Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi : जहांगीरपुरी में रैपिड एक्शन फोर्स तैनात, वीडियो और तस्वीरों से पुलिस को मिले अहम सबूत

दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके (Jahangirpuri Area) में शनिवार को हनुमान जयंती (Hanuman Jayanti) जुलूस के दौरान हुई हिंसा ने देश की राजधानी को हिला कर रख दिया। इसका पता लगाने के लिए दिल्ली पुलिस की दस टीमों का गठन किया गया है।

Delhi : जहांगीरपुरी में रैपिड एक्शन फोर्स तैनात, वीडियो और तस्वीरों से पुलिस को मिले अहम सबूत
X

दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके (Jahangirpuri Area) में शनिवार को हनुमान जयंती (Hanuman Jayanti) शोभायात्रा के दौरान हुई हिंसा ने देश की राजधानी को हिला कर रख दिया। इसका पता लगाने के लिए दिल्ली पुलिस की दस टीमों का गठन किया गया है। स्पेशल सेल (Special Cell) और क्राइम ब्रांच (Crime Branc) भी हिंसा की जांच में जुट गई है।

जहांगीरपुरी इलाके के लोगों का कहना है कि शाम को यहां शांतिपूर्ण तरीके से शोभायात्रा निकाला जा रहा था। सी-ब्लॉक की मस्जिद (Masjid) के बाहर अचानक कुछ शरारती तत्व धार्मिक नारे लगाने लगे। इसके बाद वहां काफी हल्ला होने लगा। नारेबाजी के बीच किसी ने यात्रा पर पथराव कर दिया। इसके बाद भीड़ पूरी तरह से बेकाबू हो गई। लोगों ने हंगामा करना शुरू कर दिया। छतों से पथराव भी होने लगा।

यात्रा में शामिल पुलिसकर्मियों ने उन्हें रोकने की कोशिश की तो उन पर भी हमला कर दिया गया। कुछ ही देर में स्थिति बेकाबू हो गई। दोनों ओर से तोड़फोड़ व पथराव शुरू हो गया। कुछ लोगों ने दुकान और कुछ वाहनों में आग लगा दी। जहांगीरपुरी में मौजूद एक शख्स ने दावा किया कि स्थानीय लोगों को विद्रोह की पूर्व आशंका थी। हनुमान जयंती के अवसर पर संवेदनशील क्षेत्र से जानबूझकर यात्रा निकाली गई। दूसरे समुदाय ने इसकी पहले से ही तैयारी की गई थी।

पुलिस ने देर शाम स्थानीय प्रशासन की मदद से सड़कों से पत्थरों को हटाया था। अब पुलिस उन लोगों की पहचान करने की कोशिश करेगी जो इस हिंसा के लिए जिम्मेदार हैं। फिलहाल पुलिस के अलावा क्राइम टीम और एफएसएल की टीम ने मौके से सबूत जुटा लिए है। सीसीटीवी फुटेज के अलावा मोबाइल से बने वीडियो और फोटो को भी अपने कब्जे में ले लिया है। वही इस हिंसा के बाद दिल्ली में हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया है।

और पढ़ें
Next Story