Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

STF ने रंगदारी वसूलने वाले दो शातिर बदमाशों को किया गिरफ्तार, साथ ही पढ़ें नोएडा की टॉप न्यूज

इस मामले में कार्रवाई करते हुए एसटीएफ ने गाजियाबाद निवासी अतुल कसाना उर्फ अक्की और दुरियाई गांव निवासी अरुण उर्फ मास्टर को गिरफ्तार किया है। इनके पास से पुलिस ने एक मोबाइल फोन बरामद किया है, जिसे रंगदारी मांगने में प्रयोग किया जा रहा था। एसपी ने बताया कि पूछताछ के दौरान पता चला है कि अरुण उर्फ मास्टर का दुरियाई गांव के रहने वाले राजकुमार से पैसों का लेन-देन था।

STF ने रंगदारी वसूलने वाले दो शातिर बदमाशों को किया गिरफ्तार, साथ ही पढ़ें नोएडा की टॉप न्यूज
X

STF ने रंगदारी वसूलने वाले दो शातिर बदमाशों को किया गिरफ्तार

Noida Crime नोएडा में विशेष कार्य बल (STF) ने कुख्यात गैंगस्टर अमित कसाना के लिए रंगदारी वसूलने (Extortion) वाले दो शातिर बदमाशों को गिरफ्तार (Two Arrested) किया है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश एसटीएफ के पुलिस अधीक्षक (एसपी) कुलदीप नारायण ने बताया कि थाना बादलपुर क्षेत्र के दूरियाई गांव के रहने वाले राजकुमार ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि कुख्यात गैंगस्टर अमित कसाना के नाम पर कुछ लोग उससे पांच लाख रुपये की रंगदारी मांग रहे हैं। उन्होंने बताया कि इस मामले में कार्रवाई करते हुए एसटीएफ ने गाजियाबाद निवासी अतुल कसाना उर्फ अक्की और दुरियाई गांव निवासी अरुण उर्फ मास्टर को गिरफ्तार किया है। इनके पास से पुलिस ने एक मोबाइल फोन बरामद किया है, जिसे रंगदारी मांगने में प्रयोग किया जा रहा था। एसपी ने बताया कि पूछताछ के दौरान पता चला है कि अरुण उर्फ मास्टर का दुरियाई गांव के रहने वाले राजकुमार से पैसों का लेन-देन था।

अवैध रूप से लगे मोबाइल फोन का टावर हटाया गया

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने खेड़ी भनौता गांव में एक घर की छत पर बिना अनुमति के लगे मोबाइल फोन के टॉवर को हटा दिया है। आसपास के निवासियों ने टावर को हटाने के लिए उच्च न्यायालय में याचिका दायर की थी। अदालत के आदेश पर अमल करते हुए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के वर्क सर्किल दो की टीम ने मोबाइल टावर को हटा दिया। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी दीपचंद ने बताया कि ग्रेटर नोएडा में मोबाइल टावर लगाने की अनुमति प्राधिकरण से लेनी होती है। प्राधिकरण की तरफ से तय जगहों पर ही टावर लगाने की अनुमति दी जाती है। उसके लिए तय शर्तों का भी पालन करना होता है। उन्होंने बताया कि टावर लगाने के लिए शुल्क भी निर्धारित है। उसका भुगतान करने पर ही अनुमति मिलती है।

ग्रेटर नोएडा से तीन लुटेरे गिरफ्तार

गौतमबुद्ध नगर जिले के ग्रेटर नोएडा स्थित बीटा-2 थाने की पुलिस ने तीन कथित लुटेरों को गिरफ्तार कर,उनके पास से विभिन्न जगहों से लूटे गए 13 मोबाइल फोन, आधार कार्ड तथा दो मोटरसाइकिल बरामद किया है। पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि बीटा-2 थाना की पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर बुधवार की शाम को राजेंद्र उर्फ लल्लू उर्फ लीलू , शीलू उर्फ दीपक तथा अंकित दुबे गिरफ्तार किया है। उन्होंने बताया कि इनके पास से पुलिस ने विभिन्न जगहों से लूटे हुए 13 मोबाइल फोन, एक आधार कार्ड ,तथा लूट में प्रयोग होने वाली दो मोटरसाइकिल बरामद किया है। उन्होंने दावा किया कि पूछताछ के दौरान गिरफ्तार आरोपियों ने एनसीआर में लूटपाट की सैकड़ों घटनाओं को अंजाम देने जानकारी दी है। प्रवक्ता ने बताया कि तीनों आरोपी इससे पहले नौ बार गिरफ्तार हो चुके हैं और जेल से रिहा होने के बाद लूटपाट की घटनाओं में शामिल हो जाते हैं।

पहले बच्चे को किया अगवा फिर डर की वजह से खुद लेकर महिला पहुंची थाने

गाजियाबाद के लालकुआं के कृष्णा विहार से मंगलवार शाम एक महिला ने दो साल के बच्चे को अगवा कर लिया। सूचना पर पुलिस रातभर इलाके में दौड़ती रही। घर के आसपास पुलिस का सायरन बजता देख महिला के हाथ-पांव फूल गए, जिसके चलते सुबह 7 बजे वह खुद ही बच्चे को लेकर चौकी पहुंच गई। पुलिस ने महिला को हिरासत में ले लिया, लेकिन बच्चा मिलने के कारण पीड़ित दंपती ने कार्रवाई से इनकार कर दिया। जिसके चलते पुलिस ने महिला को छोड़ दिया। पुलिस ने बच्चे के अपहरण की घटना से इनकार किया है। सीतापुर निवासी दीपेंद्र कुमार कृष्णा विहार कॉलोनी में पत्नी रीना व दो वर्षीय इकलौते बेटे प्रभात के साथ रहते हैं। फैक्टरी में काम करने वाले दीपेंद्र ने बताया कि उनकी पत्नी रीना मंगलवार शाम करीब 6 बजे बाजार से सामान लेने गई थी। उसने पड़ोसन से बच्चे का ध्यान रखने को कहा, लेकिन बेटा उसके पीछे-पीछे चला गया।

नामों पर कालिख पोतने के मामले में दो लोग गिरफ्तार

नोएडा में राजा मिहिर भोज की प्रतिमा के नीचे लगे शिलापट्ट पर लिखे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सांसद सुरेंद्र नागर, विधायक तेजपाल नागर आदि के नाम पर कथित तौर पर काला रंग पोते जाने के मामले में पुलिस ने बुधवार को दो लोगों को गिरफ्तार किया है। अपर पुलिस उपायुक्त विशाल पांडे ने बताया कि दादरी के मिहिर भोज कॉलेज में 22 सितंबर को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा का अनावरण किया था। मंगलवार को कुछ लोगों ने प्रतिमा के नीचे लिखे मुख्यमंत्री तथा अन्य नेताओं के नाम पर कालिख पोत दी थी। इस मामले में गुर्जर समाज के दो आरोपियों दीपक तथा विक्रांत को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि कानून व्यवस्था को चुनौती देने वाले लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा रही है। इस मामले में 150 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है और पुलिस सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो के आधार पर इस घटना में शामिल अन्य आरोपियों की पहचान कर रही है।

Next Story