Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Farmers Protest: किसान आंदोलन से लोगों को उठानी पड़ रही परेशानी, कई राज्यों को भेजा गया नोटिस, NHRC ने मांगी रिपोर्ट

Farmers Protest: एनएचआरसी के अनुसार, किसान आंदलोन से 9 हजार से अधिक छोटी-बड़ी कंपनियों को नुकसान पहुंचा है और इससे जुड़े लोगों के रोजगार पर भी समस्या आई है। साथ ही इन कंपनियों के अलावा यातायात पर भी प्रभाव पड़ा है, जिससे यात्रियों, मरीजों, शारीरिक रूप से विकलांग लोगों और वरिष्ठ नागरिकों को सड़कों पर होने वाली भारी भीड़ के कारण दिक्कतें उठानी पड़ी है।

Farmers Protest: किसान आंदोलन से लोगों को उठानी पड़ रही परेशानी, कई राज्यों को भेजा गया नोटिस, NHRC ने मांगी रिपोर्ट
X

 किसान आंदोलन से लोगों को उठानी पड़ रही परेशानी

Farmers Protest नए कृषि कानूनों (Farm Laws) को लेकर केंद्र (Central Government) के खिलाफ किसानों का नौ महीने से आंदोलन जारी है। इस बीच, किसान कई राज्यों के बॉर्डरों (Delhi Border) पर धरना प्रदर्शन कर रहे है। जिससे स्थानीय और वहां से आने जाने वाले लोगों को काफी परेशानियों (People Facing Problem) का सामना करना पड़ रहा है। इसे लेकर राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC) को कई शिकायतें मिल चुकी है। जिस पर उन्होंने संज्ञान लेते हुए केंद्र सरकार (Modi Government) सहित कई राज्यों को नोटिस जारी कर रिपोर्ट मांगी है। इन राज्यों में दिल्ली, राजस्थान, हरियाणा, उत्तर प्रदेश (Delhi, Rajasthan, Haryana, Uttar Pradesh) और अन्य ऑथोरिटीज शामिल हैं।

बता दें कि किसानों के आंदोलन के कारण लोगों को अपने गंतव्य तक पहुंचने के लिए लंबी दूरी तय करनी पड़ती है और सीमाओं पर बैरिकेड्स लगा दिए जाते हैं। जिसके कारण पैसा और समय दोनों अधिक लग रहे है। एनएचआरसी के अनुसार, किसान आंदलोन से 9 हजार से अधिक छोटी-बड़ी कंपनियों को नुकसान पहुंचा है और इससे जुड़े लोगों के रोजगार पर भी समस्या आई है।

साथ ही इन कंपनियों के अलावा यातायात पर भी प्रभाव पड़ा है, जिससे यात्रियों, मरीजों, शारीरिक रूप से विकलांग लोगों और वरिष्ठ नागरिकों को सड़कों पर होने वाली भारी भीड़ के कारण दिक्कतें उठानी पड़ रही है। इस सिलसिले में दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हरियाणा और राजस्थान सरकार को नोटिस कर जवाब मांगे गए है। वहीं इन राज्यों के पुलिस प्रशासन को भी इससे संबंधित कार्रवाई पर रिपोर्ट देने को कहा गया है। आपको बता दें कि इसके अलावा किसानों पर आरोप लगाया कि बॉर्डरों पर कोरोना नियमों की धज्जियां उड़ाई जा रही है। जिस पर गौर करना बेहद जरूरी है।

Next Story