Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ग्रेटर नोएडा में बाइक सवार बदमाशों भाजपा नेता की सोने की चेन लूट, साथ ही पढ़ें नोएडा की टॉप न्यूज

पुलिस (Noida Police) के अनुसार, सुबह साढ़े छह बजे भाजपा के सूरजपुर मंडल उपाध्यक्ष राजेश शर्मा तीन अन्य साथियों के साथ सैर पर निकले थे। बाइक सवार बदमाश ने उन्हें रोक लिया और गले से सोने की चेन लूट ली। इससे भाजपा नेता के गले में चोट भी आई है।

ग्रेटर नोएडा में बाइक सवार बदमाशों भाजपा नेता की सोने की चेन लूट, साथ ही पढ़ें नोएडा की टॉप न्यूज
X

ग्रेटर नोएडा में बाइक सवार बदमाशों भाजपा नेता की सोने की चेन लूट

Greater Noida Crime ग्रेटर नोएडा में बाइक सवार बदमाशों (Bike Riding Miscreants) का आतंक बढ़ता जा रहा है। बदमाशों ने सैर पर निकले भाजपा नेता (BJP Leader) और वकील की सोने की चेन (Snatched Gold Chain) लूट ली। आशंका है कि दोनों वारदात में एक ही गिरोह (Gang) शामिल है। पुलिस (Noida Police) के अनुसार, सुबह साढ़े छह बजे भाजपा के सूरजपुर मंडल उपाध्यक्ष राजेश शर्मा तीन अन्य साथियों के साथ सैर पर निकले थे। बाइक सवार बदमाश ने उन्हें रोक लिया और गले से सोने की चेन लूट ली। इससे भाजपा नेता के गले में चोट भी आई है। राजेश ने बताया कि उनके पास मोबाइल नहीं था, लेकिन कुछ देर बाद ही पास से गुजर रहे पुलिस वाहन को उन्होंने घटना की जानकारी दी।

ठगी के आरोप में दो लोग गिरफ्तार

नोएडा के सेक्टर 36 स्थित साइबर अपराध थाना पुलिस ने लोगों से करोड़ों रुपये की ठगी करने के आरोप में दो लोगों को हरियाणा के मेवात से गिरफ्तार किया है। नोएडा के साइबर अपराध थाने के निरीक्षक विनोद पांडे ने बताया कि गाजियाबाद निवासी ए के माहेश्वरी ने शिकायत की थी कि कुछ लोगों ने उनका फ्लैट किराए पर लेने के लिए संपर्क किया था। आरोपियों ने उन्हें क्यूआर कोड भेजकर एडवांस में किराया देने के नाम पर उनके बैंक खाते से एक लाख 39 हजार रुपये निकाल लिये। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरु की थी, इस मामले में पुलिस ने हरियाणा के मेवात स्थित नूंह से दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। उन्होंने बताया कि आरोपियों की पहचान नूंह के गांव ठेक निवासी शमशेर और शफी मोहम्मद के रुप में हुई है। आरोपियों ने पीड़ित के साथ धोखाधड़ी करने की बात कबूल की है। पुलिस ने आरोपियों से विभिन्न बैंकों के 10 डेबिट कार्ड, 5 पीओएस मशीन और 2 मोबाइल बरामद किए हैं।

सेल्समैन से 12 लाख रुपए की लूट, प्रभारी निरीक्षक निलंबित

नोएडा के हाजीपुर अंडरपास के पास से बृहस्पतिवार शाम बदमाशों द्वारा तेल व्यापारी के सेल्समैन से 12 लाख रुपए की लूट के मामले में पुलिस आयुक्त ने लापरवाही बरतने पर थाना सेक्टर 39 के प्रभारी निरीक्षक आजाद सिंह तोमर को निलंबित कर दिया है। अपर पुलिस आयुक्त लव कुमार ने बताया कि दिल्ली के न्यू कोडली के रहने वाले व्यापारी प्रवीण गर्ग का रिफाइंड तेल का कारोबार है और उनका सेल्समैन सुखबीर बृहस्पतिवार को विभिन्न दुकानों से पैसा इकट्ठा करके हाजीपुर अंडरपास के पास से गुजर रहा था। उन्होंने बताया कि इसी बीच मोटरसाइकिल सवार हथियारबंद तीन बदमाशों ने उसे रोक लिया, तथा उसके साथ मारपीट करके स्कूटी की डिक्की में रखे 12 लाख रुपया लूट लिए। अपर आयुक्त ने बताया कि घटना की रिपोर्ट दर्ज कर पुलिस मामले की जांच कर रही है। उन्होंने बताया कि घटना के खुलासे के लिए पुलिस की तीन टीमें बनाई गई है, दिनदहाड़े हुई लूट की घटना के बाद थाना सेक्टर 39 केप्रभारी निरीक्षक आजाद सिंह तोमर को निलंबित कर दिया गया है।

45 लाख रुपये की डकैती मामले में पुलिस ने किया खुलासा

गाजियाबाद में आरडीसी स्थित देविका चैंबर्स में हुई 45 लाख रुपये की डकैती मामले में कविनगर कोतवाली पुलिस ने हापुड़ से पूर्व विधायक के बेटे समेत 11 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने इनके पास से 38 लाख 30 हजार की नकदी भी बरामद कर ली है। वहीं, बाकी रकम की बरामदगी और आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस दबिश दे रही है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पवन कुमार ने बताया कि मंगलवार को पुलिस कंट्रोल रूम में 45 लाख रुपये की लूट की सूचना आई थी। इसके तत्काल बाद एसपी सिटी नगर (प्रथम) निपुण अग्रवाल की टीम ने मामले की जांच शुरू करते हुए घंटे भर में ही साफ कर दिया था कि यह मामला लूट का नहीं है। बल्कि सभी आरोपी पीड़ित कारोबारी के जानने वाले हैं। चूंकि इस वारदात में मारपीट हुई और वारदात के वक्त मौके पर सात आरोपी मौजूद थे, इसलिए पुलिस ने डकैती की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू की।

36 निजी अस्पतालों में लगेंगे ऑक्सीजन प्लांट

गाजियाबाद के 36 निजी अस्पतालों को ऑक्सीजन प्लांट लगवाने होंगे, जिसमें नामी अस्पताल भी शामिल हैं। शासन की ओर से 50 बेड से अधिक वाले अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट लगाने के निर्देश दिए गए हैं। इसके तहत जिले में 53 अस्पताल चिन्हित किए गए, जिसमें से 17 के पास प्लांट हैं। कोरोना की दूसरी लहर के दौरान संक्रमितों कों ऑक्सीजन की दिक्कत झेलनी पड़ी थी। सरकारी और निजी अस्पतालों में ऑक्सीजन की किल्लत होने लगी थी। ऑक्सीजन की मारामारी के चलते मरीज अस्पतालों के बाहर दम तोड़ रहे थे। इस व्यवस्था को देखते हुए केंद्र सरकार की ओर से निजी और सरकारी अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट लगाने और कंसंट्रेटर की व्यवस्था करने के निर्देश जारी किए गए। इसी के तहत प्रदेश सरकार की ओर से जिले के सरकारी अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट लगाने के आवश्यक निर्देश दिए, जिसमें गाजियाबाद में नौ सरकारी अस्पतालों में 3,950 लीटर प्रति मिनट 11 ऑक्सीजन प्लांट लगने हैं।

Next Story