Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Mausam Ki Jankari: दिल्ली में मौसम हुआ सुहाना, कई इलाकों में हल्की बारिश, गर्मी से लोगों को मिली राहत

Mausam Ki Jankari: भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के पूर्वानुमान में आज दिल्ली- एनसीआर के कई शहरों में फिर में दिन भर आंशिक रूप से बादल छाए रहेने की बात कही थी और 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने की संभावना जताई गई है।

Mausam Ki Jankari: दिल्ली में मौसम सुहाना, कई इलाकों में हल्की बारिश, गर्मी से लोगों को मिली राहत
X

दिल्ली में मौसम सुहाना, कई इलाकों में हल्की बारिश

Mausam Ki Jankari दिल्ली में मौसम ने एक बार फिर से करवट ली है। जिसके कारण मौसम (Weather) बेहद सुहाना बन गया है। वहीं आज सुबह से आसमान में बादल छाए हुए है। जबकि दिल्ली के कई इलाकों में हल्की बारिश (Light Rain) भी देखने को मिल रही है। राजधानी में तेज गति से ठंडी हवाएं चल रही है। इससे लोगों को गर्मी (Relief From Heat) से राहत मिलेगी। बता दें कि आज उत्तर भारत के ज्यादातर राज्यो में मौसम विभाग (IMD) की तरफ से बारिश का अलर्ट (Rain Alert) जारी किया था। मौसम विभाग ने बताया कि दिल्ली (Delhi Weather) में आज ऐसा ही मौसम रहने का अनुमान है। शुक्रवार को बादल छाए रहेंगे। साथ ही हल्की बारिश भी होने की संभावना है।

इससे तापमान में कुछ कमी आने और गर्मी से राहत रहने की उम्मीद है। मौसम विभाग के अनुसार, दिल्ली में न्यूनतम तापमान 20 डिग्री सेल्सियस जबकि अधिकतम तापमान 35 डिग्री सेल्सियस रहने का पूर्वानुमान है। जबकि आज सुबह दिल्ली में 15 डिग्री सेल्सियस के आस-पास दर्ज किया गया था। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के पूर्वानुमान में आज दिल्ली- एनसीआर के कई शहरों में फिर में दिन भर आंशिक रूप से बादल छाए रहेने की बात कही थी और 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने की संभावना जताई गई है।

दिल्ली में शुरू हुई हल्की बारिश के बाद तापमान में कुछ कमी आएगी तो गर्मी से राहत मिलेगी। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के आंकड़ों के मुताबिक, राष्ट्रीय राजधानी में वायु गुणवत्ता मध्यम श्रेणी में दर्ज की गई। सुबह नौ बजे के बाद वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 162 दर्ज किया गया। आपकी जानकारी के बता दें कि 50 के बीच के एक्यूआई को अच्छा, 51 से 100 को संतोषजनक, 101 से 200 को मध्यम, 201 से 300 को खराब, 301 से 400 को बहुत खराब और 401 से 500 को गंभीर श्रेणी में माना जाता है।

Next Story