Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Farmers Protest: RSS से जुड़े भारतीय किसान संघ ने जंतर-मंतर पर किया प्रदर्शन, सरकार के सामने रखी मांग

Farmers Protest: मांग यह है कि सरकार किसानों को उनकी उपज का लाभकारी मूल्य सुनिश्चित करने के लिए कानून लेकर आए। बीकेएस से जंतर मंतर पर प्रदर्शन किया गया। संगठन के नेताओं ने दावा किया है कि देश के कई हिस्सों में किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) नहीं मिल रहा है।

Farmers Protest: RSS से जुड़े भारतीय किसान संघ ने जंतर-मंतर पर किया प्रदर्शन, सरकार के सामने रखी मांग
X

RSS से जुड़े भारतीय किसान संघ ने जंतर-मंतर पर किया प्रदर्शन

Farmers Protest दिल्ली के बॉर्डरों (Delhi Border) पर कृष कानूनों को लेकर किसानों का आंदोलन चल रहा है। सरकार ने अभी तक उनकी मांगे नहीं मानी है। वहीं दूसरी तरफ राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) से जुड़े भारतीय किसान संघ (BKS) ने देशव्यापी आंदोलन के तहत अपनी मांगों को लेकर दिल्ली के जंतर-मंतर (Jantar Mantar) पर प्रदर्शन किया है। मांग है कि सरकार किसानों को उनकी उपज का लाभकारी मूल्य सुनिश्चित करने के लिए कानून लेकर आए। बीकेएस से जंतर मंतर पर प्रदर्शन किया गया। संगठन के नेताओं ने दावा किया है कि देश के कई हिस्सों में किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) नहीं मिल रहा है। बीकेएस दिल्ली प्रदेश के अध्यक्ष हरपाल सिंह डागर ने कहा कि ऐसा कानून होना चाहिए जो सुनिश्चित करे कि किसानों को उनकी उपज का लाभकारी मूल्य मिले।

देश के ज्यादातर हिस्सों में नहीं मिल रहा एमएसपी मूल्य

देशव्यापी विरोध प्रदर्शन करेगा ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि किसानों को उनकी फसल के बदले उचित दाम मिले। बीकेएस महासचिव बद्रीनारायण चौधरी ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा था कि न्यूनतम समर्थन मूल्य एक भ्रम है। किसानों को देश के सभी हिस्सों में एमएसपी नहीं मिल रहा है। एक नया सख्त कानून लाया जाना चाहिए जो यह सुनिश्चित करता हो कि किसानों को उनकी उपज का लाभकारी मूल्य मिले। चौधरी ने दावा किया था कि केवल एक या दो राज्यों के किसान ही एमएसपी का लाभ उठा रहे हैं, जबकि देश के बाकी किसान इसके लाभों से वंचित हैं।

दिल्ली पुलिस पर लगाया आरोप

किसान ने कहा कि आंदोलन दिल्ली पुलिस की वजह से डेढ़ घंटे की देरी से हुआ। दिल्ली पुलिस के अधिकारियों के बीच समन्वय की कमी के कारण, हमारा विरोध प्रदर्शन पूर्वाह्न 11.30 बजे शुरू हुआ, जिसमें बीकेएस के 115 सदस्यों ने भाग लिया। विरोध प्रदर्शन दोपहर 1.50 बजे समाप्त हुआ। हालांकि, पुलिस ने कहा कि उन्होंने विरोध प्रदर्शन की अनुमति नहीं दी थी। हमने उन्हें जंतर-मंतर पर प्रदर्शन करने की अनुमति नहीं दी। हालांकि, वे यहां आ गए और जल्द ही चले गए।

Next Story