Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi Workers Strikes: MCD के खिलाफ कर्मचारियों में रोष, बकाया वेतन को लेकर कल से करेंगे हड़ताल

दिल्ली के एमसीडी के महापौरों ने यूनियनों के पदाधिकारियों से 30 नवंबर तक का समय मांगा है। उन्होंने कहा कि उनका प्रयास है कि दिसंबर के पहले सप्ताह तक उनका रुका हुआ वेतन जारी करा दिया जाएगा।

Delhi Workers Strikes: MCD के खिलाफ कर्मचारियों में रोष, बकाया वेतन को लेकर कल से करेंगे हड़ताल
X

 MCD के खिलाफ कर्मचारियों में रोष

दिल्ली में बयाका वेतन को लेकर कई संस्थाओं के कर्मचारी हड़ताल पर है। वहीं इन कर्मचारियों के वेतन को लेकर दिल्ली में राजनीति माहौल गर्म है। दिल्ली सरकार और दिल्ली में भाजपा शासित नगर निगम (एमसीडी) वेतन न देने को लेकर एक-दूसरे पर आरोप लगा रहे है। इसी सिलसिले में दिल्ली के तीनों नगर निगमों के कर्मचारियों ने वेतन न देने पर कल से हड़ताल पर जाने का फैसला किया है। इन कर्मचारियों के हड़ताल पर जाने से निगम शिक्षकों के हड़ताल पर जाने से ऑनलाइन शिक्षा का कार्य बाधित हो सकता है, निगम कार्यालयों में संपत्ति कर, गृहकर आदि से बंधित कार्य प्रभावित होग, काफी समय बाद शुरू हुए पार्कों की सफाई का कार्य बाधित होगा, जन्म, मृत्यु सहित अन्य प्रमाण पत्र बनाने का कार्य बाधित होगा, फैक्टरी लाइसेंसिंग, कार्यालय से जुड़ा फाइल वर्क सहित अन्य कार्य प्रभावित होगा आदि समस्या आ सकती है। यह फैसला महापौरों और यूनियनों के अधिकारियों के बीच बैठक के बाद लिया गया।

दिल्ली में इस बैठक में तीनों निगमों के महापौर जयप्रकाश, निर्मल जैन और अनामिका, तीनों निगमों के निगमायुक्त और तीनों निगमों की यूनियन के पदाधिकारी सहित अन्य लोग भी शामिल थे। बैठक में ऑल दिल्ली नगर निगम कर्मचारी भारतीय लोक हित मोर्चा के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष जुल्फिकार, सुपरवाइजनर सैनिटेशन यूनियन के पदाधिकारी मुकेश वैद्य, कंफेडरेशन की तरफ से एपी खान और शिक्षकों की यूनियनों के पदाधिकारियों ने महापौर और निगमायुक्तों के समक्ष वेतन का मुद्दा उठाया। दिल्ली में त्योहार का सीजन है और कुछ ही दिन बाद दिवाली है ऐसे में कर्मचारियों को वेतन न मिलने से वह काफी निराश है।

यूनियन नेताओं ने पूछा कि दीपावली से पहले निगम कर्मचारियों को ज्यादा से ज्यादा वेतन देने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में विकास कार्य में कोई पैसा नहीं मिला है। अधिकांश पैसा कोरोना और निगम कर्मचारियों के लिए ही जारी किया गया है। क्या वह कर्मचारियों की काली दीपावली मनवाना चाहते हैं। इस पर महापौर जयप्रकाश ने कहा कि ऐसा नहीं है। दिल्ली के एमसीडी के महापौरों ने यूनियनों के पदाधिकारियों से 30 नवंबर तक का समय मांगा है। उन्होंने कहा कि उनका प्रयास है कि दिसंबर के पहले सप्ताह तक उनका रुका हुआ वेतन जारी करा दिया जाएगा।

Next Story