Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Money Laundering Case: सत्येंद्र जैन की न्यायिक हिरासत बढ़ाने से कोर्ट का इनकार, वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए पेश होने के दिए आदेश

मनी लॉन्ड्रिंग मामले (Money Laundering Cases) में राउज एवेन्यू की विशेष सीबीआई कोर्ट (CBI Court) ने दिल्ली के मंत्री सत्येंद्र जैन (Satyendar Jain) की न्यायिक हिरासत बढ़ाने से इनकार कर दिया है। चूंकि सत्येंद्र जैन अस्पताल में भर्ती (Jain, Satyendar Jain Hospitalized) हैं, ऐसे में न तो जैन को कोर्ट में पेश किया गया और न ही उनकी तरफ से कोई कोर्ट में पेश हुआ।

Money Laundering Case: सत्येंद्र जैन की न्यायिक हिरासत बढ़ाने से कोर्ट का इनकार, वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए पेश होने के दिए आदेश
X

मनी लॉन्ड्रिंग मामले (Money Laundering Cases) में राउज एवेन्यू की विशेष सीबीआई कोर्ट (CBI Court) ने दिल्ली के मंत्री सत्येंद्र जैन (Satyendar Jain) की न्यायिक हिरासत बढ़ाने से इनकार कर दिया है। चूंकि सत्येंद्र जैन अस्पताल में भर्ती (Jain, Satyendar Jain Hospitalized) हैं, ऐसे में न तो जैन को कोर्ट में पेश किया गया और न ही उनकी तरफ से कोई कोर्ट में पेश हुआ।

कोर्ट ने ईडी को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए आज दोपहर सत्येंद्र जैन को कोर्ट में पेश करने का निर्देश दिया है। ईडी दोपहर करीब 2 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए दिल्ली सरकारके मंत्री सत्येंद्र जैन को विशेष अदालत में पेश कर न्यायिक हिरासत बढ़ाने की मांग करेगी। बात दें मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ईडी ने 30 मई को सत्येंद्र जैन को गिरफ्तार किया था, कोर्ट ने इस मामले में सत्येंद्र जैन की जमानत अर्जी भी खारिज कर दी है।

कुछ दिन पहले दिल्ली सरकार (Delhi Government) के मंत्री सत्येंद्र जैन का ऑक्सीजन लेवल गिरने के बाद उन्हें एलएनजेपी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जैन को प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) ने पिछले 30 मई को धन शोधन अधिनियम की धाराओं के तहत एक मामले में गिरफ्तार (Arrested) किया था और वह वर्तमान में न्यायिक हिरासत में है।

ईडी इस मामले की जांच कर रही है। सूत्रों ने तब बताया कि उन्हें पहले तिहाड़ जेल से जीबी पंत अस्पताल लाया गया, फिर उन्हें एलएनजेपी अस्पताल (LNJP Hospital) में भर्ती कराया गया। जेल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि उनका ऑक्सीजन स्तर नीचे चला गया था और उनकी इलेक्ट्रोकार्डियोग्राफी (ईसीजी) में कुछ बदलाव देखे गए थे, जिसके बाद उन्हें दिल की जांच के लिए अस्पताल भेजा गया था।

और पढ़ें
Next Story