Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Mausam Ki Jankari: दिल्ली में 11 साल बाद मार्च रहा सबसे गर्म महीना, आने वाले दिनों में झुलसाएगी गर्मी, IMD ने लू को लेकर किया अलर्ट

Mausam Ki Jankari: भारत मौसम विज्ञान विभाग ने अप्रैल और जून के लिए मौसम का पूर्वानुमान भी जारी किया है। इसमें कहा गया है कि आने वाले दिनों में तापमान में और अधिक बढ़ोतरी हो सकती है। वहीं 2 अप्रैल तक उत्‍तर पश्चिमी इलाकों में बारिश और मध्‍य भारत में लू चलने का पूर्वानुमान जताया गया है। आईएमडी के अनुसार अप्रैल से जून तक आगामी गर्मियों के मौसम के दौरान उत्तर, उत्तर-पश्चिम के अधिकांश उप-मंडलों और पूर्व मध्य भारत के कुछ उप-मंडलों में सामान्य से अधिक मौसमी अधिकतम तापमान की संभावना है।

Mausam Ki Jankari: दिल्ली में 11 साल बाद मार्च रहा सबसे गर्म महीना, आने वाले दिनों में झुलसाएगी गर्मी, IMD ने लू को लेकर किया अलर्ट
X

दिल्ली में 11 साल बाद मार्च रहा सबसे गर्म महीना

Mausam Ki Jankari दिल्ली में गर्मी का प्रकोप शुरू हो चुका है। मार्च में ही तापमान (Delhi Temperature) बढ़कर 40 के पार हो चुका है। जिससे लोगों को काफी परेशानी होने लगी है। दिन के वक्त सूरज की तपिश से लोगों का जीना बेहाल सा होने लगा है। ऐसे में आने वाले दिनों में सूरज (Sun) का और कहर देखने को मिल सकता है। इसी बीच, मौसम विभाग (IMD) ने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में मार्च (March) में इस महीने अधिकतम औसत तापमान 33.1 डिग्री सेल्सियस रहा। इसी के चलते यह पिछले 11 साल का सबसे गर्म महीना बन गया।

भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, दिल्ली में मार्च के महीने में आम तौर पर औसत अधिकतम तापमान 29.6 डिग्री सेल्सियस रहता है। इस संबंध में एक अधिकारी ने कहा कि 2010 के बाद से इस साल मार्च में महीने में अधिकतम औसत तापमान 34.1 डिग्री सेल्सियस था। इस साल मार्च में अधिक तापमान की वजह मजबूत पश्चिमी विक्षोभ की अनुपस्थिति हो सकती है।

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने अप्रैल और जून के लिए मौसम का पूर्वानुमान भी जारी किया है। इसमें कहा गया है कि आने वाले दिनों में तापमान में और अधिक बढ़ोतरी हो सकती है। वहीं 2 अप्रैल तक उत्‍तर पश्चिमी इलाकों में बारिश और मध्‍य भारत में लू चलने का पूर्वानुमान जताया गया है। आईएमडी के अनुसार, अप्रैल से जून तक आगामी गर्मियों के मौसम के दौरान उत्तर, उत्तर-पश्चिम के अधिकांश उप-मंडलों और पूर्व मध्य भारत के कुछ उप-मंडलों में सामान्य से अधिक मौसमी अधिकतम तापमान की संभावना है। हालांकि, दक्षिण प्रायद्वीप भारत के अधिकांश उपमंडलों और पूर्व, उत्तर पूर्व तथा सुदूर उत्तर भारत के कुछ उप-मंडलों में सामान्य से कम मौसमी अधिकतम तापमान की संभावना है।

Next Story