Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

साइबर ठगों से सावधान! राम जन्मभूमि ट्रस्ट की फर्जी वेबसाइट बनाकर लाखों की ठगी, साथ ही पढ़ें नोएडा की टॉप न्यूज

पुलिस के अनुसार आरोपियों को नोएडा की एक अदालत में पेश करने के बाद अयोध्या ले जाया जाएगा। इस मामले में मुकदमा जनपद अयोध्या में दर्ज है और सभी आरोपी दिल्ली के रहने वाले हैं। पुलिस अधीक्षक (साइबर अपराध) त्रिवेणी सिंह ने बताया कि थाना राम जन्मभूमि (जनपद अयोध्या) में 30 जनवरी 2021 को एक मुकदमा दर्ज किया गया था। मामले में आरोप है कि राममंदिर जन्मभूमि ट्रस्ट के नाम से फर्जी वेबसाइट बनाकर,कुछ लोग श्रद्धालुओं से ठगी कर रहे हैं।

साइबर ठगों से सावधान! राम जन्मभूमि ट्रस्ट की फर्जी वेबसाइट बनाकर लाखों की ठगी, साथ ही पढ़ें नोएडा की टॉप न्यूज
X

राम जन्मभूमि ट्रस्ट की फर्जी वेबसाइट बनाकर लाखों की ठगी

Noida Cyber Crime नोएडा पुलिस (Noida Police) की साइबर अपराध टीम ने राम जन्मभूमि ट्रस्ट (Ram Janmabhoomi Trust) की फर्जी वेबसाइट (Fake Website) बनाकर लाखों रुपए की ठगी करने वाले पांच साइबर ठगों को गिरफ्तार (Five Accused Arrested) कर लिया। उन्होंने बताया कि घटना की जांच कर रही नोएडा तथा लखनऊ साइबर अपराध टीम ने सूचना के आधार पर आशीष गुप्ता, नवीन कुमार, सुमित कुमार, मार, अमित झा और और सूरज गुप्ता को गिरफ्तार किया है। इनके पास से पुलिस ने पांच मोबाइल फोन, एक लैपटॉप, दो सिम कार्ड, 50 आधार कार्ड की छाया प्रति आदि बरामद किए हैं। उन्होंने बताया कि पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है और यह जानकारी प्राप्त की जा रही है कि धोखाधड़ी के इस मामले में और कौन कौन संलिप्त है। पुलिस के अनुसार आरोपियों को नोएडा की एक अदालत में पेश करने के बाद अयोध्या ले जाया जाएगा। इस मामले में मुकदमा जनपद अयोध्या में दर्ज है और सभी आरोपी दिल्ली के रहने वाले हैं। पुलिस अधीक्षक (साइबर अपराध) त्रिवेणी सिंह ने बताया कि थाना राम जन्मभूमि (जनपद अयोध्या) में 30 जनवरी 2021 को एक मुकदमा दर्ज किया गया था। मामले में आरोप है कि राममंदिर जन्मभूमि ट्रस्ट के नाम से फर्जी वेबसाइट बनाकर,कुछ लोग श्रद्धालुओं से ठगी कर रहे हैं।

गाजियाबाद पुलिस ने ट्विटर इंडिया के एमडी को भेजा दूसरा नोटिस

गाजियाबाद पुलिस ने ट्विटर पर सांप्रदायिक रूप से संवेदनशील एक वीडियो जारी होने के मामले में सोमवार को ट्विटर इंडिया के प्रबंध निदेशक को आगाह किया कि अगर वह 24 जून को उसके समक्ष पेश नहीं हुए और जांच में शामिल नहीं हुए तो इसे जांच में बाधा के समान माना जाएगा और कानूनी कार्रवाई की जाएगी। ट्विटर इंडिया के प्रबंध निदेशक मनीष माहेश्वरी को गाजियाबाद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अमित पाठक ने दूसरा नोटिस जारी करके आगाह किया है कि उनके पेश नहीं होने की सूरत में उनके खिलाफ जांच को बाधित करने के आरोप में मुकदमा चलाया जाएगा। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि माहेश्वरी के मामले की जांच में वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए शामिल होने की पेशकश करने के बाद सोमवार देर शाम उन्हें नया नोटिस जारी किया गया। ट्विटर इंडिया के प्रबंध निदेशक ने सोशल मीडिया मंच पर बुजुर्ग मुस्लिम व्यक्ति के सांप्रदायिक रूप से संवेदनशील वीडियो क्लिप के प्रसार से जुड़े मामले में गाजियाबाद पुलिस की जांच में वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए शामिल होने की पेशकश की थी।

सबसे बड़ी चोरी मामले में एक और गिरफ्तार

नोएडा के बहुचर्चित सोना चोरी मामले में पुलिस ने सोमवार को एक और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने बताया कि आरोपी के पास से एक लाख रुपए नकद, सोने की दो अंगूठी तथा सोने की एक चेन बरामद की गयी। आरोपी प्रदीप कार चालक है। पुलिस उपायुक्त (जोन प्रथम) राजेश एस ने बताया कि पूछताछ के दौरान आरोपी ने बताया कि उसने ही इस घटना के मुख्य आरोपी गोपाल को सूचना दी थी, कि सिल्वर सिटी स्थित एक फ्लैट में करोड़ों रुपए का काला धन व सोना छुपा कर रखा गया है। उन्होंने बताया कि कार चालक ने पुलिस को बताया कि वह गोपाल के माध्यम से पांडेय परिवार के काले धन पर सरकारी विभाग से छापा डलवा कर इनाम के रूप में मोटी रकम हासिल करना चाह रहा था। लेकिन गोपाल ने अपने साथियों के संग मिलकर वहां चोरी की तथा करोड़ों रुपए का काला धन व सोना वहां से ले गए। उन्होंने बताया कि प्रदीप को चोरी के हिस्से से काफी रकम मिली थी।

सार्वजनिक स्थानों पर शराब पी रहे 363 लोग गिरफ्तार

नोएडा पुलिस कमिश्नरेट ने सार्वजनिक स्थान पर शराब पीने वालों के खिलाफ सोमवार रात को एक विशेष अभियान चलाया। इसके तहत पूरे जनपद में सघन जांच की गई तथा पुलिस ने विभिन्न स्थानों से 363 लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस आयुक्त आलोक सिंह के मीडिया प्रभारी ने बताया कि कोविड-19 की वजह से जनपद में रात्रि कर्फ्यू जारी है। उन्होंने बताया कि यह बात संज्ञान में आई थी कि कुछ लोग नियमों का उल्लंघन कर सार्वजनिक स्थानों पर सरेआम शराब पी रहे हैं। उन्होंने बताया कि पुलिस आयुक्त आलोक सिंह के आदेशानुसार सोमवार की देर रात तक विशेष अभियान चलाया गया, इसके तहत जनपद के विभिन्न जगहों पर सार्वजनिक स्थान पर शराब पी रहे लोगों के खिलाफ कार्रवाई की गई। उन्होंने बताया कि ऐसे 363 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

बेसहारा बुजुर्गों की मदद करेगी नोएडा पुलिस

कोरोना की दूसरी लहर में कम उम्र के काफी लोग दुनिया से विदा हो गए। अब घर में उनके बुजुर्ग माता-पिता ही रह गए हैं। शहर में उनकी देखभाल करने वाला भी कोई नहीं है। ऐसे में पुलिस कमिश्नर की ओर से शुरू की जा रही 'सवेरा' योजना उन्हें अपनापन देगी। इसके तहत उनका समय-समय पर पुलिसकर्मी उनके घर जाकर हालचाल जानेंगे। कोई दिक्कत होने पर मदद भी की जाएगी। इसके लिए नोएडा-ग्रेटर नोएडा में बुजुर्गों का सर्वे शुरू हो गया है। कुछ साल पहले हुए सर्वे में जिले में 2478 बुजुर्ग ऐसे सामने आए थे जो अकेले रह रहे थे। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि अब इसमें काफी इजाफा हो गया होगा। ऐसे में नए सिरे से सर्वे की शुरुआत करा दी गई है। आरडब्ल्यूए के साथ मिलकर सर्वे शुरू किया गया है। हर सेक्टर-सोसाइटी में जाकर इसका रिकॉर्ड तैयार किया जाएगा।

गाजियाबाद में एक दिन में वैक्सीन लगाने का नया रिकार्ड बना

गाजियाबाद जिले में सोमवार को एक दिन में 27,078 लोगों को वैक्सीन लगाकर नया रिकार्ड बनाया है। अभी तक स्वास्थ्य विभाग ने एक दिन में 16 हजार वैक्सीन ही लगाई थी। यह रिकार्ड पायलट प्रोजेक्ट के तहत छह क्लस्टर बनाकर 18 साल से ऊपर वाले सभी को ऑनस्पॉट रजिस्ट्रेशन करके टीका लगाने की नई व्यवस्था से बना है। पायलट प्रोजेक्ट के पहले ही दिन 10,053 लोगों को ऑनस्पॉट रजिस्ट्रेशन कर टीका लगा। स्वास्थ्य विभाग का दावा है कि वैक्सीन की उपलब्धता रही तो वह सितंबर तक जिले की पूरी आबादी को वैक्सीन लगा देगा। जिले में सोमवार से ट्रायल के रुप में वैक्सीनेशन का पायलट प्रोजेक्ट शुरू कर रहा है।

Next Story