Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

गौतमबुद्ध नगर में पुलिस और बदमाशों के बीच एनकाउंटर, एक को मारी गोली, साथ ही पढ़ें नोएडा की टॉप न्यूज

इस एनकाउंटर में एक बदमाश को गोली मारकर घायल कर दिया गया और वहीं उसका दूसरा साथी फरार हो गया। पुलिस ने गिरफ्तार बदमाश के पास से बिना नंबर प्लेट की एक मोटरसाइकिल, एक तमंचा और कारतूस बरामद किया है। अधिकारी ने बताया कि दिल्ली के मायापुरी का रहने वाला परमजीत उर्फ पम्मी दिखावे के लिए कबाड़ का व्यवसाय करता है। वह कबूतर गिरोह का सक्रिय सदस्य है

गौतमबुद्ध नगर में पुलिस और बदमाशों के बीच एनकाउंटर, एक को मारी गोली, साथ ही पढ़ें नोएडा की टॉप न्यूज
X

गौतमबुद्ध नगर में पुलिस और बदमाशों के बीच एनकाउंटर

Noida Crime नोएडा में पुलिस और वाहन चोरों (Encounter Between Police And Miscreants) के बीच सोमवार देर रात मुठभेड़ हुई है। इस एनकाउंटर में एक बदमाश को गोली मारकर घायल कर दिया गया और वहीं उसका दूसरा साथी फरार हो गया। पुलिस ने गिरफ्तार बदमाश के पास से बिना नंबर प्लेट की एक मोटरसाइकिल, एक तमंचा और कारतूस बरामद किया है। अधिकारी ने बताया कि दिल्ली के मायापुरी का रहने वाला परमजीत उर्फ पम्मी दिखावे के लिए कबाड़ का व्यवसाय करता है। वह कबूतर गिरोह का सक्रिय सदस्य है। पम्मी शातिर वाहन चोरों के साथ मौके पर जाकर पहले गाड़ी की रेकी कर गाड़ी पसंद करता और बाद में उनसे गाड़ी चोरी करवा कर बेच देता। उन्होंने बताया कि एक जुलाई को कोतवाली सेक्टर 24 पुलिस ने कबूतर गिरोह के मुखिया गुलफाम को हारून, साजिद, यूसुफ और अमित के साथ गिरफ्तार किया था। पुलिस ने घायल बदमाश को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती करवाया है। वहीं, फरार बदमाश परमजीत (पम्मी) की तलाश की जा रही है।

लिंग निर्धारण परीक्षण के आरोप में दो लोग गिरफ्तार

गाजियाबाद पुलिस ने अल्ट्रासाउंड मशीन के जरिए लिंग निर्धारण परीक्षण करने के आरोप में सोमवार शाम को सिहानी गेट इलाके से एक व्यक्ति और उसके सहयोगी को गिरफ्तार किया। पुलिस ने यह जानकारी दी। पुलिस अधीक्षक निपुण अग्रवाल ने बताया कि आरोपी प्रेम शंकर 12वीं कक्षा तक पढ़ा है और वह पड़ोस के गौतमबुद्ध नगर जिले के दादरी में एक रेडियोलोजिस्ट के पास सहायक के तौर पर काम करता था, जहां उसने अल्ट्रासाउंड मशीन संचालित करना सीखा। उन्होंने कहा कि बाद में प्रेमशंकर ने खुद मशीन खरीदकर अपने सहयोगी जयपाल के साथ मिलकर लिंग निर्धारण परीक्षण करना शुरू किया। अधिकारी ने कहा कि दोनों करीब दो साल से ऐसा कर रहे थे।

आश्रय गृह से दो नाबालिग लड़कियां लापता, मामला दर्ज

नोएडा में स्थित एक आश्रय गृह से 29 जुलाई तड़के करीब तीन बजे दो नाबालिग लड़कियों के रहस्यमयी परिस्थितियों में लापता होने सिलसिले में पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। आश्रय गृह के प्रबंधक से मिली शिकायत के आधार पर पुलिस ने बताया कि ग्रेटर नोएडा के सेक्टर गामा-1 में स्थित जगशांति उदयन केयर नामक आश्रय गृह से 29 जुलाई को दो किशोरियां लापता हो गयीं। यहां 41 अनाथ लड़कियां रहती थीं। कोतवाली प्रभारी रामेश्वर सिंह ने बताया कि लापता हुई लड़कियों में से 13 वर्षीय किशोरी को 13 जुलाई को बाल कल्याण समिति और बिसरख पुलिस लेकर आयी थी, जबकि दूसरी 14 वर्षीय किशोरी को 14 जुलाई को बाल कल्याण समिति और नॉलेज पार्क पुलिस आश्रय गृह लेकर आयी थी। पुलिस लापता हुई दोनों नाबालिग लड़कियों की तलाश कर रही है।

सबसे बड़ी चोरी के मास्टरमाइंड गोपाल से सवा करोड़ रुपये की संपत्ति बरामद

गौतमबुद्ध नगर जिले की सबसे बड़ी चोरी के मास्टरमाइंड गोपाल से पुलिस ने सवा करोड़ रुपये की संपत्ति बरामद की है। इसमें एक किलो सोना और 65 लाख रुपये की जमीन के दस्तावेज हैं। एडीसीपी रणविजय सिंह ने बताया कि रिमांड के दौरान आरोपी गोपाल ने कई अहम जानकारियां दी हैं। उसने बताया कि किशलय पांडेय के ड्राइवर ने उसे फ्लैट में रखे सोने और नकदी की जानकारी दी थी। इसके बाद गोपाल ने साथियों के साथ चोरी की साजिश रची। पुलिस ने रिमांड के दौरान गोपाल से एक करोड़ 25 लाख रुपये की संपत्ति बरामद की है। आरोपी ने चोरी की गई नकदी से गाजियाबाद के पूर्व कुख्यात महेंद्र फौजी के गांव मेवला भट्टी में चार बीघा जमीन खरीदी है। पुलिस ने जमीन के दस्तावेज आरोपी के घर से बरामद किए हैं। इसके अलावा आरोपी से एक किलो सोना बरामद किया गया है। पुलिस ने तीन दिन के रिमांड के बाद सोमवार शाम को गोपाल को जेल भेज दिया। चोरी के मामले में अभी पंकज और संतल फरार हैं।

नोएडा में नहीं आया कोरोना का एक भी मामला

नोएडा में पिछले 24 घंटे मे कोरोना वायरस का एक भी नया मामला सामने नहीं आया जबकि दो मरीज स्वस्थ हुए। जिला निगरानी अधिकारी डॉक्टर सुनील दोहरे ने बताया कि जनपद में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 63,211 हो गई है जिनमें से 33 का विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है। उन्होंने बताया कि अब तक 62,712 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं जबकि 466 मरीजों की मौत हुई है। पिछले माह 16 जुलाई को भी एक भी संक्रमित मरीज नहीं मिला था। प्रतिदिन करीब 4000 जांच की जा रही हैं।

Next Story