Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Punjab Political Crisis: कपिल सिब्बल के घर के बाहर कांग्रेस कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन, दफ्तर के बाहर लगे 'पार्टी छोड़ो' के नारे

Punjab Politics Crisis: सिब्बल ने बीते दिन कहा था कि कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) की बैठक बुलाकर इस स्थिति पर चर्चा होनी चाहिए तथा संगठनात्मक चुनाव कराये जाने चाहिए। उन्होंने कई नेताओं के पार्टी छोड़ने का उल्लेख करते हुए गांधी परिवार पर इशारों-इशारों में कटाक्ष किया कि जो लोग इनके खासमखास थे वो छोड़कर चले गए, लेकिन जिन्हें वे खासमखास नहीं मानते वे आज भी इनके साथ खड़े हैं। सिब्बल ने जोर देकर कहा कि हम 'जी हुजूर 23' नहीं हैं।

Punjab Politics Crisis: कपिल सिब्बल के घर के बाहर कांग्रेस कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन, दफ्तर के बाहर लगे
X

कपिल सिब्बल के घर के बाहर कांग्रेस कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन

Punjab Politics Crisis पंजाब के राजनीतिक हलचल पर कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल (Senior Congress leader Kapil Sibal) ने पार्टी के शीर्ष नेताओं पर सवाल खड़े किए है। जिसके कारण पार्टी के कुछ बड़े नेताओं और कार्यकर्ताओं (Congress Workers Protest) ने सिब्बल की आलोचना करते हुए उनके आवास के बाहर विरोध-प्रदर्शन किया। इस दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सिब्बल पार्टी छोड़ो के नारे लगाए गए। पार्टी कार्यालय के बाहर सिब्बल की आलोचना वाले पोस्टर भी लगाए गए है। बता दें कि सिब्बल ने बीते दिन कहा था कि कांग्रेस कार्य समिति (CWC) की बैठक बुलाकर इस स्थिति पर चर्चा होनी चाहिए तथा संगठनात्मक चुनाव कराये जाने चाहिए।

उन्होंने कई नेताओं के पार्टी छोड़ने का उल्लेख करते हुए गांधी परिवार पर इशारों-इशारों में कटाक्ष किया कि जो लोग इनके खासमखास थे वो छोड़कर चले गए, लेकिन जिन्हें वे खासमखास नहीं मानते वे आज भी इनके साथ खड़े हैं। सिब्बल ने जोर देकर कहा कि हम 'जी हुजूर 23' नहीं हैं। हम अपनी बात रखते रहेंगे। उनके इस टिप्पणी पर पूर्व केंद्रीय मंत्री अजय माकन समेत कांग्रेस के कई नेताओं ने सिब्बल पर निशाना साधा और कहा कि जिस पार्टी ने उन्हें सब कुछ दिया, उसे नीचा नहीं दिखाना चाहिए।

माकन ने आरोप लगाया कि सिब्बल जैसे नेता पार्टी के उन कार्यकर्ताओं का हौसला पस्त कर रहे हैं जो कांग्रेस की विचारधारा के साथ खड़े हैं। कांग्रेस नेता और चांदनी चौक से पूर्व विधायक अलका लांबा ने दावा किया कि कपिल सिब्बल जी से 2020 के विधानसभा चुनावों में मैं निवेदन करती रही सर एक बार चांदनी चौक आ जाइए, एक बार भी नहीं आए,अपने घर पर जिन कार्यकर्ताओं स्थानीय नेताओं की मीटिंग बुलाई, अगले ही दिन सभी ने आम आमदी पार्टी का दामन थाम लिया, ना ही 2019 का चुनाव लड़ने वाले ही आए। इनके दम पर कॉंग्रेस चलेगी?'

Next Story