Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Mausam Ki Jankari: दिल्ली में गर्मी और उमस से लोगों का बुरा हाल, आज भी लू चलने का अनुमान, IMD ने चेताया

Mausam Ki Jankari: भारत मौसम विज्ञान विभाग ने यह जानकारी देते हुए कहा कि यहां मानसून आने में कम से कम एक सप्ताह और लगेगा। विभाग के अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली में सफदरजंग वेधशाला में अधिकतम तापमान सामान्य से सात डिग्री अधिक दर्ज किया गया। सात जुलाई तक मानसून के क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल होने का अनुमान जताया गया है।

Mausam Ki Jankari: दिल्ली में गर्मी और उमस से लोगों का बुरा हाल, लू चलने का अनुमान, IMD ने चेताया
X

 गर्मी और उमस से लोगों का बुरा हाल

Mausam Ki Jankari दिल्ली में गर्मी और उमस (Heat And Humidity) से लोगों का हाल बेहाल है। सुबह से तपता सूरज निकलने से गर्मी और बढ़ गई है। जिसे दिल्लीवासियों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है और न्यूनतम तापमान (Delhi Temperature) सामान्य से चार डिग्री अधिक 31.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने बताया कि शहर में अधिकतम तापमान 42 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने का अनुमान है। सापेक्ष आर्द्रता का स्तर सुबह साढ़े आठ बजे तक 43 प्रतिशत दर्ज किया गया।

मौसम विज्ञानियों ने दिन में 'लू' (Heat Wave) चलने का पूर्वानुमान जताया है। मैदानी हिस्सों के लिए 40 डिग्री से अधिक और सामान्य से कम से कम 4.5 डिग्री अधिक तापमान पर लू चलने की अनुमान जताया गया है। दिल्ली में इस गर्मी की पहली लू चली और पारा 43 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। इससे पहले, बीते दिन लू के जबरदस्त थपेड़ों का सामना करना पड़ा और तापमान 43.5 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया जो इस साल अब तक का सबसे अधिक तापमान है।

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने यह जानकारी देते हुए कहा कि यहां मानसून आने में कम से कम एक सप्ताह और लगेगा। विभाग के अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली में सफदरजंग वेधशाला में अधिकतम तापमान सामान्य से सात डिग्री अधिक दर्ज किया गया। सात जुलाई तक मानसून के क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल होने का अनुमान जताया गया है। इस बीच दिल्ली की वायु गुणवत्ता बृहस्पतिवार सुबह खराब श्रेणी में दर्ज की गयी।

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड से मिले आंकड़ों के अनुसार, सुबह आठ बजकर पांच मिनट पर वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 266 था। गौरतलब है कि शून्य से 50 के बीच के एक्यूआई को अच्छा, 51 से 100 के बीच को संतोषजनक, 101 और 200 के बीच को मध्यम, 201 और 300 के बीच को खराब, 301 और 400 के बीच को बहुत खराब और 400 से 500 को गंभीर श्रेणी में रखा जाता है।

Next Story