Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

गाजियाबाद में सगे मामा ने मासूम का किया रेप, घर लौटकर माता-पिता को सुनाई दर्द भरी दांस्तां, साथ ही पढ़ें नोएडा की टॉप न्यूज

किशोरी अपने घर लौटी तो पूरा घटनाक्रम पहले अपनी मां को और फिर पिता को बताया। इसके बाद उन्होंने थाने जाकर पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। मसूरी कोतवाल ने बताया कि तहरीर के आधार पर जीरो एफआईआर दर्ज कर आगे की कार्रवाई के लिए हापुड़ भेज दी गई है।

चार साल की बच्ची के साथ किया बलात्कार फिर कर दी हत्या, 700 पुलिकर्मियों ने आरोपी को 20 घंटों में ऐसे दबोचा
X

जयपुर रेप केस

Ghaziabad Minor Girl Raped गाजियाबाद में मसूरी कोतवाली क्षेत्र में रहने वाली एक मासूम रेप करने घिनौनी खबर सामने आई है। यहां किशोरी के साथ उसके सगे मामा ने दुष्कर्म किया है। पुलिस ने इस मामले में एफआईआर दर्ज (FIR) कर आगे की कार्रवाई के लिए हापुड़ पुलिस (Police) को भेज दी है। जानकारी के अनुसार, घटना के बाद अपने पिता के साथ पुलिस के पास पहुंची पीड़ित किशोरी ने बताया कि उसकी हापुड़ के एक गांव में ननिहाल है। पिछले दिनों वह कुछ दिन रहने के लिए अपने नाना के घर गई थी। जहां उसके मामा ने उसके साथ दुष्कर्म की शर्मनाक वारदात को अंजाम दिया। जब किशोरी अपने घर लौटी तो पूरा घटनाक्रम पहले अपनी मां को और फिर पिता को बताया। इसके बाद उन्होंने थाने जाकर पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। मसूरी कोतवाल ने बताया कि तहरीर के आधार पर जीरो एफआईआर दर्ज कर आगे की कार्रवाई के लिए हापुड़ भेज दी गई है।

ग्रेटर नोएडा में चार्टर्ड अकाउंटेंट को लूटने वाले बदमाशों के साथ मुठभेड़

ग्रेटर नोएडा में एक एप पर दोस्ती कर बदमाशों ने चार्टर्ड अकाउंटेंट को मिलने के लिए बुलाया। उसके बाद बदमाशों ने कार, आईफोन और नकदी लूटी थी। नोएडा पुलिस और बदमाशों ने मुठभेड़ के बाद पकड़े जाने पर इसका खुलासा किया है। बृहस्पतिवार रात कासना थाना पुलिस की मुठभेड़ में खुर्जा निवासी आशीष सिंह और बुलंदशहर निवासी सचिन चौधरी पैर में गोली लगने से घायल हो गए। जबकि मौके से फरार दो अन्य आरोपियों फलैदा निवासी गौरव और बुलंदशहर निवासी सागर चौधरी को पुलिस ने घेराबंदी कर दबोच लिया। पुलिस ने बदमाशों से लूटी गई कार बरामद कर ली है। एडिशनल डीसीपी विशाल पांडे ने बताया कि 31 जुलाई को दादूपुर निवासी चार्टर्ड अकाउंटेंट नरेश कुमार ने लूट की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस को दी शिकायत में उन्होंने कहा था कि लिफ्ट मांगकर दो बदमाशों ने उनसे सिरसा गोलचक्कर के निकट तमंचा दिखाकर अल्टो कार, आईफोन और छह हजार रुपये नकदी लूट ली। पुलिस ने केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू की थी।

दो महिला की हत्या के दोष में एक व्यक्ति को उम्रकैद

नोएडा में हुई दो महिलाओं की हत्या के दोष में एक व्यक्ति को आजीवन कारावास की सजा सुनायी है। वहीं, इस मामले में दो अन्य आरोपियों को बरी कर दिया है। सहायक शासकीय अधिवक्ता धर्मेंद्र जयंत ने बताया कि जारचा थाना क्षेत्र के कलौदा गांव निवासी सुशील पुलिस में शिकायत दी थी कि आशीष, गौरव, संदीप आदि ने उसके घर में घुसकर अंधाधुंध गोलियां चलायीं और बचने का प्रयास कर रहे रणबीर और दो महिला पर अपनी कार चढ़ा दी, जिसमें उनकी मौत हो गई। जयंत ने बताया कि पुलिस ने इस संबंध में तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ आरोप पत्र पेश किया था। उन्होंने बताया कि मुकदमे की सुनवाई अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश (प्रथम) पवन प्रताप सिंह की अदालत में चल रही थी। अदालत ने दोषी आशीष को आजीवन कारावास और 10 हजार रुपए अर्थदंड की सजा सुनायी। जुर्माना नहीं भरने की स्थिति में दोषी को दो साल अतिरिक्त कारावास भुगतना होगा। उन्होंने बताया कि वहीं अदालत ने सबूत के अभाव में दो आरोपियों गौरव और संदीप को बरी कर दिया।

सपा नेता ने महिला का खोया पर्स लौटाया

उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा में समाजवादी पार्टी ने साईकिल यात्रा निकाली। दादरी में साईकिल यात्रा के दौरान समाजवादी नेता रोहित सिंह बैसोया ने एक इलेक्ट्रिक रिक्शा में एक पर्स को देखा तो उन्होंने इलेक्ट्रिक रिक्शा को रोककर पर्स देखा तो उसमें 5 हजार रुपए थे। इसके अलावा उसमें एक महिला की फोटो थी और कुछ जरूरी कागज भी थे। सपा नेता ने जब रिक्शा चालक से पूछा कि यह पर्स किसका है तो उसने बताया कि किसी सवारी का छूट गया। वह सवारी दादरी के भारतीय स्टेट बैंक पर उतरी थी। रोहित सिंह बैसोया तुरंत अपनी टीम के साथ भारतीय स्टेट बैंक गए तो वहां पर बैंक के बाहर एक महिला काफी परेशान खड़ी हुई थी। जब महिला से पूछा तो उसने बताया कि उसका पर्स कहीं गुम हो गया है। जिसमें काफी पैसे थे और उसकी जरूरी कागजात भी थे।

गाजियाबाद में स्वाइन फ्लू के मिले तीन मरीज

गाजियाबाद में स्वाइन फ्लू के तीन मरीज मिलने से हड़कंप मच गया है। तीनों मरीज कौशांबी स्थित यशोदा अस्पताल में भर्ती हैं। हालांकि स्वास्थ्य विभाग की ओर से केवल एक मरीज की पुष्टि की जा रही है। वहीं अस्पताल प्रबंधन ने तीनों मरीजों में स्वाइन फ्लू की पुष्टि की है। इस साल जिले में पहली बार स्वाइन फ्लू के मामले सामने आए हैं। कोरोना संक्रमण के बाद अब स्वाइन फ्लू (एच 1 एन 1) के मरीज भी सामने आने शुरू हो गए हैं। जिले में स्वाइन फ्लू के तीन नए मरीज मिले हैं। कोरोना से निपटने में स्वास्थ्य विभाग लगा हुआ था। वहीं स्वाइन फ्लू के मरीज मिलने पर विभाग में हड़कंप मच गया है। जिले में रहने वाले तीनों मरीज कौशांबी के यशोदा अस्पताल में भर्ती हैं।

Next Story