Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जन्म लेने के बाद हुई नवजात की मौत, पिता ने अस्पताल पर लगाया संघीन आरोप, साथ ही पढ़ें नोएडा की टॉप न्यूज

पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस ने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के सही कारणों का पता चलेगा। इस मामले में पुलिस अधिकारी मेडिकल बोर्ड की सलाह लेने की भी बात कह रहे हैं।

जन्म लेने के बाद हुई नवजात की मौत, पिता ने अस्पताल पर लगाया संघीन आरोप, साथ ही पढ़ें नोएडा की टॉप न्यूज
X

जन्म लेने के बाद हुई नवजात की मौत

Noida Crime नोएडा के एक अस्पताल (Noida Hospital) में रविवार सुबह जन्म लेने के बाद एक नवजात बच्चे (NewBorn Dies) की मौत हो गई। बच्चे के पिता ने डॉक्टरों (Doctors) पर आरोप लगाया है कि उन्होंने प्रसव के बाद बच्चे को टब में गिरा दिया, जिसकी वजह से उसकी मौत हुई है। बहरहाल डॉक्टरों का कहना है कि प्रसव के कुछ देर बाद स्वाभाविक रूप से बच्चे की मौत हुई है। पुलिस (Noida Police) ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस ने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के सही कारणों का पता चलेगा। इस मामले में पुलिस अधिकारी मेडिकल बोर्ड की सलाह लेने की भी बात कह रहे हैं। अपर पुलिस उपायुक्त (जोन द्वितीय) अंकुर अग्रवाल ने बताया कि थाना ईकोटेक-3 क्षेत्र में स्थित एक निजी अस्पताल में बहरामपुर गांव के रहने वाले अनुज चौहान की पत्नी लता चौहान (30 वर्ष) शनिवार देर रात प्रसव के लिए भर्ती हुई थी। उन्होंने बताया कि रविवार को सुबह चार बजे लता चौहान ने एक बच्चे को जन्म दिया।

सबसे बड़ी चोरी में अभी पुलिस खाली हाथ

नोएडा की सबसे बड़ी चोरी के खुलासे के नौ दिन बाद भी पुलिस फरार आरोपियों में से एक को भी गिरफ्तार नहीं कर सकी है। अभी तक पुलिस के हाथ न तो चोरी का मास्टरमाइंड गोपाल लगा है और ना ही करोड़ों के फर्जीवाड़े का आरोपी राममणि पांडे। इसके अलावा पुलिस किशलय पांडे के योग गुरु कृष्ण मुरारी से भी कुछ नहीं उगलवा सकी। पुलिस का कहना है कि पूछताछ के बाद उसे छोड़ दिया गया है। बता दें कि ग्रेटर नोएडा की सिल्वर सिटी-2 सोसाइटी के 301 नंबर फ्लैट से अगस्त 2020 को चोरों ने 36 किलो सोना और छह करोड़ रुपये से ज्यादा की नकदी चोरी की थी। इस चोरी का मास्टर माइंड फ्लैट का केयर टेकर गोपाल को माना जा रहा है। गोपाल ने नोएडा और गाजियाबाद के साथियों की मदद से चोरी की साजिश रची थी। चोरों के बीच धन के बंटवारे को लेकर विवाद हो गया था। पुलिस ने 11 जून को छह आरोपियों को गिरफ्तार कर उनसे 13.9 किलो सोना, एक करोड़ की संपत्ति के कागजात और 57 लाख रुपये बरामद किए थे।

कोरोना संक्रमित 10 मरीज मिले, 26 हुए उपचार के दौरान ठीक

उत्तर प्रदेश के जनपद गौतमबुद्ध नगर में आज कोरोना वायरस संक्रमण के 10 नये मामले सामने आये जबकि 26 मरीज संक्रमण मुक्त हुये हैं। जनपद में कोविड-19 के संक्रमण की वजह से अब तक 466 लोग की मौत हो चुकी है। एक अधिकारी ने इसकी जानकारी दी । जिला निगरानी अधिकारी डॉक्टर सुनील दोहरे ने बताया कि शनिवार सुबह तक कोरोना वायरस संक्रमण के 10 मरीज पाए गए है जिसके बाद जिले में संक्रमितों की संख्या 63,022 हो गयी है। अधिकारी ने बताया कि जनपद में 26 लोगों के ठीक होने के बाद से अब तक 62,375 मरीज संक्रमण मुक्त हो चुके हैं । उन्होंने बताया कि यहां के विभिन्न अस्पतालों व होम आइसोलेशन में 119 मरीजों का उपचार चल रहा है। दोहरे ने बताया कि जनपद में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 466 है।

सोशल मीडिया पर दोस्ती कर, युवती से लाखों रुपए ठगे

नोएडा थाना सेक्टर 20 में एक महिला ने उसकी बेटी के साथ एक युवक द्वारा तीन लाख रुपए से अधिक की ठगी किए जाने का मामला दर्ज कराया है। थाना सेक्टर 20 के प्रभारी निरीक्षक मुनीष चौहान ने बताया कि सेक्टर 28 में रहने वाली एक महिला ने थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है, कि अमन देसाई नामक युवक ने उसकी बेटी से इंस्टाग्राम पर दोस्ती करके अपनी मां के इलाज के नाम पर कुछ पैसे अपने खाते में डलवा लिए। उन्होंने बताया कि महिला का आरोप है कि युवक ने धोखाधड़ी कर उनकी बेटी से लाखों रुपए ले लिए तथा अब वह उनके पैसे वापस नहीं कर रहा है। उन्होंने बताया कि घटना की रिपोर्ट दर्ज कर पुलिस मामले की जांच कर रही है।

गाजियाबाद में कल से खुलेंगे मॉल, होटल और रेस्त्रां

करीब पौने दो माह के लॉकडाउन के बाद सोमवार से मॉल-होटल और रेस्त्रां गुलजार होंगे। कोरोना प्रोटोकॉल एवं शासन के गाइडलाइन के अनुसार 50 फीसदी क्षमता के साथ ये सभी खुलेंगे। मॉल-रेस्त्रां में साफ-सफाई से लेकर सैनेटाइजेशन की तैयारी शुरू कर दी गई है। बिना मॉस्क और तापमान मापे अंदर प्रवेश नहीं दिया जाएगा। कोरोना की दूसरी लहर फैलने के बाद करीब पौने दो माह से मॉल, होटल रेस्त्रां आदि बंद कर दिए गए थे। मॉल के अलावा होटलों और रेस्टोरेंटों में बैठकर नाश्ता और खाना खाने पर रोक थी। संक्रमण को बढ़ते देख 30 अप्रैल के बाद से जनपद में संपूर्ण लॉकडाउन लागू होने से पूर्ण रुप से तालाबंदी हो गई। कुछ रेस्टोरेंटो से होम डिलीवरी की सिर्फ छूट दी गई थी। बीते 15 जून को उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 21 जून से 50 फीसदी क्षमता के साथ मॉल-होटल-रेस्त्रां को छूट देने के आदेश दिए थे। इसके बाद जनपद में इस क्षेत्र के कारोबारियों ने शनिवार से तैयारी शुरू कर दी है।

Next Story