चूना है क्योंकि इस दिन जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाई गई थी। ऐसे में आतंकी इस दिन ही हमला करने की कोशिश कर सकते है।

आतंकी के ड्रोन के खतरे को देखते हुए इंडियन एयर फोर्स हेडक्वार्टर में स्पेशल ड्रोन कंट्रोल रूम भी बनाया गया है। जहां पुलिस या कोई दूसरी एजेंसी सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर भी अगर लाइसेंसी ड्रोन उड़ाएगी तो उसे भी इंडियन एयर फोर्स हेडक्वार्टर के इस कंट्रोल रूम से अनुमति लेना आवश्यक होगा। लाल किले की सुरक्षा और संदिग्धों पर नजर रखने के लिए कैमरे भी लगाए जा रहे है।

Next Story