Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Oxygen Crisis In Delhi: ऑक्सीजन की कमी से जयपुर गोल्डन अस्पताल में 25 मरीजों की मौत

Oxygen Crisis In Delhi: जयपुर गोल्डन हॉस्पिटल के एमडी डॉक्टर डीके बलूजा ने दावा किया कि कल शाम ऑक्सीजन की आपूर्ति में कमी के कारण करीब 20 बेहद गंभीर मरीजों की मौत हो गई। दिल्ली के एक और अस्पताल सरोज अस्पताल में भी ऑक्सीजन की भारी किल्लत हो गई है। अस्पताल की ओर से कहा गया कि हम ऑक्सीजन की कमी की वजह से नई भर्तियां नहीं कर रहे और हम मरीजों को डिस्चार्ज कर रहे हैं।

Oxygen Crisis In Delhi: ऑक्सीजन की कमी से जयपुर गोल्डन अस्पताल में 20 मरीजों की मौत
X

ऑक्सीजन की कमी से जयपुर गोल्डन अस्पताल में 20 मरीजों की मौत

Oxygen Crisis In Delhi दिल्ली में कोरोना का महासंकट (Delhi Corona Pandemic) बरकरार है। कोरोना के मामले लगातार बढ़ते जा रहे है। जिसके कारण अस्पतालों (Hospitals) में ऑक्सीजन और दवाईयों की भारी कमी हो गई है। मरीजों को ऑक्सीजन (Lack Of Oxygen) नहीं मिल पा रही है। इसी बीच, ऑक्सीजन संकट के बीच जयपुर गोल्डन अस्पताल (Jaipur Golden Hospital) में गंभीर रूप से बीमार 25 मरीजों की मौत (20 Covid-19 Patients Die) हो गई है। इसकी जानकारी अधिकारियों ने दी है। दिल्ली के जयपुर गोल्डन अस्पताल के चिकित्सा निदेशक ने कहा कि हम ऑक्सीजन का इंतजार कर रहे हैं, 215 कोविड मरीज इस पर निर्भर हैं।

जयपुर गोल्डन हॉस्पिटल के एमडी डॉक्टर डीके बलूजा ने दावा किया कि कल शाम ऑक्सीजन की आपूर्ति में कमी के कारण करीब 25 बेहद गंभीर मरीजों की मौत हो गई। दिल्ली के एक और अस्पताल सरोज अस्पताल में भी ऑक्सीजन की भारी किल्लत हो गई है। अस्पताल की ओर से कहा गया कि हम ऑक्सीजन की कमी की वजह से नई भर्तियां नहीं कर रहे और हम मरीजों को डिस्चार्ज कर रहे हैं।

उधर, दिल्ली के तुगलकाबाद इंस्टीट्यूशनल एरिया में स्थित बत्रा अस्पताल में ऑक्सीजन खत्म होने के कुछ ही मिनट के भीतर दिल्ली सरकार ने ऑक्सीजन की आपात आपूर्ति की। अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी। अस्पताल के कार्यकारी निदेशक सुधांशु वैंकट ने बताया कि अस्पताल में सुबह करीब नौ बजे ऑक्सीजन खत्म हो गई थी। उन्होंने बताया कि अभी-अभी, दिल्ली सरकार की ओर से हमारे यहां ऑक्सीजन की आपात आपूर्ति की गई है। यह करीब डेढ़ घंटे तक चलेगी। हमारे यहां का आपूर्तिकर्ता फोन का जवाब नहीं दे रहा है। अस्पताल में करीब 350 मरीज भर्ती हैं जिनमें से 265 कोरोना वायरस से पीड़ित हैं तथा 30 मरीज आईसीयू में हैं।

Next Story