Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

गाजियाबाद में 'वॉक इन' कोरोना वैक्‍सीन अभियान शुरू, बिना लाइन में लगे लगवाएं टीका, साथ ही पढ़ें नोएडा की टॉप न्यूज

ट्रांस हिंडन में लोगों की सुविधा के लिए प्रशासन ने ज्ञानखंड एक के कैंब्रिज स्‍कूल में नया वैक्‍सीन सेंटर बनाया है। यहां पर रोजाना करीब 4000 लोगों को वैक्‍सीन लगाने का लक्ष्‍य रखा गया है। इसके लिए 10 रजिस्‍ट्रेशन और काउंटर व 10 वैक्‍सीनेशन बूथ बनाए गए हैं।

गाजियाबाद में वॉक इन कोरोना वैक्‍सीन अभियान शुरू, बिना लाइन में लगे लगवाएं टीका, साथ ही पढ़ें नोएडा की टॉप न्यूज
X

 कोरोना वैक्‍सीन 

Ghaziabad Corona Vaccination गाजियाबाद में वॉक इन कोरोना वैक्‍सीन अभियान (Walk In vaccination Campaign) की शुरूआत की गई है। अब बिना लाइन में लगे टीका लगवा सकते हैं। जिला प्रशासन (District Administration) के सहयोग से इंदिरापुरम (Indirapuram) के एक प्राइवेट अस्‍पताल (Private Hospital) द्वारा वैक्‍सीन सेंटर शुरू किया गया है। यहां पर लोग कोविन एप में रजिस्‍ट्रेशन कराकर वैक्‍सीन लगवा सकते हैं। यह सेंटर मैक्‍स वैशाली द्वारा शुरू किया गया है, जिसमें लोगों को वैक्‍सीन के लिए 1100 रुपए भुगतान करने होंगे। ट्रांस हिंडन में लोगों की सुविधा के लिए प्रशासन ने ज्ञानखंड एक के कैंब्रिज स्‍कूल में नया वैक्‍सीन सेंटर बनाया है। यहां पर रोजाना करीब 4000 लोगों को वैक्‍सीन लगाने का लक्ष्‍य रखा गया है। इसके लिए 10 रजिस्‍ट्रेशन और काउंटर व 10 वैक्‍सीनेशन बूथ बनाए गए हैं।

कोरोना से डेढ़ महीने बाद एक भी मौत नहीं, सुधर रहे हालात

नोएडा में कोरोना से मौतों का सिलसिला मंगलवार को थम गया। आज के दिन एक भी कोरोना संक्रमित मरीज की मौत नहीं हुई। 5 अप्रैल के बाद इस बीमारी से संक्रमित मरीजों की लगातार मौत हुई। वहीं, बीते 24 घंटे में 68 नए मरीज मिले। कोविड अस्पताल और होम आइसोलेशन से 194 मरीज स्वस्थ हुए। नोएडा में अब कुल मरीजों की संख्या 62424 हो गई है। अस्पताल और होम आइसोलेशन में इलाज करवा रहे मरीजों की संख्या भी एक हजार से कम हो गई है। मंगलवार को सक्रिय मरीजों की संख्या 947 है। अब तक 61,027 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। कोरोना संक्रमण से 450 लोगों की मौत हुई है।

पति के साथ नहीं रहना चाहती थी पत्नी, गुस्साए युवक ने उसके साथ खुदको भी मारी गोली

नोएडा के गांव सोरखा के एक मकान में पति ने पत्नी की गोली मारकर हत्या कर दी। फिर खुद को भी गोली मार ली। दोनों ने परिजनों की मर्जी के खिलाफ कोर्ट मैरिज की थी। पुलिस ने बताया कि मूलरूप से इटावा के तुलसीपुर निवासी 22 वर्षीय दीप्ति दूबे सोरखा गांव में किराये पर रहती थीं। वह सेक्टर 77 में एक निजी कंपनी में सुरक्षाकर्मी थी। युवती ने कुछ समय पहले फिरोजाबाद के हुमायूंपुर निवासी 32 वर्षीय अवनीश कुमार शर्मा से कोर्ट मैरिज की थी। जब मंगलवार को दीप्ति कंपनी में नहीं गई तो कर्मचारियों ने उसके मोबाइल पर कॉल की, जो किसी ने रिसीव नहीं की। काफी देर तक इंतजार करने के बाद कर्मचारी उसके घर पहुंचे। यहां कमरे का दरवाजा अंदर से बंद था। आवाज लगाने पर भी अंदर से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया।

व्यक्ति पर दहेज के लिए पत्नी की हत्या का आरोप

उत्तर प्रदेश में गाजियाबाद जिले के राज नगर एक्सटेंशन इलाके में एक व्यक्ति ने शादी के बाद कथित तौर पर अधिक दहेज नहीं लाने के चलते 24 वर्षीय पत्नी की गोली मारकर हत्या कर दी। पुलिस ने कहा कि मुजफ्फरनगर की बुढ़ाना तहसील के उपवाली गांव की रहने वाली सारिका की शादी कुलदीप से पिछले साल फरवरी में हुई थी। पुलिस अधीक्षक निपुण अग्रवाल ने कहा कि दर्ज मामले के अनुसार दहेज की मांग को लेकर सारिका को लगातार परेशान किया जा रहा था और इस मुद्दे को लेकर दंपति के बीच प्राय: झगड़ा होता रहता था। उन्होंने बताया कि सारिका के परिजनों की शिकायत पर नंद ग्राम थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है।

एमसीडी के पूर्व इंजीनियर की हत्या के मामले में साजिशकर्ता गिरफ्तार

गाजियाबाद के सिकरोड गांव में दिल्ली एमसीडी के पूर्व इंजीनियर गजेंद्र वर्मा की हत्या के साजिशकर्ता सुशील बौद्ध निवासी सेक्टर-2 वसुंधरा को गिरफ्तार किया है। एसएचओ नंदग्राम नीरज कुमार सिंह ने बताया कि सुशील गजेंद्र वर्मा की हत्या की साजिश में शामिल था। हत्या में नाम प्रकाश में आने के बाद से वह फरार चल रहा था। सिकरोड गांव निवासी गजेंद्र वर्मा दिल्ली एमसीडी के पूर्व इंजीनियर थे। मामूली विवाद में पड़ोसी चतर सिंह और उसके बेटों ने गत 21 मार्च की रात को उनकी पीट-पीटकर हत्या कर दी थी। परिजनों के मुताबिक एक दिन पहले 20 मार्च को भी आरोपियों ने झगड़ा किया था। गजेंद्र की शिकायत पर पुलिस चतर सिंह और उसके बेटे लवी को पकड़कर ले आई थी। अगले दिन जमानत पर छूटकर घर जाने के बाद आरोपियों ने गजेंद्र वर्मा की हत्या कर दी।

Next Story