Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हथियार के बल पर मुर्गा कारोबारी को लूटने वाले तीन गिरफ्तार

नई दिल्ली के शास्त्री पार्क थाना पुलिस ने हथियार के बल पर मुर्गा कारोबारी से हुई लूट की गुत्थी को सुलझा लिया है। पुलिस ने इस मामले में तीन आरोपियों को पकड़ा है। पकड़े गए आरोपियों के नाम साकिब अली, सदरे आलम उर्फ मोनू और शाहनवाज अंसारी है।

नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने वाले तीन गिरफ्तार
X
आरोपी गिरफ्तार (प्रतीकात्मक फोटो)

नई दिल्ली के शास्त्री पार्क थाना पुलिस ने हथियार के बल पर मुर्गा कारोबारी से हुई लूट की गुत्थी को सुलझा लिया है। पुलिस ने इस मामले में तीन आरोपियों को पकड़ा है। पकड़े गए आरोपियों के नाम साकिब अली और सदरे आलम उर्फ मोनू एवं शाहनवाज अंसारी है।

आरोपी साकिब मुर्गा कारोबारी का चचेरा भाई है। पुलिस ने आरोपियों के पास से डेढ़ लाख रुपये, जैकेट, पिस्टल और वारदात में इस्तेमाल बाइक बरामद की है। पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर मामले की जांच कर रही है।

डीसीपी (ईस्ट) वेद प्रकाश सूर्या ने बताया कि शुक्रवार रात करीब 12:05 बजे पुलिस को मुर्गा कारोबारी चांद के साथ हथियार के बल पर लूटपाट की सूचना मिली। शिकायतकर्ता ने पुलिस को बताया कि वह लोनी का रहने वाला है और उस्मानपुर में उसका मुर्गा फार्म है।

शुक्रवार रात को उसके पास माल के दो लाख रुपये और दुकानदारी के 50 हजार रुपये थे। उसने सारी रकम अपनी जैकेट में रखी हुई थी। इसी दौरान बदमाशों ने उसके साथ लूटपाट करने की कोशिश की।

विरोध करने पर बदमाशों ने उसके साथ मारपीट की और उसकी जैकेट लूटकर फरार हो गए। पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी। जांच के दौरान पुलिस को पता चला कि रुपये लेने के दौरान चांद के साथ उसका चचेरा भाई साकिब भी था। वारदात से पहले साकिब पीड़ित से यह कहकर निकल गया कि वह पेट्रोल डलवाने जा रहा है। वारदात के बाद वह वापस गया।

इस पर पुलिस को उस पर शक हुआ। सख्ती से पूछताछ करने पर वह टूट गया और उसने अपना जुर्म कबूल लिया। पूछताछ के दौरान आरोपी ने पुलिस को बताया कि चांद ने उससे तीन लाख रुपये उधार लिए थे। वह रुपये लौटा नहीं रहा था। उधार के तीन लाख रुपये वापस लेने के लिए उसने अपने सहयोगियों के साथ मिलकर लूट की योजना बनाई थी।

Next Story