Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मन की बात में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत को टॉय हब बनने की कही बात, टॉय क्लस्टर को लेकर जताई खुशी

चीन को चोट देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात में कहा, भारत को जल्द से जल्द बनाये खिलौनों का हब।

कोरोना को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की बैठक, कहा - पूरे देश में वैक्सीन पहुंचाने की व्यवस्था करें
X
पीएम नरेंद्र मोदी

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को मन की बात में चीन को चोट देने क लिए (Toy Business) खिलौना कारोबार की तरफ बढते कदमों को लेकर खुशी जाहिर की है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि भारत को खिलौना हब बनाना है। इससे बच्चों का बचपन खिलखिलाने के साथ ही चीन के बाजार को भी चोट पहुंचेगी। वहीं भारत आत्मनिर्भर बनेगा।

दरअसल, रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रेडियो कार्यक्रम पर मन की बात की। इसमें उन्होंने आत्मनिर्भर और (Make In India) मेक इन इंडिया पर बेहद जोर दिया। इसके साथ ही मोबाइल और इलेक्ट्रानिक बाजार को बड़ी चोट देने का दावा किया है। इतना ही नहीं पीएम ने कहा कि अब हमारी नजर चीन के खिलौना बाजार पर है। चीन को चोट देने के साथ ही बच्चों के बचपन को खुशहाल बनाने के लिए खिलौनों की अहम भूमिका है। ऐसे में भारत को टॉय हब बनाने का लक्ष्य है। इस पर लगातार काम किया जा रहा है। वहीं उन्होंने उत्तर प्रदेश के वाराणसी को भी बड़े टॉय क्लटर के रूप में विकसित करने की इच्छा जाहिर की है।

भारत को आत्मनिर्भर बनाने क लिए बडी भूमिका निभाएगी टॉय इंडस्ट्री

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत में (Toy Industry) टॉय इंडस्ट्री को बड़ी भूमिका निभानी है। इसके लिए असहयोग आंदोलन के समय गांधीजी ने कहा था कि यह भारतीयों में आत्मविश्वास जगाने का आंदोलन है। ऐसा ही हमें 'आत्मनिर्भर' भारत आंदोलन के साथ भी है। उन्होंने कहा कि करीब 100 वर्ष पहले, राष्ट्रपिता गांधी जी ने लिखा था कि असहयोग आंदोलन, देशवासियों में आत्मसम्मान और अपनी शक्ति का बोध कराने का एक प्रयास किया है। आत्मनिर्भर भारत में टॉय इंडस्ट्री अहम है। खिलौना वो हो जिसे बचपन खेले भी, खिलखिलाए भी। अब तो कंप्यूटर गेम्स का दौर है। इनमें ज्यादातर की थीम भारतीय होती है। आत्मनिर्भर भारत में टॉय इंडस्ट्री को बड़ी भूमिका निभानी है।

Next Story