Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Farmers Protest: केंद्र को राकेश टिकैत की दो टूक, बोले- कुछ लोगों ने देश पर किया कब्जा

Farmers Protest: गाजीपुर बार्डर पर किसानों और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच भिड़ंत होने की खबर आई थी। जिसके बाद राकेश टिकैत ने एतराज जताया था। साथ ही चेतावनी देते हुए कहा था कि यहां कोई मंच पर कब्जा करने की कोशिश करेगा तो बक्कल उतार देंगे। ये लोग फिर प्रदेश में कहीं नज़र नहीं आएंगे।

Farmers Protest: केंद्र को राकेश टिकैत की दो टूक, बोले- कुछ लोगों ने देश पर किया कब्जा, आंदोलन एक वैचारिक क्रांति
X

केंद्र को राकेश टिकैत की दो टूक, बोले- कुछ लोगों ने देश पर किया कब्जा

Farmers Protest नए कृषि कानूनों (New Farm Laws) को लेकर केंद्र के खिलाफ किसानों (Farmers) का आंदोलन सात महीनों से जारी है। इस चिलचिलाती धूप और लू वाली गर्मी में दिल्ली के बॉर्डरों (Delhi Border) पर प्रदर्शनकारी विरोध प्रदर्शन कर रहे है। लेकिन केंद्र (Central Government) ने अभी तक किसानों की मांगें पूरी नहीं की है। इसलिए किसान घर वापस नहीं जा रहे हैं। इस बीच गाजीपुर बॉर्डर (Ghazipur Border) से किसान नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने कहा कि आंदोलन को आम जनता की भावनाएं आगे बढ़ा रही हैं। यह एक वैचारिक क्रांति है। जहां वैचारिक क्रांति आई है उसने परिवर्तन किए हैं। विचार से बड़ा कोई हथियार नहीं है।

इस समय देश पर कुछ लोगों ने कब्जा कर लिया है। इनको देश की जनता, व्यापारी, किसान और मजदूरों से कोई लेना देना नहीं है। हम पीछे नहीं हटने वाले हैं। पीछे हटना हमारी डिक्शनरी में नहीं है। जिस तरह फौजें मोर्चे पर होती हैं तो गोली खाती हैं उसी तरह हम भी मोर्चे पर हैं और लड़ रहे हैं। हैरानी की बात है कि किसान देश की राजधानी को घेर कर बैठे हैं और सरकार बात ही नहीं कर रही है। किसान भी पीछे नहीं हटेगा।

आपको बता दें कि गाजीपुर बार्डर पर किसानों और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच भिड़ंत होने की खबर आई थी। जिसके बाद राकेश टिकैत ने एतराज जताया था। साथ ही चेतावनी देते हुए कहा था कि यहां कोई मंच पर कब्जा करने की कोशिश करेगा तो बक्कल उतार देंगे। ये लोग फिर प्रदेश में कहीं नज़र नहीं आएंगे। टिकैत बोले कि बीजेपी समर्थक यहां आकर अपने किसी नेता का स्‍वागत करना चाह रहे थे। यह कैसे हो सकता है। यह मंच किसानों का है। किसान संयुक्‍त मोर्चे के बैनर तले एकजुट हैं। यदि किसी को यहां आना है तो भाजपा छोड़कर आ जाए। मोर्चे में शामिल हो जाए।

उन्‍होंने कहा किे यहां यह दिखाने की कोशिश की गई कि हमने गाजीपुर के मंच पर भाजपा का झंडा फहरा दिया। यह बिल्‍कुल गलत बात है। ऐसे लोगों के बक्‍कल उधेड़ देंगे। किसान नेता ने पुलिस पर भी गड़बड़ी फैलाने वालों को संरक्षण देने का आरोप लगाया। कहा कि बीजेपी कार्यकर्ता पिछले तीन दिन से आ रहे हैं। पुलिस उन्हें संरक्षण दे रही है। पुलिस गुंडई छोड़ दे। बीजेपी की वर्कर न बने। यह सारा कुछ पुलिस की मौजूदगी में हुआ है।

Next Story