Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi Unlock: दिल्ली में खुल सकता है वीकली बाजार, जानें और क्‍या मिलेंगी छूट

Delhi Unlock: दिल्ली में सोमवार से सभी वीकली बाजारों को खोलने की अनुमति दी जा सकती है। लेकिन इस दौरान कोविड गाइडलाइंस की सख्ती से पालन करना होगा। कोई भी लापरवाही होती है तो इसकी जवाबदेही डिस्ट्रिक्ट मैजिस्ट्रेट और एमसीडी के जोनल डिप्टी कमिश्नर को देना होगा।

Delhi Unlock: दिल्ली में खुल सकती है वीकली बाजार, जानें और क्‍या मिलेंगी छूट
X

 दिल्ली में खुल सकती है वीकली बाजार, जानें और क्‍या मिलेंगी छूट

Delhi Unlock दिल्ली में कोरोना (Delhi Coronavirus) के मामले लगातार कम हो रहे है। जिसे देखते हुए दिल्ली सरकार (Delhi Government) द्वारा अनलॉक (Unlock) की प्रक्रिया चल रही है। इसके मद्देनजर ज्यादातर गतिविधियों को छूट दी जा चुकी है। वहीं कुछ गतिविधियों को संक्रमण फैलने की आशंका को देखते हुए बंद ही रखा गया है। इस बीच, संभावना जताई जा रही है कि दिल्ली में सोमवार से सभी वीकली बाजारों (Weekly Markets) को खोलने की अनुमति दी जा सकती है। लेकिन इस दौरान कोविड गाइडलाइंस (Covid Guidelines) की सख्ती से पालन करना होगा। कोई भी लापरवाही होती है तो इसकी जवाबदेही डिस्ट्रिक्ट मैजिस्ट्रेट और एमसीडी के जोनल डिप्टी कमिश्नर को देना होगा।

इस बारे में दिल्ली आपदा प्रबंधन अथॉरिटी (डीडीएमए) आज साप्ताहिक बाजारों को खोलने की घोषणा कर सकता है। डीडीएमए की गाइडलाइंस के मुताबिक जिन जगहों पर साप्ताहिक बाजार लगाने को लेकर नियम बनाए गए हैं, उन्हीं जगहों पर बाजार लगे। इसके साथ ही 10वी से 12वीं के छात्रों को एडमिशन से जुड़े कामों को पूरा करने और काउंसलिंग व बोर्ड एग्जाम से जुड़े प्रैक्टिकल एक्टिविटीज के लिए अपने-अपने स्कूल जाने की भी मंजूरी दी जा सकती है।

ये साप्ताहिक बाजार पास के ग्राउंड्स, स्कूल ग्राउंड में लगाए जा सकते हैं। बाजारों में दुकानदार और खरीदने वालों के लिए आरटीपीसीआर व एंटीजन टेस्ट की व्यवस्था की गई है। अभी एमसीडी के हर जोन में एक दिन में केवल एक ही साप्ताहिक बाजार चलाने को भी मंजूरी है। दिल्ली में अभी रोड किनारे पर बाजार लगाने की अनुमति नहीं दी गई है। साप्ताहिक बाजार में केवल 50 दुकानदार ही सामान बेच सकते है। डीडीएमए और दिल्ली सरकार के इस फैसले से साप्ताहिक बाजार संगठन को राहत मिलने की उम्मीद है।

आपकों बता दें कि दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) की हुई बैठक में मौजूद रहे अधिकारियों ने बताया कि कोविड के नए मामलों में कमी के बीच सामान्य परिस्थितियों के मद्देनजर एक विस्तृत सीरो सर्वेक्षण कराए जाने का सुझाव दिया गया। उन्होंने कहा कि सर्वेक्षण के दौरान महामारी के विभिन्न स्वरूपों का निर्धारण करने और शहर के निवासियों के बीच अतिसंवेदनशील क्षेत्र की पहचान करने का कार्य किया जाएगा ताकि टीकाकरण को प्राथमिकता दी जा सके।

Next Story