Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बिल्डर से विवाद के चलते डॉक्टर दंपति ने उठाया खौफनाक कदम, सुसाइड नोट में इन्हें बताया जिम्मेदार

प्रॉपर्टी विवाद में डॉक्टर दंपति ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली। उन्होंने यह खौफनाक कदम उठाने से पहले एक सुसाइड नोट भी लिखा है। पुलिस ने सुसाइड नोट कब्जे में लेकर मामले की जांच शुरू कर दी है।

बिल्डर से विवाद के चलते डॉक्टर दंपति ने उठाया खौफनाक कदम, सुसाइड नोट में इन्हें बताया जिम्मेदार
X

दिल्ली में पिछले कुछ समय से बिल्डर संग प्रॉपर्टी विवाद को लेकर परेशान चल रहे एक डॉ दंपति ने जहर खाकर आत्महत्या (Dr Couple Commit Suicide) कर ली। दोनों ने मिलकर एक सुसाइड नोट भी लिखा। इसका पता दंपत्ति के बेटे को माता पिता द्वारा फोन न उठाने पर पड़ोसी को अपने घर भेजने पर लगा। उसने दोनों पति पत्नी को कमरे में मृत अवस्था में पड़े देखा। उन्होंने तुरंत मामले की जानकारी पुलिस को दी। पुलिस ने सुसाइड नोट (Suicide Note) को कब्जे में शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मृतक पति पत्नी पेशे से डॉक्टर थे। वह हाल ही में दिल्ली स्थित कीर्ति नगर से ग्रेटर नोएडा की पैरामाउंट सोसाइटी में शिफ्ट हुए थे।

जानकारी के अनुसार, ग्रेटर नोएडा के सूरजपुर क्षेत्र के जीटा सेक्टर में स्थित पैरामाउंट सोसाइटी निवासी डॉक्टर सत्येंद्र सिंह निझावन (58 वर्ष) और उनकी पत्नी जसवंत कौर (56 वर्ष) ने जहरीला पदार्थ खाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस को आत्महत्या की जानकारी मृतक डॉक्टर दंपति के बेटे डॉ तरनप्रीत सिंह निझावन उर्फ तनु द्वारा ने दी। घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। डीसीपी ने बताया कि जांच के दौरान पुलिस को पता चला है कि दंपति मूल रूप से दिल्ली के कीर्ती नगर के रहने वाले हैं। कुछ समय पूर्व ही ये लोग ग्रेटर नोएडा में रहने आए थे। उन्होंने बताया कि इनका दिल्ली के कीर्ती नगर में किसी बिल्डर से संपत्ति को लेकर विवाद चल रहा था। उन्होंने बताया कि मृतकों ने एक सुसाइड नोट भी लिखा है, जिसमें उन्होंने कुछ लोगों पर उन्हें आत्महत्या करने के लिए मजबूर करने का आरोप लगाया है।

शिमला घूमने गया था बेटा

दंपति का बेटा डॉ तरनप्रीत बीएमएस डॉक्टर है। वह शिमला घूमने गया था। उसी के बाद घर में अकेले बचे माता पिता ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली। बेटे ने घर पर कॉल किया, लेकिन बार बार कॉल करने पर भी जब फोन नहीं उठा तो उसने मामले की जानकारी अपने पड़ोसी को दी। पड़ोसी ने घर के अंदर जाकर देखा तो डॉक्टर दंपति (Doctor Couple) अचेत अवस्था में पड़े थे। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस सभी पहलुओं को ध्यान में रखकर मामले की जांच कर रही है। जिन लोगों पर मृतकों ने आरोप लगाया है, उनसे पूछताछ की जा रही है।

और पढ़ें
Next Story