Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हाईटेक शहर में अब नहीं दिखेगी गंदगी, नोएडा प्राधिकरण ने नई टीम बनाकर जारी किया Whatsapp नंबर

इन 16 टीमों में से सड़क के किनारे लगे डस्टबिन से त्वरित कूड़ा उठाने के लिए दो टीम, ड्रेन से गंदगी और फ्लोटिंग मैटेरियल साफ करने के लिए आठ टीमें, विभिन्न स्थानों पर पड़े हुए सीएंडडी वेस्ट उठाने के लिए चार टीमें, शौचालयों और यूरिनल ब्लाक्स की सफाई के लिए दो टीमें बनाई गई हैं।

हाईटेक शहर में अब नहीं दिखेगी गंदगी, नोएडा प्राधिकरण ने बनाई खास टीम, Whatsapp नंबर जारी
X

हाईटेक शहर में अब नहीं दिखेगी गंदगी

दिल्ली-एनसीआर (Delhi Ncr) को साफ सुथरा और प्रदूषण मुक्त (Pollution Free) बनाने को लेकर बहुत अच्छी पहल की गई है। नोएडा प्राधिकरण (Noida Authority) ने इसके लिए योजना बनाई है। इस योजना के तहत क्यूआरटी टीम (QTR Team) बनाई गई है। जो कि दिल्ली-एनसीआर में फैलने वाली गंदगी को साफ करेगी। जिसके बाद हाईटेक शहर चमचमाता दिखेगा। आपको बता दें कि नोएडा प्राधिकरण ने शहर में 16 टीम बनाई है जो कि शिकायत मिलने के बाद कुछ ही देर में गंदगी को साफ कर देगी। इससे लोगों से जुड़ी परेशानियों को भी दूर किया जाएगा। इन 16 टीमों में से सड़क के किनारे लगे डस्टबिन से त्वरित कूड़ा उठाने के लिए दो टीम, ड्रेन से गंदगी और फ्लोटिंग मैटेरियल साफ करने के लिए आठ टीमें, विभिन्न स्थानों पर पड़े हुए सीएंडडी वेस्ट उठाने के लिए चार टीमें, शौचालयों और यूरिनल ब्लाक्स की सफाई के लिए दो टीमें बनाई गई हैं।

हरी झंडी दिखाकर टीम को किया गया रवाना

सीईओ रितु माहेश्वरी ने जानकारी देते हुए कहा कि सभी 16 क्यूआरटी टीम को अलग-अलग काम के हिसाब से बांटा गया है। जैसे यह सड़कों पर आकस्मिक रूप से फैले हुए कंस्ट्रक्शन मेटेरियल, डिमोलेशन वेस्ट, शहर में सार्वजनिक और मार्केट आदि के शौचालयों में लगे डस्टबिन से कूड़ा उठाने, गंदे शौचालयों, नालों से गंदगी, फ्लोटिंग मैटेरियल उठाने का काम करेंगी। उन्होंने टीम को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इंदिरा गांधी कला केंद्र में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान सीईओ ने इससे जुड़ी और भी जानकारी दी।

नोएडा प्राधिकरण ने मांगे सुझाव

नोएडा प्राधिकरण हाइटेक सिटी को और साफ सुथरा बनाने के लिए लोगों से सुझाव भी मांग रही है। इसके लिए प्राधिकरण की ओर से नोएडा में 10 जगहों पर स्वच्छता सुझाव केंद्र बनाए गए हैं। केंद्र पर प्राधिकरण और एनजीओ से जुड़े लोग लोगों के सुझाव ले रहे हैं। एच ब्लाक सेक्टर-11, मैकडोनाल्ड सेक्टर-18, वेंडिंग जोन सेक्टर-50, टॉट मॉल सेक्टर-62, शिल्प हाट सेक्टर-33ए, पर्थला मार्केट सेक्टर-122, याकूबपुर सेक्टर-86, कॉमर्शियल मार्केट सेक्टर-104, सेक्टर-110 मार्केट, एचसीएल सेक्टर-126 में केन्द्र बनाए गए हैं।

Next Story