Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Mausam Ki Jankari: दिल्ली को नसीब हुई मानसून की पहली बारिश, सड़कें पानी से लबालब, लगा लंबा जाम

Mausam Ki Jankari: भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने कहा कि 16 दिन की देरी से मंगलवार को राजधानी पहुंच गया। बीते 19 सालों में मानसून के आगमन में यह सबसे अधिक देरी है। 2002 में मानसून 19 जुलाई को दिल्ली पहुंचा था। इसी बीच, मंगलवार सुबह 7 बजे से 8.30 बजे तक हुई बारिश में पूरी दिल्ली लबालब हो गई। कई जगह सड़कों पर पानी का जमाव देखा गया।

Mausam Ki Jankari: दिल्ली को नसीब हुई मानसून की पहली बारिश, सड़कें पानी से लबालब, लगा लंबा जाम
X

दिल्ली को नसीब हुई मानसून की पहली बारिश

Mausam Ki Jankari आखिरकार मानसून की पहली बारिश दिल्ली (Delhi Rain) को आज नसीब हो गई। कई दिनों से दिल्लीवासी गर्मी और उमस से बेहाल थे। वहीं मानसून (Monsoon) के इंतजार में आंखे थक गई थी। फिलहाल सुबह से दिल्ली में बारिश हो रही है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने कहा कि 16 दिन की देरी से मंगलवार को राजधानी पहुंच गया। बीते 19 सालों में मानसून के आगमन में यह सबसे अधिक देरी है। 2002 में मानसून 19 जुलाई को दिल्ली पहुंचा था। इसी बीच, मंगलवार सुबह 7 बजे से 8.30 बजे तक हुई बारिश में पूरी दिल्ली लबालब हो गई। कई जगह सड़कों पर पानी का जमाव देखा गया।

इस दौरान सफदरजंग में 2.5 एमएम, पालम में 2.4 एमएम, आयानगर में 1.3 एमएम, रिज एरिया में 1.0 एमएम और लोधी रोड में 1.94 एमएम बारिश हुई। भारी बारिश के बाद दिल्ली में कई इलाकों में जल भराव की वजह से सड़कों पर जाम लग गया। मथुरा रोड पर पानी भरने से ट्रैफिक जाम की नौबत आ गई। वहीं, सरिता विहार, दिल्ली कैंट, सेंट्रल दिल्ली समेत कई जगह लोगों को जलभराव की वजह से परेशान होना पड़ रहा है। झमाझम बारिश के कारण दिल्ली में एनएच-9 पर जाम लग गया।

आपको बता दें कि इस साल दिल्ली में मानसून के आगमन को लेकर मौसम विभाग को पूर्वानुमान में मुश्किल आई। कई पूर्वानुमानों के बाद आईएमडी ने सोमवार को माना कि मानसून के अनुमान में गणितीय मॉडल की इस तरह की नाकामी दुर्लभ और असामान्य है। आईएमडी ने इससे पहले कहा था कि मानसून तय तिथि से 12 दिन पहले, 15 जून को दिल्ली पहुंचेगा लेकिन हवाओं की स्थिति से इसका आगमन प्रभावित हुआ। जून के शुरुआत में मौसम विभाग ने कहा था कि सात जुलाई तक दिल्ली और उत्तर पश्चिम भारत के अन्य हिस्सों में मानसून के आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल हो जाएंगी। बाद में इसने कहा कि दिल्ली में मानसून की पहली बारिश 10 जुलाई के आसपास होगी।

मौसम विभाग ने शनिवार को एक बार फिर पूर्वानुमान में संशोधन करते हुए कहा कि अगले 24 घंटों में मानसून राजधानी में पहुंच सकता है। लेकिन रविवार भी बारिश के इंतजार में बीत गया और सोमवार को भी बारिश नहीं हुई। इस क्षेत्र में मानसून की कमी के कारण मध्य दिल्ली अब देश में बारिश की सबसे अधिक कमी वाला जिला है, जहां अमूमन एक जून से मानसून का मौसम शुरू हो जाता है। लेकिन वर्तमान में यहां सामान्य 132 मिमी के मुकाबले केवल 8.5 मिमी बारिश हुई है जो 94 प्रतिशत कम है। दिल्ली में अब तक सामान्य से 67 प्रतिशत कम बारिश हुई है, जिससे यह बारिश की बहुत अधिक कमी'' वाले राज्यों की श्रेणी में आ गया है। आईएमडी ने कहा कि वह देश के बाकी हिस्सों में मानसून की प्रगति पर लगातार नजर रख रहा है।

Next Story