Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Mausam Ki Jankari: दिल्ली-NCR में फिर बदलेगा मौसम, इन इलाकों में होगी झमाझम बारिश, IMD ने जारी किया अलर्ट

Mausam Ki Jankari: मौसम विभाग के अनुसार, अगले दो घंटों में दिल्ली के तमाम इलाकों में बारिश होगी। आईएमडी वेदर के अनुसार वेस्ट दिल्ली, सेंटर दिल्ली, नई दिल्ली, साउथ वेस्ट दिल्ली, साउथ दिल्ली, साउथ वेस्ट दिल्ली में बारिश हो सकती है। आईएमदी वेदर के मुताबिक नरेला,बवाना, अलीपुर, अक्षरधाम सहित लोधी रोड और सफदरगंज में भी बारिश हो सकती है।

Mausam Ki Jankari: दिल्ली में सर्दी की पहली बारिश जल्द होगी, IMD ने येलो अलर्ट किया जारी
X

 दिल्ली में सर्दी की पहली बारिश जल्द होगी

Mausam Ki Jankari दिल्ली में बीते दिन हुई कई जगहों पर हल्की बारिश (Delhi Rain) ने थोड़ी गर्मी से राहत दी है। वहीं तापमान (Delhi Temperature) में भी मामूली गिरावट दर्ज की गई है। आज दिल्ली में बादल सुबह से छाए हुए है। मौसम विभाग (IMD) ने बताया कि दिल्ली-एनसीआर (Delhi NCR) में मौसम फिर से बदलेगा। पूर्वी दिल्ली सहित कई इलाकों में बारिश भी शुरू हो गई है। एनसीआर में भी काले बादल छाए हुए हैं और ठंडी-ठंडी हवाएं चल रही हैं। मौसम विभाग के अनुसार, अगले दो घंटों में दिल्ली के तमाम इलाकों में बारिश होगी। आईएमडी वेदर के अनुसार वेस्ट दिल्ली, सेंटर दिल्ली, नई दिल्ली, साउथ वेस्ट दिल्ली, साउथ दिल्ली, साउथ वेस्ट दिल्ली में बारिश हो सकती है। आईएमदी वेदर के मुताबिक नरेला,बवाना, अलीपुर, अक्षरधाम सहित लोधी रोड और सफदरगंज में भी बारिश हो सकती है।

इससे पहले, मंगलवार को दिल्ली में कई जगहों पर बारिश के बाद मौसम सुहाना हो गया। मध्य दिल्ली के रायसीना हिल और इंडिया गेट परिसर में भारी बारिश हुई जबकि उत्तरी दिलली और कुछ अन्य इलाकों में हल्की बारिश हुई। इससे पहले सुबह मौसम विभाग के अधिकारियों ने कहा कि दिल्ली में पारा कुछ अधिक है और न्यूनतम तापमान 29 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। भारत मौसम विज्ञान विभाग ने बताया कि सुबह सापेक्षिक आर्द्रता 71 प्रतिशत दर्ज की गयी।

मौसम विभाग ने पांच अक्टूबर से 10 अक्टूबर तक के लिए ग्रीन अलर्ट जारी किया है जिससे संकेत मिलता है कि मौसम ठीक रहेगा। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने कहा है कि उत्तर-पश्चिम भारत के कुछ हिस्सों से दक्षिण-पश्चिमी मानसून की वापसी की शुरुआत के लिए बुधवार से परिस्थितियां अनुकूल हैं। आईएमडी के राष्ट्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र के वरिष्ठ अधिकारी आर के जेनामणि के अनुसार, 1960 के बाद से दक्षिण-पश्चिमी मानसून की दूसरी सबसे देरी से वापसी है। 2019 में, उत्तर-पश्चिम भारत से मानसून की वापसी नौ अक्टूबर को शुरू हुई थी।

Next Story