Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ऑक्सीजन की कमी मौत मामला: केंद्र ने जांच के लिए कमेटी बनाने का प्रस्ताव ठुकराया, मनीष सिसोदिया ने साधा निशाना

सिसोदिया ने कहा कि केंद्र सरकार ने ऑक्सीजन की कमी की वजह से हुई मौतों की जाँच के लिए कमेटी बनाने का प्रस्ताव फिर से नामंज़ूर कर दिया है। उन्होंने कहा कि एक तरफ़ तो राज्यों से ऑक्सीजन की कमी से हुई मौत का आंकड़ा मांगने का ड्रामा करते है, दूसरी तरफ़ जांच कमेटी को रुकवा देते है। आख़िर क्या छिपाना चाहतों है केंद्र सरकार?

ऑक्सीजन की कमी मौत मामला: केंद्र ने जांच के लिए कमेटी बनाने का प्रस्ताव ठुकराया, मनीष सिसोदिया ने साधा निशाना
X

ऑक्सीजन की कमी मौत मामला

दिल्ली में कोरोना की दूसरी लहर (Corona Second Wave) के दौरान ऑक्सीजन की कमी (Lack Of Oxygen) से हुई मौतों के मामले में केंद्र सरकार (Central Government) ने जांच के लिए कमेटी बनाने का प्रस्ताव नामंजूर कर दिया है। इस बारे में दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने शुक्रवार को जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने ऑक्सीजन की कमी की वजह से हुई मौतों की जाँच के लिए कमेटी बनाने का प्रस्ताव फिर से नामंज़ूर कर दिया है। उन्होंने कहा कि एक तरफ़ तो राज्यों से ऑक्सीजन की कमी से हुई मौत का आंकड़ा मांगने का ड्रामा करते है, दूसरी तरफ़ जांच कमेटी को रुकवा देते है। आख़िर क्या छिपाना चाहतों है केंद्र सरकार?

सिसोदिया ने कहा कि केंद्र चाहता है कि राज्य सरकारें कहें कि कोविड-19 की दूसरी लहर के दौरान ऑक्सीजन की कमी से कोई मौत नहीं हुई। आपको बता दें कि कोरोना की दूसरी लहर में ऑक्सीजन की कमी से कई लोगों ने दम तोड़ दिया था। लेकिन केंद्र सरकार ने संसद भवन में कहा था कि ऑक्सीजन की कमी से किसी की जान नहीं गई क्योंकि राज्य सरकारों ने इस संबंध में कोई भी जानकारी साझा नहीं की है।

इससे पहले, सिसोदिया ने कहा था कि दिल्ली सरकार ने एक फिर से उपराज्यपाल को शहर में ऑक्सीजन से संबंधित मौतों की जांच के लिए समिति गठित करने के अनुरोध वाली फाइल भेजी है। गृह मंत्री अमित शाह को पत्र लिखा है और उनसे दिल्ली के उपराज्यपाल को ऑक्सीजन से संबंधित मौतों की जांच के लिए समिति के गठन को मंजूरी देने का निर्देश दिये जाने आग्रह किया था।

Next Story