Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

एक ऐसी शादी जिसने हिंदू-मुस्लिम एकता की पेश की मिसाल, कानून के रखवालों ने भी जोड़े को दिया आशीर्वाद

युवक गौरव लॉकडाउन से पहले बरेली में नौकरी करता था। जहां उसको 21 साल की मुस्लिम युवती नियाजमीन से प्यार हो गया। जिसके बाद दोनों ने एक दूसरे का लाइफ-पार्टनर बनने का वायदा किया और अपने परिवार से छुपते-छुपाते बेरली से भागकर ग्रेटर नोएडा आ गए। जहां पर दोनों जेवर तहसील के पास रहने लगे।

एक ऐसी शादी जिसने हिंदू-मुस्लिम एकता की पेश की मिसाल, कानून के रखवालों ने भी जोड़े को दिया आशीर्वाद
X

एक ऐसी शादी जिसने हिंदू-मुस्लिम एकता की पेश की मिसाल

ग्रेटर नोएडा (Greater Noida) में धर्म और जाति से आगे बढ़कर एक संदेश देने वाली खबर सामने आई है। यहां के जेवर तहसील में एक मुस्लिम धर्म की युवती ने हिंदू धर्म के युवक से शादी की है। दोनों एक दूसरे से प्यार करते थे। लड़का ने बरेली की रहने वाली मुस्लिम लड़की से शादी रचाई है। वहीं लड़का बदांयु (Budaun) का निवासी है।

25 साल का हिन्दू लड़का बरेली में नौकरी करता था। जहां पर उसको 21 साल की मुस्लिम युवती से प्यार हो गया। दोनों काफी समय तक प्रेम-प्रसंग में रहे। दोनों की पहचान गौरव और नियाजमीन के तौर पर हुई है। वहीं पुलिस (Noida Police) इनकी शादी का गवाह बनी है।

युवक गौरव लॉकडाउन से पहले बरेली में नौकरी करता था। जहां उसको 21 साल की मुस्लिम युवती नियाजमीन से प्यार हो गया। इसके बाद दोनों ने एक दूसरे काे जीवन साथी बनाने वायदा किया। दोनों ने इस संबंध में अपने परिवारों को जानकारी दी, लेकिन जब परिवार वाले नहीं मानें तो दोनों प्रेमी प्रेमिका परिवार से छिपते-छिपाते बरेली से भागकर ग्रेटर नोएडा आ गये। यहां पर दोनों जेवर तहसील के पास रहने लगे। सोमवार को मुस्लिम युवती नियाजमीन ने अपना धर्म छोड़कर हिन्दू धर्म अपना लिया है और अपने प्रेमी गौरव से शादी कर ली है। जहां पर हिन्दू और मुस्लिम समाज के लोगों ने दोनों को आर्शीवाद दिया है। इसके बाद गौरव अपनी नई नवेली दुल्हन को अपने साथ लेकर चला गया है। दोनों की शादी में पुलिस और समेत समाज के अन्य लोग साक्षी बने।

Next Story