Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मणिपुर का कुख्यात उग्रवादी कमांडर दिल्ली में गिरफ्तार, अपहरण और जबरन वसूली के मामले में स्पेशल सेल ने की कार्रवाई

स्पेशल सेल ने बताया कि मंगखोलम किपगेन उर्फ डेविड किपगेन (24) का मणिपुर में सशस्त्र उग्रवादियों का बड़ा नेटवर्क है और वह जबरन वसूली के लिए पूर्वोत्तर के राज्य में प्रमुख परियोजनाओं और अन्य प्रतिष्ठानों में शामिल एक निर्माण कंपनी के कर्मचारियों के अपहरण की योजना बना रहा था। डीसीपी ने बताया कि मणिपुर पुलिस को किपगेन की गिरफ्तारी के बारे में सूचित कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि आगे जांच जारी है।

मणिपुर का कुख्यात उग्रवादी कमांडर दिल्ली में गिरफ्तार, अपहरण और जबरन वसूली के मामले में स्पेशल सेल ने की कार्रवाई
X

मणिपुर का कुख्यात उग्रवादी कमांडर दिल्ली में गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल (Delhi Police Special Cell) को बड़ी कामयाबी मिली है। यहां द्वारका से अपहरण और जबरन वसूली के मामलों में वांछित कुकी नेशनल फ्रंट (KNF) के कमांडर-इन-चीफ मंगखोलम किपगेन (Commander-in-Chief Mangkholm Kipgen) को गिरफ्तार (Arrested) किया गया है। बता दें कि कुकी नेशनल फ्रंट पूर्वोत्तर का उग्रवादी समूह है। स्पेशल सेल ने बताया कि मंगखोलम किपगेन उर्फ डेविड किपगेन (24) का मणिपुर में सशस्त्र उग्रवादियों का बड़ा नेटवर्क है और वह जबरन वसूली के लिए पूर्वोत्तर के राज्य में प्रमुख परियोजनाओं और अन्य प्रतिष्ठानों में शामिल एक निर्माण कंपनी के कर्मचारियों के अपहरण की योजना बना रहा था। डीसीपी ने बताया कि मणिपुर पुलिस को किपगेन की गिरफ्तारी के बारे में सूचित कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि आगे जांच जारी है।

गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने की कार्रवाई

गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने कार्रवाई की है। इस आरोपी के खिलाफ मणिपुर के विभिन्न थानों में अपहरण, गोलीबारी, रंगदारी, लूट समेत कई मामले दर्ज हैं। पुलिस के अनुसार 2018 में आरोपी मणिपुर में अपने गांव में केएनएफ कैडरों के संपर्क में आया और जबरन वसूली, डकैती और अन्य आपराधिक गतिविधियों में शामिल हो गया। पुलिस ने बताया कि जल्द ही किपगेन सुरक्षा बलों के हथियार छीनने, फिरौती के लिए अपहरण, जबरन वसूली और अन्य आपराधिक गतिविधियों में संलिप्तता के लिए कुख्यात हो गया और जून 2020 में उसने खुद को केएनएफ का स्वयंभू कमांडर-इन-चीफ घोषित कर दिया।

13 सितंबर को केएनएफ मनाता है 'काला दिवस'

डीसीपी ने कहा कि पिछले साल दिसंबर में किपगेन ने अपने सहयोगियों के साथ मणिपुर में कांगवई पुलिस चौकी के दो कर्मियों का कथित रूप से अपहरण कर लिया था और एक राइफल भी लूट ली थी। उन्होंने बताया कि किपगेन के साथियों को इस मामले में गिरफ्तार कर लिया गया था और लूटी गई राइफल भी बरामद कर ली गई थी, लेकिन आरोपी फरार था। पुलिस ने कहा कि 13 सितंबर को केएनएफ ने 'काला दिवस' मनाते हुए मणिपुर में वाहनों की आवाजाही को प्रतिबंधित करने और सभी प्रशासनिक कार्यालयों तथा व्यावसायिक प्रतिष्ठानों को बंद करने की घोषणा की थी।

Next Story