Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

CAA और हाथरस दंगे भड़काने के मामले में यूपी STF ने दिल्ली में की छापेमारी, PFI के दफ्तरों पर हुई कार्रवाई

यूपी एसटीएफ की टीम ने नागरिकता संशोधित कानून और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (CAA-NRC) के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान हिंसा फैलाने और हाथरस में दंगा भड़काने के मामले में पीएफआई के दफ्तर पर कई घंटे तक छापेमारी की। ये कार्रवाई स्टूडेंट विंग के रउफ शरीफ से पूछताछ के दौरान मिली जानकारी के बाद की गई है।

CAA और हाथरस दंगे भड़काने के मामले में यूपी STF ने दिल्ली में की छापेमारी, PFI के दफ्तरों पर हुई कार्रवाई
X

CAA और हाथरस दंगे भड़काने के मामले में यूपी STF ने दिल्ली में की छापेमारी

दिल्ली में उत्तर प्रदेश की स्पेशल टास्क फोर्स (STF) की टीम ने छापा मारा है। यूपी एसटीएफ की टीम ने नागरिकता संशोधित कानून और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (CAA-NRC) के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान हिंसा फैलाने और हाथरस में दंगा भड़काने के मामले में पीएफआई के दफ्तर पर कई घंटे तक छापेमारी की। ये कार्रवाई स्टूडेंट विंग के रउफ शरीफ से पूछताछ के दौरान मिली जानकारी के बाद की गई है।

यूपी एसटीएफ ने दिल्ली के शाहीन बाग में पीएफआई के दफ्तर में छापा मारी है। दिल्ली के साथ-साथ पीएफआई के कई ठिकानों पर कार्रवाई चल रही है। अभी इस कार्रवाई में किसी को हिरासत में लेने की कोई खबर नहीं आई है। न ही किसी बात की एसटीएफ के हवाले से जानकारी मिल पाई है। बता दें कि रउफ शरीफ पीएफआई के स्टूडेंट विंग सीएफआई का जनरल सेक्रेटरी है। वह कोच्चि की जेल में बंद था, जहां से उसे एसटीएफ की टीम ट्रांजिट रिमांड पर लेकर आई है। इस छापेमारी की कार्रवाई में एसटीएफ के 20 लोगों की टीम शामिल थी।

इसी क्रम में केरल की जेल में बंद रउफ शरीफ का नाम सामने आया था। एसटीएफ की टीम रउफ शरीफ से हाथरस में दंगे की साजिश और फंडिंग के बारे में पूछताछ कर रही है। रउफ शरीफ के खिलाफ ईडी ने भी कुछ दिन पहले चार्जशीट दाखिल की है। यूपी एसटीएफ के मुताबिक रउफ शरीफ के ऊपर उत्तर प्रदेश में नागरिकता संशोधित कानून और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर के खिलाफ प्रदर्शनों में भी फंडिंग करने का आरोप है। आपको बता दें कि हाथरस गैंगरेप मामले में चार लोगों को यूपी पुलिस ने गिरफ्तार किया था। इसको लेकर मथुरा में यूएपीए के तहत केस दर्ज हुआ था। पुलिस की ओर से कहा गया था कि मथुरा जाते समय गिरफ्तार 4 लोगों से पूछताछ में खुलासा हुआ कि हाथरस में दंगा फैलाने की साजिश थी।

Next Story