Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Independence Day 2021: किसान आंदोलन और आतंकवादी हमले को लेकर लालकिले की बढ़ाई गई सुरक्षा, गेट पर लगाए गए बड़े-बड़े कंटेनर्स

Independence Day 2021: हर 15 अगस्त को प्रधानमंत्री लालकिले की प्राचीर से झंडा फहराते हैं, ऐसे में यहां सुरक्षा के चौकस इंतजाम रहते हैं। इसलिए सुरक्षा को और कड़ा किया जा रहा है और चप्पे-चप्पे पर सुरक्षाकर्मियों की तैनाती की जा रही है और बड़े कंटेनर्स को भी लगाए गए है। ताकि अगर कोई प्रदर्शनकारी पुलिस के चक्रव्यूह को भेदकर आता है तो वह कंटेनर्स को पार ना कर पाए। कई लेयर में सुरक्षा व्यवस्था की गई है।

Independence Day 2021: किसान आंदोलन और आतंकवादी हमले को लेकर लालकिले की बढ़ाई गई सुरक्षा, गेट पर लगाए गए बड़े-बड़े कंटेनर्स
X

किसान आंदोलन और आतंकवादी हमले को लेकर लालकिले की बढ़ाई गई सुरक्षा

Independence Day 2021 दिल्ली में स्वतंत्रता दिवस की तैयारी जोरों पर है। क्योंकि किसान आंदोलन (Farmers Protest) और आतंकवादी हमले (Terrorist Attack) की आंशका को देखते हुए लाल किले (Red Fort) की सुरक्षा बढ़ाई दी गई है। क्योंकि इस साल 26 जनवरी (Republic Day) को जो हिंसा लाल किले पर हुई थी उसे पूरे देश ने देखा था। इस दौरान 700 पुलिस वाले घायल हो गए थे। वहीं, हर 15 अगस्त को प्रधानमंत्री (PM Modi) लालकिले की प्राचीर से झंडा फहराते हैं, ऐसे में यहां सुरक्षा के चौकस इंतजाम रहते हैं। इसलिए सुरक्षा को और कड़ा किया जा रहा है और चप्पे-चप्पे पर सुरक्षाकर्मियों की तैनाती की जा रही है और बड़े कंटेनर्स को भी लगाए गए है। ताकि अगर कोई प्रदर्शनकारी पुलिस के चक्रव्यूह को भेदकर आता है तो वह कंटेनर्स को पार ना कर पाए। कई लेयर में सुरक्षा व्यवस्था की गई है।

इससे पहले, दिल्ली के पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना ने स्वतंत्रता दिवस से पहले सुरक्षा कड़ी करने एवं आतंकवाद संबंधी खुफिया सूचनाओं के आदान-प्रदान के लिए अपने समकक्षों के साथ बैठक की अध्यक्षता की। इस बैठक में हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश, झारखंड , बिहार, राजस्थान, चंडीगढ एवं जम्मू कश्मीर के शीर्ष अधिकारियों एवं दिल्ली पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने वीडियो कांफ्रेंस के जरिए हिस्सा लिया। जानकारी के मुताबिक, 15 अगस्त के दिन आतंकवादी के साथ असामाजिक तत्व हंगामा कर सकते हैं। ये लाल किले पर प्रदर्शन करने की कोशिश भी कर सकते हैं।

ऐसे में सुरक्षा को लेकर कोई कोताही नहीं बरती जा रही हैं। दिल्ली पुलिस व अर्धसैनिक बलों के जवानों चप्पे-चप्पे पर तैनाती के अलावा एनएसजी और एसपीजी की टीम भी सुरक्षा व्यवस्था की बारीक मॉनिटिरंग कर रही है। बता दें कि हालि में ही लाल किले के ऊपर ड्रोन उड़ते दिखाई दिया था ये ड्रोन वेब सीरिज की शूटिंग के लिए उड़ाया जा रहा था। जिसकी इजाजत भी नहीं ली गई थी। ड्रोन को कब्जे में लेकर संबंधित व्यक्ति पर कार्रवाई की जा रही है। इतनी कड़ी सुरक्षा का मुख्य कारण इस बार किसान आंदोलन को बताया जा रहा है।

Next Story