Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Farmers Protest: दिल्ली में कड़ाके की सर्दी झेलने के बाद जानिए गर्मी को लेकर किसानों का क्या है प्लान

Farmers Protest: दिल्ली के बॉर्डरों पर कड़ाके ठंड और बारिश झेलने के बाद अब बारी है भीषण गर्मी से लड़ने की। जिसके लिए अभी से ही तैयारियां शुरू हो गई। क्योंकि आने वाले दिनों में दिल्ली और दिल्ली से सटे राज्यों में भीषण गर्मी पड़ती है।

Farmers Protest: दिल्ली में कड़ाके की सर्दी झेलने के बाद जानिए गर्मी को लेकर किसानों का क्या है प्लान
X

 दिल्ली में कड़ाके की सर्दी झेलने के बाद जानिए गर्मी को लेकर किसानों का क्या है प्लान

Farmers Protest: नये कृषि कानूनों को लेकर किसान 79 दिनों से आंदोलन कर रहे है। इस आंदोलन में किसान की संख्या बढ़ती जा रही है। वहीं दिल्ली के बॉर्डरों (Delhi Border) पर किसानों की बढ़ती संख्या को देखते हुये भारी सुरक्षाबल भी तैनात किये जा रहे है। दिल्ली के बॉर्डरों पर कड़ाके ठंड (Winter) और बारिश (Rain) झेलने के बाद अब बारी है भीषण गर्मी (Summer) से लड़ने की। जिसके लिए अभी से ही तैयारियां शुरू हो गई। क्योंकि आने वाले दिनों में दिल्ली और दिल्ली से सटे राज्यों में भीषण गर्मी पड़ती है। जो कि प्रदर्शनकारियों पर असर डाल सकती है। इसलिए गर्मी से लड़ने के लिए दिल्ली के बॉर्डरों पर कूलरों (Cooler) और पंखों (Fans) का इंतजाम किया जा रहा है।

आपको बता दें कि कुछ दिनों पहले किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि काले कानूनों को लेकर सरकार के खिलाफ आंदोलन लंबा चल सकता है। क्योंकि जब तक सरकार से काले कानूनों को रद्द नहीं कर लेते किसान घर वापसी नहीं जाएंगे। उधर, मौसम विभाग ने भी इस बार दिल्ली में भीषण गर्मी पड़ने को लेकर चेतावनी दे दी है। उन्होंने कहा कि राजधानी में तापमान तेजी से बढ़ने के साथ ही गर्मी बढ़ रही है।

वहीं, दिल्ली के बॉर्डरों पर किसानों के विरोध प्रदर्शन में लगे तिरपाल टेंट जल्द ही मच्छरदानियों के साथ बदल दिए जाएंगे, पंखे और कूलर भी ब्राज़ियर और गर्म रखने के लिए जलाने वाली आग की जगह ले लेंगे। वहीं पानी के टैंकरों की जगह वॉटर कूलर दिखाई देंगे। किसान नेताओं में इस बात को लेकर चिंता है कि गर्मी से प्रदर्शन की भीड़ में कमी आ सकती है जिसको लेकर वो तैयारियों में लगे हैं।

गाजीपुर बॉर्डर से भारतीय किसान यूनियन के नेता मन्नू त्यागी ने कहा कि कूलर और पंखे पहले ही ऑर्डर किए जा चुके हैं। हम उनके इस महीने के आखिर तक आने की उम्मीद करते हैं। गर्मियों के लिए हमें जिन अन्य वस्तुओं की आवश्यकता हो सकती है, वे भी खरीदी जा रही हैं। उन्होंने कहा कि प्रदर्शनकारियों की असुविधा को कम करने के लिए सभी इंतजाम किए जाएंगे, ताकि आंदोलन बिना किसी बाधा के जारी रहे। गाजीपुर के किसान यूनियनों ने वाटर कूलर, मच्छरदानी, प्लास्टिक शीट और समर टेंट के लिए भी आदेश दिए हैं। गुरुवार को, गाजीपुर सीमा पर मंच से घोषणा की गई, प्रदर्शनकारियों को आश्वासन दिया गया कि गर्मियों के लिए विरोध स्थल तैयार करने के लिए कदम उठाए जा रहे हैं। कहा गया कि हम सभी को आंदोलन को जारी रखने की आवश्यकता है।

Next Story