Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

लाल किले हिंसा के मुख्य आरोपी दीप सिद्धू की बढ़ाई गई पुलिस रिमांड, भीड़ को भड़काने का है आरोप

पिछले आदेश के मुताबिक, तीस हजारी कोर्ट में 10.30 बजे सिद्धू की पेशी होनी थी। हालांकि दीप सिद्धू के वकील अभिषेक के मुताबिक, दीप को सुबह करीब साढ़े आठ बजे ड्यूटी मजिस्ट्रेट के घर में पेश किया गया जहां से पुलिस को 7 दिन की रिमांड मिली। क्राइम ब्रांच ने लाल किला हिंसा के आरोपी दीप सिद्धू की हिरासत बढ़ाने की मांग की थी।

लाल किले हिंसा के मुख्य आरोपी दीप सिद्धू की बढ़ाई गई पुलिस रिमांड, भीड़ को भड़काने का है आरोप
X

लाल किले हिंसा के मुख्य आरोपी दीप सिद्धू की बढ़ाई गई पुलिस रिमांड

किसान ट्रैक्टर रैली के दौरान 26 जनवरी को हुई लाल किले में हिंसा (Red Fort violence) को लेकर गिरफ्तार दीप सिद्धू (Deep Sidhu) की और 7 दिन की पुलिस रिमांड (Delhi Police) बढ़ाई गई। 26 जनवरी को लाल किले (Red Fort) में हुई हिंसा और अराजकता फैलाने का मुख्य आरोपी है दीप सिद्धू। आपको बता दें कि दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने 8 फरवरी को करनाल बाइपास के पास से दीप सिद्धू को गिरफ्तार किया था। सिद्धू को कोर्ट ने 9 फरवरी को सात दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया था। पुलिस ने यह कहते हुए दस दिन की हिरासत मांगी थी कि ऐसे वीडियो में हैं जिनमें सिद्धू कथित रूप से घटनास्थल पर देखा जा सकता है।

पिछले आदेश के मुताबिक, तीस हजारी कोर्ट में 10.30 बजे सिद्धू की पेशी होनी थी। हालांकि दीप सिद्धू के वकील अभिषेक के मुताबिक, दीप को सुबह करीब साढ़े आठ बजे ड्यूटी मजिस्ट्रेट के घर में पेश किया गया जहां से पुलिस को 7 दिन की रिमांड मिली। क्राइम ब्रांच ने लाल किला हिंसा के आरोपी दीप सिद्धू की हिरासत बढ़ाने की मांग की थी। पुलिस ने कहा है कि दीप सिद्धू से अन्य आरोपियों के बारे में अभी और पूछताछ करनी है। वहीं उनकी गिरफ्तारी तक सिद्धू की रिमांड की तिथि बढ़ाने की मांग की। ऐसे में अन्य आरोपियो की शिनाख्त एवं गिरफ्तारी के लिए उससे पूछताछ करना जरूरी है।

जांच अधिकारी ने आरोप लगाया कि वह भीड़ को उकसा रहा था। वह मुख्य दंगाइयों में भी एक था। सह साजिशकर्ताओं की पहचान करने के लिए कई सोशल मीडिया अकाउंटों को खंगालने की जरूरत है। यह भी उसका स्थायी पता नागपुर दिया गया लेकिन और ब्योरा सामने लाने के लिए पंजाब और हरियाणा में कई स्थानों पर जाना पड़ेगा। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि सिद्धू वीडियो में लालकिले में अपने साथियों के साथ प्रवेश करते हुए नजर आता है और जब झंडा लहराया गया तब वह वहीं मौजूद था। गौरतलब है कि 26 जनवरी को हजारों की संख्या में प्रदर्शनकारी किसान अवरोधकों को तोड़ कर राष्ट्रीय राजधानी में दाखिल हो गये थे और आईटीओ सहित अन्य स्थानों पर उनकी पुलिस कर्मियों से झडपें हुई थीं। कई प्रदर्शनकारी ट्रैक्टर चलाते हुए लाल किला पहुंच गये और ऐतिहासिक स्मारक में प्रवेश कर गये तथा उसकी प्राचीर पर एक धार्मिक झंडा लगा दिया।

Next Story