Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

लोहे की छड़ से हमला कर पत्नी को मार डाला, साथ ही पढ़ें नोएडा की टॉप क्राइम न्यूज

पुलिस सूत्रों के अनुसार थाना क्षेत्र के टेगाई जलालपुर गांव निवासी राकेश सिंह को अपनी पत्नी लक्ष्मी (35) के चरित्र पर संदेह था। इसी बात को लेकर दोनों में अनबन रहती थी तथा आए दिन झगड़ा होता रहता था। उनके दो बच्चे भी हैं। एक अधिकारी ने बताया कि मंगलवार सुबह लगभग आठ बजे दोनों पति-पत्नी में झगड़ा हुआ और राकेश ने तैश में आकर लक्ष्मी के सिर पर लोहे की छड़ से वार कर दिया, जिससे वह घायल होकर गिर पड़ी।

लोहे की छड़ से हमला कर पत्नी को मार डाला, साथ ही पढ़ें नोएडा की टॉप क्राइम न्यूज
X

लोहे की छड़ से हमला कर पत्नी को मार डाला

Ghaziabad Crime गाजियाबाद के कौशांबी में एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी की कथित रूप से लोहे की छड़ से हमला (Murder With Iron Rod) कर हत्या कर दी और पुलिस (Police) के आने तक उसके शव के पास बैठा रहा। पुलिस सूत्रों के अनुसार थाना क्षेत्र के टेगाई जलालपुर गांव निवासी राकेश सिंह को अपनी पत्नी लक्ष्मी (35) के चरित्र पर संदेह था। इसी बात को लेकर दोनों में अनबन रहती थी तथा आए दिन झगड़ा होता रहता था। उनके दो बच्चे भी हैं। एक अधिकारी ने बताया कि मंगलवार सुबह लगभग आठ बजे दोनों पति-पत्नी में झगड़ा हुआ और राकेश ने तैश में आकर लक्ष्मी के सिर पर लोहे की छड़ से वार कर दिया, जिससे वह घायल होकर गिर पड़ी। इसके बाद राकेश ने बच्चों को कमरे से बाहर निकालकर दरवाजा अंदर से बंद कर लिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने दरवाजा तोड़कर देखा तो लक्ष्मी मृत अवस्था में पड़ी थी और राकेश उसके शव के पास बैठा था। इस संबंध में अपर पुलिस अधीक्षक समर बहादुर सिंह ने बताया कि आरोपी राकेश को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

बादलपुर में अवैध रूप से बालू खनन करने वाले छह गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश के नोएडा के बादलपुर इलाके में बालू का अवैध रूप से खनन करने के मामले में मंगलवार को छह लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया। बादलपुर थाना के प्रभारी निरीक्षक दिनेश कुमार सिंह ने मंगलवार को बताया कि अवैध बालू खनन के बारे में प्राप्त सूचना के आधार पर पुलिस की एक टीम ने राजतपुर गांव के पास से आज सुबह फुरकान, हरीश, अमित नागर, प्रदीप, ओमबीर तथा सुनील समेत कुल छह लोगों को गिरफ्तार कर लिया। उन्होंने बताया कि इनके पास से पुलिस ने चार ट्रैक्टर ट्रॉली तथा एक जेसीबी मशीन बरामद की है। उनके अनुसार, पूछताछ के दौरान पुलिस को पता चला है कि ये लोग कई दिनों से अवैध रूप से बालू का खनन कर रहे थे।

गंग नहर में डूबे युवक का शव बरामद

नोएडा जिले के जारचा क्षेत्र के खटाना गांव के पास रविवार को गंग नहर में नहाते समय 20 वर्षीय एक युवक की डूबने से मौत हो गयी और उसका शव सोमवार की रात को नहर से निकाला गया। पुलिस ने मंगलवार को यह जानकारी दी। राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) तथा पुलिस की टीम ने संयुक्त अभियान चलाकर मृतक के शव को सोमवार की रात दनकौर क्षेत्र के राजपुरा गांव के पास से नहर में से निकाला, फिर उसे पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। अपर पुलिस उपायुक्त (जोन तृतीय) विशाल पांडे ने बताया कि जारचा क्षेत्र के खटाना गांव के पास गंग नहर मे रविवार रात को 20 वर्षीय युवक मनीष नहा रहा था। नहाते समय वह नहर की तेज धार में बह गया और डूब गया। मनीष हापुड़ के रामगढ़ी का रहने वाला था। उन्होंने बताया कि घटना की सूचना मिलते ही पुलिस तथा एनडीआरएफ की टीम घटनास्थल पर पहुंची और मनीष की तलाश शुरू की। घटनास्थल से करीब 30 किलोमीटर दूर सोमवार की रात को युवक का शव बरामद किया गया। पानी का बहाव तेज होने की वजह से शव बहकर काफी दूर चला गया था।

विभिन्न सड़क हादसों में तीन की मौत

गौतमबुद्ध नगर जनपद के विभिन्न क्षेत्रों में तीन सड़क हादसों में तीन लोगों की मौत हो गई। पुलिस आयुक्त आलोक सिंह के मीडिया प्रभारी अभिनेन्द्र कुमार सिंह ने बताया कि जेवर थानाक्षेत्र के यमुना एक्सप्रेस वे पर बेगमाबाद के पास एक सड़क हादसे में स्कार्पियो सवार तीन लोगों को एक अज्ञात ट्रक चालक ने टक्कर मार दिया। उन्होंने बताया कि गंभीर हालत में उन्हे उपचार के लिए एक अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां पर उपचार के दौरान विजय कुमार शर्मा (50 वर्ष) की मौत हो गई। पुलिस शव को पोस्टमार्टम के लिए ले गयी है। मीडिया प्रभारी ने बताया कि एक्सप्रेस- वे थानाक्षेत्र में स्थित जेपी अस्पताल में राघव पुत्र साहब सिंह को सड़क दुर्घटना में घायल होने के बाद भर्ती कराया गया था। उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई है। पुलिस शव को पोस्टमार्टम के लिए ले गयी है। उन्होंने बताया कि नॉलेज पार्क थानाक्षेत्र में हुए एक सड़क हादसे में कपिल नामक युवक की मौत हो गई है। पुलिस शव को पोस्टमार्टम के लिए ले गयी है।

14 कोविड अस्पतालों में एक भी मामले नहीं

कोविड-19 की दूसरी लहर का कहर अब थम गया है और अब हालात भी तेजी से सुधर रहे हैं। दिल्ली से सटे गाजियाबाद जिले के 14 कोविड अस्पतालों में वर्तमान में एक भी कोरोना संक्रमित मरीज भर्ती नहीं है। इस कारण अस्पताल प्रबंधन ने प्रशासन से इन अस्पतालों को नॉन कोविड अस्पतालों में बदलने की मांग की है। वहीं, राजेंद्र नगर और मोदीनगर ईएसआई अस्पताल में बीते तीन दिन से कोई मरीज भर्ती नहीं हुआ। ऐसे में प्रबंधन ने शासन से इन्हें नॉन कोविड अस्पताल घोषित करने की मांग की है। दूसरी लहर की शुरुआत में संजयनगर स्थित 100 बेड के संयुक्त अस्पताल को कोविड लेवल-2 में तब्दील कर दिया गया था, लेकिन दूसरी लहर ने अप्रैल 2021 से रफ्तार पकड़नी शुरू कर दी। 30 अप्रैल तक जिले में एक्टिव केसों की संख्या 6,645 पर पहुंच गई। प्रतिदिन 150 से अधिक संक्रमित मरीज सामने आ रहे थे।

Next Story