Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Farmers Protest: राकेश टिकैत बोले-26 तारीख को कभी नहीं भूलेगा किसान, केंद्र मांगें पूरी करें नहीं तो जारी रहेगी ट्रैक्टरों की रिहर्सल

Farmers Protest: गाजीपुर बॉर्डर से ट्रैक्टर रैली की रिहर्सल पर किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि रिहर्सल इसलिए हो रही है कि 26 तारीख नजदीक है। किसान 26 तारीख को कभी नहीं भूलेगा। हर महीने 26 तारीख आएगी, किसान ट्रैक्टरों की रिहर्सल करेगा। ट्रैक्टर दिल्ली का रास्ता न भूल जाएं इसलिए इनकी रिहर्सल करनी पड़ती है। उन्होंने कहा कि हमें उम्मीद है कि सरकार बात करेगी।

Farmers Protest: राकेश टिकैत बोले- किसान 26 तारीख को कभी नहीं भूलेगा, केंद्र मांगें पूरी करें नहीं तो जारी रहेगी ट्रैक्टरों की रिहर्सल
X

 राकेश टिकैत 

नए कृषि कानूनों (New Farmlaws) को लेकर केंद्र (Central Government) के खिलाफ किसानों का आंदोलन 7 महीनों से जारी है। दिल्ली के बॉर्डरों (Delhi Border) पर गर्मी और बारिश में प्रदर्शनकारी विरोध प्रदर्शन कर रहे है। इस दौरान कई प्रदर्शनकारियों की मौत भी हो चुकी है। लेकिन केंद्र सरकार ने अभी तक उनकी मांगें पूरी नहीं की है। इसलिए सरकार तक अपनी बात पहुंचाने के लिए 26 जून को किसान राज्य के राज्यपाल और उपराज्यपाल (Lieutenant Governor) को ज्ञापन सौंपने वाले है। इस बीच, गाजीपुर बॉर्डर (Ghazipur Border) से ट्रैक्टर रैली (Tractor Rally) की रिहर्सल पर किसान नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने कहा कि रिहर्सल (Rehearsal) इसलिए हो रही है कि 26 तारीख नजदीक है।

किसान 26 तारीख को कभी नहीं भूलेगा। हर महीने 26 तारीख आएगी, किसान ट्रैक्टरों की रिहर्सल करेगा। ट्रैक्टर दिल्ली का रास्ता न भूल जाएं इसलिए इनकी रिहर्सल करनी पड़ती है। उन्होंने कहा कि हमें उम्मीद है कि सरकार बात करेगी। नहीं बातचीत करेगी तो अगला कदम उठाएंगे। ये आंदोलन तब तक जारी रहेगा जब तक भारत सरकार कानून वापस नहीं लेगी और एमएसपी पर कानून नहीं बनाएगी। इससे पहले राकेश टिकैत ने कहा था कि आंदोलन शांतिपूर्ण तरीके से चलता रहेगा।

राकेश टिकैत ने कृषि कानूनों के मुद्दे पर सरकार को फिर चेतावनी दी। टिकैत ने आज अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया कि 4 लाख ट्रैक्टर यहीं (दिल्ली के पास) हैं और 25 लाख किसान भी यही हैं। 26 तारीख भी हर महीने आती है तो ये सरकार याद रख ले। इसके साथ ही टिकैत ने बिल वापसी ही घर वापसी हैशटैग इस्तेमाल किया। मालूम हो कि, भाकियू समेत देशभर के कई किसान संगठन किसानों को सरकार के खिलाफ लामबंद करने में लगे हैं।

Next Story