Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

गाजियाबाद में एलिवेटेड रोड से बाइक के साथ नीचे गिरे युवक-युवती, एक की मौत, साथ ही पढ़ें नोएडा की टॉप न्यूज

घटनास्थल के आसपास के लोगों का कहना है कि बाइक की रफ्तार तेज थी, लेकिन पुलिस इससे इनकार कर रही है। पुलिस के मुताबिक, दिल्ली के सुंदरनगरी निवासी शाहिद खान का बेटा आदिल (27) गुरुवार को मोहन नगर के पास एक कंपनी में इंटरव्यू देने आया था।

गाजियाबाद में एलिवेटेड रोड से बाइक के साथ नीचे गिरे युवक-युवती, एक की मौत, साथ ही पढ़ें नोएडा की टॉप न्यूज
X

गाजियाबाद में एलिवेटेड रोड से बाइक के साथ नीचे गिरे युवक-युवती

गाजियाबाद (Ghaziabad Accident) में एलिवेटेड रोड से बाइक का संतुलन बिगड़ने से युवक और युवती (Fell Down Boy And Girl) नीचे गिर गए। हादसे में युवक की मौके पर ही मौत हो (One Dead) गई, जबकि युवती ने अस्पताल में दम तोड़ दिया। दोनों दिल्ली के रहने वाले थे और मोहन नगर की एक कंपनी में इंटरव्यू देने आए थे। वापस लौटते समय हादसा हुआ। घटनास्थल के आसपास के लोगों का कहना है कि बाइक की रफ्तार तेज थी, लेकिन पुलिस इससे इनकार कर रही है। पुलिस (Ghaziabad Police) के मुताबिक, दिल्ली के सुंदरनगरी निवासी शाहिद खान का बेटा आदिल (27) गुरुवार को मोहन नगर के पास एक कंपनी में इंटरव्यू देने आया था। आदिल के साथ उसकी दोस्त जाफराबाद निवासी निशा खान (22) भी इंटरव्यू देने आई थी। दोपहर करीब डेढ़ बजे दोनों मोहन नगर से बुद्ध चौक होते हुए एलिवेटेड रोड पर चढ़े।

पुलिस के साथ मुठभेड़ के बाद वांछित अपराधी गिरफ्तार

गाजियाबाद में दो दर्जन आपराधिक मामलों में वांछित एक बदमाश यहां लोनी में पुलिस के साथ मुठभेड़ में गोली लगने से बृहस्पतिवार को घायल हो गया। अधिकारियों ने बताया कि यह घटना रात करीब साढ़े आठ बजे हुई, जब नियमित जांच के दौरान पुलिस ने मोटरसाइकिल पर सवार एक व्यक्ति को रुकने का इशारा, लेकिन वह रुकने के बजाय पीछे मुड़कर भाग गया। पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) ने बताया कि जब पुलिस ने उसका पीछा किया तो उसने गोलियां चलानी शुरू कर दीं जिसके बाद पुलिस की जवाबी कार्रवाई में वह घायल हो गया और उसे उपचार के लिए एक निजी अस्पताल ले जाया गया। पुलिस नेबताया कि घायल की पहचान शौकीन उर्फ मोटा के रूप में हुई है। वह मूल रूप से बागपत का रहने वाला है। वह दो दर्जन मामलों में वांछित था। उसके पास से 315 बोर की एक देसी पिस्तौल, एक कारतूस और एक मोटरसाइकिल बरामद हुई है।

लड़की के अपहरण और बलात्कार के आरोप में दो लोग गिरफ्तार

ग्रेटर नोएडा में एक दलित लड़की का अपहरण करने और उसके साथ बलात्कार करने के आरोप में बृहस्पतिवार को दो लोगों को गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने यहां यह जानकारी दी। पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया कि 28 सितंबर को एक महिला ने थाना कासना में रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि कुछ लोग उसकी नाबालिग बेटी को नशीला पदार्थ सूंघाकर कथित तौर पर अपहरण कर ले गए और उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया। उन्होंने बताया कि रिपोर्ट के अनुसार आरोपियों ने उसकी बेटी की अश्लील वीडियो बनाकर वायरल करने की धमकी भी दी। उन्होंने बताया कि पुलिस ने घटना की रिपोर्ट दर्ज की और आरोपियों भूपेंद्र उर्फ कुनाल तथा भगत उर्फ कालू को आज गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस विभाग में पुलिसकर्मियों के तबादले

गौतम बुद्ध नगर जिले में कानून व्यवस्था को चाक-चौबंद करने के उद्देश्य से दो सहायक पुलिस आयुक्तों, तीन थानाध्यक्षों तथा 159 उप निरीक्षकों के तबादले किए गए है। पुलिस आयुक्त आलोक सिंह के प्रवक्ता ने बताया कि आईटी सेल के प्रभारी निरीक्षक विनोद कुमार को कोतवाली सेक्टर 58 का प्रभारी निरीक्षक बनाया गया है और सेक्टर 58 थाना के थानाध्यक्ष अनिल कुमार को बीटा -टू का थानाध्यक्ष बनाया गया है। बीटा-2 के प्रभारी निरीक्षक रामेश्वर कुमार को लाइन हाजिर कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि इसके अलावा विधानसभा चुनाव के मद्देनजर आयुक्तालय के 159 उपनिरीक्षकों के कार्यक्षेत्र में बदलाव किया गया है।

यमुना एक्सप्रेसवे पर सड़क हादसे में 7 लोग घायल

नोएडा के यमुना एक्सप्रेसवे पर कैंटर और कार के बीच जबरदस्त टक्कर हो गई। इसके बाद इस हादसे में एक ही परिवार के चार बच्चों सहित सात लोग घायल हो गए। घायलों की पहचान हादसे में कार चालक मोनू (27), सोनिया (33), प्रीती (26), निखिल (10), प्रेम (10), दिया (9) व सलोनी (11) के रूप में हुई हैं। पुलिस ने सभी को जेवर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया जहां से घायलों को सफदरजंग अस्पताल रेफर कर दिया गया। यहां एक महिला और दो बच्चों की हालत गंभीर बनी हुई है। पुलिस के अनुसार, जेवर के रोही गांव निवासी जितेंद्र के परिजन नजफगढ़ दिल्ली से यमुना एक्सप्रेसवे के रास्ते आ रहे थे। इस बीच कैंटर चालक ने लेन बदलते हुए अचानक ब्रेक लगा दिए। इससे पीछे चल रही जितेंद्र के परिवार की कार कैंटर से टकरा गई। जेपी इंफ्राटेक के निजी सुरक्षा कर्मियों ने सभी घायलों को जेवर के निजी अस्पताल में भर्ती कराया।

Next Story