Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कोरोना की तीसरी लहर को लेकर सत्येंद्र जैन ने कहा- चाचा नेहरू बाल अस्पताल में 610 बेड का केंद्र बनाएगी दिल्ली सरकार

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने राजधानी में तीन अस्पतालों का दौरा कर वहां निर्माण कार्य का जायजा लिया। सरकार ने बताया कि वर्तमान और भविष्य की जरूरतों को पूरा करने के लिए लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल में सुविधाओं को बेहतर बनाया जा रहा है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि सरकार लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल में 460 बेड के साथ जच्चा और बच्चा केंद्र बनवा रही है।

Delhi Coronavirus: दिल्ली में फिर से बढ़े कोरोना के मामले, जानें लॉकडाउन लगाने को लेकर क्या बोले सत्येंद्र जैन
X

सत्येंद्र जैन 

Delhi Coronavirus दिल्ली में कोरोना की तीसरी लहर (Third Wave) की तैयारी जोरों पर है। कहीं कोई कमी न रह जाए इसलिए दिल्ली सरकार (Delhi Government) अभी से सभी संसाधनों का जायजा ले रही है। वहीं पर्याप्त बेड की व्यवस्था कर रही है। इस बीच, दिल्ली सरकार ने ऐलान किया है कि वह राष्ट्रीय राजधानी में बाल चिकित्सा के लिए समर्पित चाचा नेहरू बाल चिकित्सालय (Chacha Nehru Children's Hospital) में 610 बेड का केंद्र (ICU Beds) बनाएगी। दिल्ली सरकार ने एक बयान में बताया कि राष्ट्रीय राजधानी के स्वास्थ्य ढांचे को बेहतर बनाने के प्रयास के तहत दिल्ली सरकार कई मौजूदा अस्पतालों में सुविधाओं को बढ़ा रही और बेड की संख्या में भी वृद्धि की जा रही है। इस अभियान के तहत दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन (Satyendra Jain) ने राजधानी में तीन अस्पतालों का दौरा कर वहां निर्माण कार्य का जायजा लिया। सरकार ने बताया कि वर्तमान और भविष्य की जरूरतों को पूरा करने के लिए लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल में सुविधाओं को बेहतर बनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल में 460 बेड के साथ जच्चा और बच्चा केंद्र बनवा रही है।

तीसरी लहर के प्रभाव को कम करने के उठाए जा रहे कदम

दिल्ली सरकार ने कहा कि आईसीयू प्रबंधन में मेडिकल कर्मचारियों का प्रशिक्षण, आईआईटी प्रोफेसर को कोविड-19 प्रबंधन में शामिल करना और लोगों का टीकाकरण करवाने के लिए चुनावी मतदान केंद्र के मुताबिक कार्यक्रम चलाना महानगर में कोविड-19 की संभावित तीसरी लहर से निपटने की तैयारियों के लिए प्रमुख क्षेत्र हैं जिन पर ध्यान केंद्रित किया जा रहा है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को दो बैठकों की अध्यक्षता की जिसमें एक विशेषज्ञ समिति की बैठक थी और दूसरी तैयारी समिति की। उन्होंने तीसरी लहर के संभावित प्रभाव को कम करने के लिए कई निर्णय किए। यह जानकारी दिल्ली सरकार की तरफ से शनिवार को जारी बयान में दी गई। इसमें बताया गया कि कोविड-19 के लिए सरकार ने चरणबद्ध तैयारियां की हैं।'' बयान में कहा गया कि इसके आधार पर बिस्तरों, वार्ड, अन्य ढांचागत सुविधाओं की तैयारी रखना, उपकरणों की आपूर्ति, वैकल्पिक सर्जरी को रोकना और अन्य विभागों की तरफ संसाधनों को भेजना शामिल है।

दिल्ली सरकार टीकों के लिये अग्रिम भुगतान के लिये तैयार

आम आदमी पार्टी नेता और विधायक आतिशी ने कहा कि दिल्ली सरकार कोविड टीकों के लिये अग्रिम भुगतान को तैयार है। उन्होंने केंद्र से एक बार फिर 18-44 आयुवर्ग के लोगों के लिये टीके उपलब्ध कराने का अनुरोध किया। टीकों की खुराक उपलब्ध नहीं होने की वजह से दिल्ली में आप सरकार ने 18-44 आयुवर्ग के लोगों का टीकाकरण लगभग दो हफ्तों से रोक रखा है। केंद्र ने कहा कि उक्त आयुवर्ग के लिये टीकों की नई खेप की आपूर्ति 10 जून को की जाएगी। आतिशी ने टीका बुलेटिन के दौरान कहा कि आज, निजी अस्पताल में (18 से 44 आयुवर्ग के लिये) कोविशील्ड और कोवैक्सीन दोनों उपलब्ध हैं लेकिन सरकार द्वारा संचालित अस्पताल और केंद्रों में नहीं। टीका कंपनियों ने हमें बताया कि केंद्र सरकार यह तय करती है कि किसे कब और कितना टीका मिलेगा।

Next Story