Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Farmers Protest: अन्ना हजारे का ऐलान, किसानों के समर्थन में दिल्ली में देंगे धरना

Farmers Protest: अन्ना हजारे ने कहा कि वह दिल्ली के जंतर-मंतर या राम लीला मैदान में आंदोलन करेंगे। उन्होंने इसके लिए दिल्ली सरकार को अर्जी भेजी है। अन्ना हजारे पहले ही केंद्र सरकार को चेता चुके हैं कि अगर किसानों की मांगें नहीं मानी गईं तो वह अनशन करेंगे।

Farmers Protest: अन्ना हजारे का ऐलान, किसानों के समर्थन में दिल्ली में देंगे धरना
X

अन्ना हजारे, फोटो फाइल

Farmers Protest नये कृषि कानूनों को लेकर केंद्र के खिलाफ किसानों का आंदोलन 25 दिनों से जारी है। वहीं दिल्ली की कड़कती ठंड में किसान बॉर्डरों पर डटे हुये है। ऐसे में देश-दुनिया से किसानों को समर्थन मिल रहा है। अभी तक 30 अधिक राजनीतिक दलों ने अपना समर्थन दिया है। वहीं आज सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने ऐलान किया है कि किसानों के समर्थन में दिल्ली के जंतर-मंतर धरना प्रदर्शन करेंगे। आपको बता दें कि नये कृषि कानूनों को रद्द करने के लिए किसान संगठन और केंद्र के बीच बात नहीं बन पाई है।

इस बीच इन तीन कृषि कानूनों को लेकर केंद्र के खिलाफ किसानों के समर्थन में अन्ना हजारे धरना देंगे। अन्ना हजारे ने कहा कि वह दिल्ली के जंतर-मंतर या राम लीला मैदान में आंदोलन करेंगे। उन्होंने इसके लिए दिल्ली सरकार को अर्जी भेजी है। अन्ना हजारे पहले ही केंद्र सरकार को चेता चुके हैं कि अगर किसानों की मांगें नहीं मानी गईं तो वह अनशन करेंगे। कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर को लिखे पत्र में अन्ना हजारे ने कहा था कि किसानों की मांगों को नहीं मानने और स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशों को लागू नहीं करने पर वह केंद्र सरकार के खिलाफ फिर अनशन करेंगे।

दिल्ली शीत लहर की चपेट में है, इसके बावजूद केंद्र के कृषि कानूनों का दिल्ली की सीमाओं पर विरोध कर रहे किसान अपनी मांगों को लेकर डटे हुए हैं। शहर में रविवार को पारा 3.4 डिग्री सेल्सियत तक गिर गया जो इस मौसम में अब तक का सबसे न्यूनतम तापमान है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के एक अधिकारी ने कहा कि सफदरजंग वेधशाला में रविवार सुबह न्यूनतम तापमान सामान्य से पांच डिग्री नीचे 3.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जबकि अधिकतम तापमान 22 डिग्री सेल्सियस तक रहने की संभावना है। किसान आंदोलन शुरू हुए चार सप्ताह हो चुके हैं और इसके कारण सीमा पर कई बिंदुओं पर यातायात का मार्ग परिवर्तित किया गया है जिसकी वजह से यात्रियों को असुविधा का सामना करना पड़ रहा है।


Next Story