Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दिल्ली सरकार की इस योजना से बचाई गई 10 हजार से अधिक लोगों की जान, आप भी जानें

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने शनिवार को कहा कि सरकार की 'फरिश्ते दिल्ली के' योजना के तहत सजग नागरिकों ने अब तक 10,000 से अधिक लोगों की जान बचाई हैं। अक्टूबर 2019 में शुरू की गई यह योजना लोगों को सड़क दुर्घटनाओं (Road Accidents) में घायल होने वालों को बचाने के लिए प्रोत्साहित करती है।

दिल्ली सरकार की इस योजना से बचाई गई 10 हजार से अधिक लोगों की जान, आप भी जानें
X

दिल्ली सरकार की इस योजना से बचाई गई 10 हजार से अधिक लोगों की जान

दिल्ली सरकार (Delhi Government) की 'फरिश्ते दिल्ली के' (Farishtey Dilli Ke) योजना लोगों को काफी लाभ मिल रहा है। क्योंकि इस योजना से अब तक 10 हजार से अधिक लोगों की जान बचाई जा चुकी है। इसको लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री समेत कई मंत्रियों ने सोशल मीडिया (Social Media) पर ट्वीट (Twitter) कर लोगों से जानकारी साझा की हैं। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने शनिवार को कहा कि सरकार की 'फरिश्ते दिल्ली के' योजना के तहत सजग नागरिकों ने अब तक 10,000 से अधिक लोगों की जान बचाई हैं। अक्टूबर 2019 में शुरू की गई यह योजना लोगों को सड़क दुर्घटनाओं (Road Accidents) में घायल होने वालों को बचाने के लिए प्रोत्साहित करती है।

लोग आगे आकर कर रहे हैं एक दूसरे की मदद

केजरीवाल ने शनिवार को ट्वीट किया कि दिल्ली की फ़रिश्ते योजना में अब तक 10 हज़ार से ज्यादा लोगों की जान बचाई जा चुकी है। लोग आगे आकर एक दूसरे की मदद कर रहे हैं, सड़क दुर्घटना में घायल लोगों की मदद आप भी ज़रुर करें। किसी की ज़िंदगी बचाना पुण्य का काम होता है। उन्होंने दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन के एक ट्वीट को टैग किया, जिसमें उन्होंने इस योजना पर एक 'केस स्टडी' की वीडियो क्लिप साझा की थी। वहीं, दिल्ली सरकार में मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि मुहिम के तहत तक हम दिल्ली में 10635 से ज़्यादा दुर्घटना पीड़ितों की जान बचा चुके हैं। आप भी बन सकते हैं किसी के लिए फरिश्ता। सड़क दुर्घटना पीड़ितों को अस्पताल ले जाते हुए बिल्कुल संकोच ना करें। आपसे कोई पूछताछ नहीं की जाएगी।

अक्टूबर 2019 में शुरू की गई यह योजना

दिल्ली सरकार ने अक्टूबर 2019 में 'फरिश्ते दिल्ली के' योजना की शुरुआत की थी। इस योजना के तहत दिल्ली के सरकार अस्पताल के साथ निजी अस्पताल भी सड़क हादसे में घायल व्यक्ति का इलाज करने से मना नहीं कर सकते। दिल्ली के निजी अस्पतालों को सड़क दुर्घटना में घायल मरीज का कैशलेस इलाज करना होगा। फरिश्ते योजना को लॉन्च करने के बाद दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि दिल्ली सरकार हर दुर्घटना पीड़ित की जान बचाने के लिए प्रतिबद्ध है। सड़क हादसे में शिकार हर व्यक्ति के इलाज का खर्च भी दिल्ली सरकार उठाएगी।

Next Story