Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

नोएडा यमुना एक्सप्रेस-वे के साथ दौड़ेगी बुलेट ट्रेन, 4 घंटे से भी कम समय में पूरी होगी दिल्ली से वाराणसी की यात्रा

दिल्ली से वाराणसी के बीच चलने वाली बुलेट ट्रेन (Delhi-Varanasi Bullet Train) के लिए एलिवेटेड ट्रैक लाइन को यमुना एक्सप्रेस-वे के किनारे बिछाने का मसौदा तैयार किया गया है। वहीं बताया जा रहा है कि बुलेट ट्रेन के नोएडा में दो स्‍टेशन होंगे। इसका पहला स्टॉपेज नोएडा का 148 सेक्टर रहेगा। वहीं दूसरा स्टेशन जेवर को बनाने की तैयारी की जा रही है।

नोएडा यमुना एक्सप्रेस-वे के साथ दौड़ेगी बुलेट ट्रेन, 4 घंटे से भी कम समय में पूरी होगी दिल्ली से वाराणसी की यात्रा
X

नोएडा यमुना एक्सप्रेस-वे के साथ दौड़ेगी बुलेट ट्रेन

दिल्ली सटे नोएडा के लोगों के लिए अच्छी खबर सामने आई है। बुलेट ट्रेन (Bullet Train) परियोजना की प्रक्रिया को बढ़ाते हुए राजधानी से उत्तर प्रदेश ले जाने प्लान बनाया गया है। दिल्ली से वाराणसी के बीच चलने वाली बुलेट ट्रेन (Delhi-Varanasi Bullet Train) के लिए एलिवेटेड ट्रैक लाइन (Elevated Track Line) को यमुना एक्सप्रेस-वे (Yamuna Expressway) के किनारे बिछाने का मसौदा तैयार किया गया है। वहीं बताया जा रहा है कि बुलेट ट्रेन के नोएडा में दो स्‍टेशन होंगे। इसका पहला स्टॉपेज नोएडा का 148 सेक्टर रहेगा। वहीं दूसरा स्टेशन जेवर को बनाने की तैयारी की जा रही है।

इसके लिए परियोजना को लेकर नियाल और रेलवे अधिकारियों के बीच सहमति बन गई है। अब दिल्ली-वाराणसी हाई स्पीड रेल कॉरिडोर का काम नेशनल हाई स्पीड रेल कॉरपोरेशन लिमिटेड (NHSRCL) के पास है। बुलेट ट्रेन परियोजना के तहत दिल्ली के सराय काले खां से शुरू की जाएगी। इसके अलावा बुलेट ट्रेन स्टेशन यूपी के मथुरा, आगरा, इटावा, कानपुर, लखनऊ, रायबरेली, प्रयागराज, संतरविदास नगर, मिर्जापुर और प्रधानमंत्री मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में भी होंगे। यह बुलेट ट्रेन दिल्ली से नोएडा जेवर एयरपोर्ट तक की दूरी 62 किलोमीटर की होगी।

जेवर एयरपोर्ट से मथुरा तक 20 मिनट में पहुंचेगी। जबकि दिल्ली से आगरा 55 मिनट, तो लखनऊ तक 2 घंटे 50 मिनट लगेंगे। वहीं, दिल्ली से वाराणसी तक 816 किलोमीटर की यात्रा 4 घंटे से भी कम समय में पूरा हो जाएगा। इसके अलावा एक टाइम पर बुलेट ट्रेन में 800 यात्री सफर कर पाएंगे। उधर, नोएडा जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट की योजना के साथ ही सरकार ने इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे को जोड़ने का रास्ता साफ कर दिया है। अब नोएडा इंटनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड को दिल्ली से नोएडा एयरपोर्ट के बीच बुलेट ट्रेन चलाने के लिए ड्राफ्ट रिपोर्ट सौंपी जा चुकी है। जिससे लेकर यहां के लोगों में खुशी की लहर दौड़ पड़ी।

Next Story